लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने रालोद को दी 7 सीटें, गठबंधन रहेगा जारी

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Desk

Published : Jan 19, 2024, 5:00 PM IST

Updated : Jan 19, 2024, 5:18 PM IST

Etv Bharat

सपा नेता अखिलेश यादव और आरएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी(Akhilesh Yadav and Jayant Chaudhary) के बीच लखनऊ में मुलाकात हुई. अब दोनों पार्टियां मिलकर आगामी लोकसभा चुनाव में मैदान में उतरेंगी. दोनों पार्टियों के अध्यक्षों के बीच मीटिंग के बाद इस पर मुहर लग गई.

लखनऊ: आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोक दल का गठबंधन तय हो गया है. विधानसभा चुनाव के गठबंधन को आगे बढ़ाते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी के बीच लखनऊ में मुलाकात हुई. इसके बाद दोनों नेताओं ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन पर मुहर लगा दी. समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय लोकदल को लोकसभा के लिए सात सीटें देने का फैसला लिया है. इस पर आरएलडी ने हामी भर दी है. अब प्रदेश की सात सीटों पर राष्ट्रीय लोक दल के प्रत्याशी उतरेंगे, हालांकि अभी तक यह दोनों पार्टियों इंडिया गठबंधन में शामिल हैं. लेकिन कांग्रेस का क्या रुख होगा अभी इसके बारे में दोनों पार्टियों के नेता कुछ भी बता पाने में असमर्थ हैं.

बता दें कि 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोक दल के बीच गठबंधन हुआ था. समाजवादी पार्टी ने गठबंधन में राष्ट्रीय लोक दल को 33 सीटें दी थीं. चुनाव के बाद राष्ट्रीय लोक दल के आठ प्रत्याशी जीत हासिल करने में कामयाब हुए. इसके बाद छपरौली विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुआ इस पर भी समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय लोक दल को ही चुनाव मैदान में उतारा और प्रत्याशी जीत हासिल करने में कामयाब हुआ. कुल मिलाकर नौ विधायक राष्ट्रीय लोक दल के वर्तमान में हैं.

इसे भी पढ़े-अनिल राजभर बोले, राहुल गांधी को बाल की खाल खींचने की आदत हो गई, राम मंदिर विरोध करना दुर्भाग्यपूर्ण

सात सीटें आरएलडी को: कुल मिलाकर अब आगामी लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय लोक दल के सात प्रत्याशी मैदान में उतरेंगे. अन्य स्थानों पर राष्ट्रीय लोक दल के नेता समाजवादी पार्टी को सपोर्ट करेंगे. हालांकि यह दोनों पार्टियों इंडिया गठबंधन में शामिल हैं, लेकिन अभी तक इंडिया गठबंधन में सीटों का बंटवारा नहीं हो पाया है. लेकिन यह तय हो गया है कि अब 80 सीटों वाले उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की तरफ से 73 सीटें ही शेष रह गई हैं, क्योंकि सात सीटें आरएलडी के खाते में चली गई हैं.

आरएलडी ने मांगी थी एक दर्जन सीटें: राष्ट्रीय लोकदल ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी से लोकसभा चुनाव के लिए एक दर्जन सीटों की डिमांड की थी. पहले अखिलेश यादव ने आठ सीटें देने के लिए हामी भरी थी. लेकिन अब दोनों पार्टियों के अध्यक्षों की आपसी मुलाकात हुई, तो सात सीटों पर समझौता हो गया. इस पर दोनों पार्टियों सहमत भी हैं. लिहाजा, अब उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से शुरू हुआ सपा और आरएलडी का गठबंधन लोकसभा चुनाव में भी जारी रहेगा. राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे ने बताया कि अब सपा और रालोद मिलकर आगामी लोकसभा चुनाव में मैदान में उतरेंगी. समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय लोक दल को सात सीटें दे दी हैं. दोनों पार्टियों के अध्यक्षों के बीच मीटिंग के बाद इस पर मुहर लग गई है.

यह भी पढ़े-आचार्य प्रमोद कृष्णम बोले- ओवैसी में आती है जिन्ना की रूह; अखिलेश यादव गिरगिट हैं, सांप हैं, बिच्छू हैं, नेवला हैं ये....

Last Updated :Jan 19, 2024, 5:18 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.