NIT Hamirpur Student Death: 'मां-बाप बच्चों की डिग्रियां लेने जाते हैं, मुझे बेटे की लाश के लिए आना पड़ा'

author img

By ETV Bharat Himachal Pradesh Team

Published : Oct 23, 2023, 6:36 PM IST

Updated : Oct 23, 2023, 8:15 PM IST

Etv Bharat

एनआईटी हमीरपुर के छात्र की कथित ड्रग ओवरडोज से मौत मामले में मृतक के पिता ने गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होंने एनआईटी प्रशासन पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवालिया निशान खड़े किए हैं. उन्होंने कहा एनआईटी परिसर में मादक पदार्थ कैसे आ रहा है और यह सब कैसे हो रहा है, यह जांच का विषय है. (NIT Hamirpur Student Death) (Nit Hamirpur student dies from drug overdose)

एनआईटी हमीरपुर छात्र मौत मामला

हमीरपुर: माता-पिता बच्चों की डिग्रियां लेने के लिए शैक्षणिक संस्थानों में जाते हैं, लेकिन अपने मुझे बेटे की लाश लेने के लिए आना पड़ा. क्या कोई मां-बाप भरोसे से अब राष्ट्रीय स्तर के ऐसे संस्थानों में अपने बच्चों को भेज पाएंगे. एनआईटी हमीरपुर के हॉस्टल में कथित ड्रग ओवरडोज से सुजल शर्मा की मौत होने पर उनके पिता सुशील शर्मा ने ये बाते कही.

मामले में पुलिस ने छात्र के कमरे से चिट्टा बरामद किया है. साथ ही मामले में एक आरोपी को भी गिरफ्तार किया है. जिसके खिलाफ गैर इरादतन हत्या की धारा में केस दर्ज किया गया है. बताया जा रहा है कि चिट्टा के ओवरडोज से छात्र की मौत हो गई है. वहीं, बेटे की मौत से पंजगांई पंचायत के पूर्व प्रधान सुशील शर्मा पूरी तरह से टूट गए हैं. उनकी आंखों से आंसू सूख गए हैं.

बेटे की लाश लेने के लिए हमीरपुर पहुंचे सुशील शर्मा मीडिया के सवालों पर फूट-फूट कर रोने लगे. उन्होंने कहा जैसा मेरे साथ हुआ है, ऐसा किसी और के साथ न हो. माता-पिता बच्चों की डिग्री लेने के लिए आते हैं, लेकिन वह अपने बेटे की लाश लेने के लिए यहां पहुंचे हैं. आखिर राष्ट्रीय संस्थानों में माता-पिता किस भरोसे से अपने बच्चों को भेजेंगे? सुजल के पिता ने मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की. उन्होंने एनआईटी हमीरपुर प्रबंधन पर भी गंभीर आरोप लगाए.

सुजल के पिता सुशील शर्मा का कहना है कि रात को 9 बजे बेटे से उनकी बात हुई थी. सुजल एनआईटी के वार्षिक सांस्कृतिक उत्सव वेलफेयर में हिस्सा लेने के लिए गया था. सुजल के पिता ने बताया कि सुबह 4 बजे के करीब उनके बेटे के फोन पर किसी अज्ञात नंबर से कॉल आया था. सुबह उन्हें एनआईटी हमीरपुर की तरफ से यह जानकारी दी गई कि उनके बेटे की तबीयत बिगड़ गई है. हमीरपुर पहुंचने पर उन्हें पता चला कि बेटे की मौत हो गई है.

सुजल के पिता ने एनआईटी प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े किए हैं. एनआईटी परिसर के अंदर मादक पदार्थ कैसे पहुंच रहा है, यह सब कैसे हो रहा है? इस मामले की जांच होनी चाहिए और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए. वहीं, मामले में ईटीवी भारत के संवाददाता ने एनआईटी हमीरपुर प्रशासन से बात करने की कोशिश की, लेकिन किसी भी अधिकारी ने फोन नहीं उठाया.

बताया जा रहा है कि 3 दिनों से एनआईटी हमीरपुर में सालाना उत्सव हिल फेयर चल रहा था. देर रात तक स्टूडेंट्स उत्सव में हिस्सा ले रहे थे. बीते रविवार रात को अंतिम संध्या होने के चलते रात 11 बजे तक छात्रों ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया. बाद में सुबह चार बजे तक डीजे पर डांस किया. इस दौरान अचानक 4 बजे किसी गुमनाम व्यक्ति के फोन आने के बाद से सुजल गायब हो गया. जिसके बाद हॉस्टल के कमरे में वह मृत अवस्था में मिला.

जानकारी अनुसार छात्र देर रात कार्यक्रम में गया था. जिसके बाद वह देर रात अपने होस्टल लौटा और फिर सो गया. सुबह जब सुजल शर्मा को ब्रेक फास्ट के लिए उठाया गया तो वह नहीं उठा. जिसके बाद कॉलेज प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी. सूचना पर पुलिस अधिकारी और स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर पहुंची थी. छात्र को अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

ये भी पढ़ें: NIT हमीरपुर में 22 साल के स्टूडेंट की हेरोइन की ओवरडोज से मौत, सप्लायर गिरफ्तार, गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज

Last Updated :Oct 23, 2023, 8:15 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.