जू में सर्दी का सितम! बदला जानवरों का डाइट प्लान, भालू खा रहा शहद, बाघ-गुलदार के लिए भी विशेष इंतजाम

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 13, 2024, 6:10 PM IST

Updated : Jan 13, 2024, 9:49 PM IST

Etv Bharat

Diet plan of animals in zoo,Nainital Zoo पहाड़ों में पड़ रही कडाके की ठंड का असर चिड़ियाघरों में भी देखा जा रहा है. बढ़ती ठंड को देखते हुए जानवर का डाइट प्लान बदला गया है. नैनीताल जू में भालुओं को शहद और गुड़ दिया जा रहा है. बाघ और गुलदार की डाइट में भी बदलाव किया गया है.

जू में सर्दी का सितम

नैनीताल: मैदानी क्षेत्रों में पड़ रही कडाके की ठंड से आम आदमी और चिडियाघर में बंद बेजुबान भी परेशान हैं. ऐसे में नैनीताल जू में इन बेजुबानों को ठंड का अहसास ना हो, इसके लिये जू प्रबंधन ने जानवरों के लिए खास व्यवस्था की है. जिसके तहत चिड़िया घर प्रबंधन भालुओं को ठंड से बचाने के लिए विशेष तौर पर अतिरिक्त शहद और गुड़ दे रहा है. कैट फैमली के जानवरों को दिये जाने वाले प्रोटीन युक्त मांस की मात्रा भी बढ़ा दी गई है.

पक्षियों को दिए जा रहे अतिरिक्त मात्रा में अंडे: प्राणी उद्यान के पक्षियों को अतिरिक्त मात्रा में अंडे दिये जा रहे हैं, ताकि पक्षियों के शरीर में गर्मी बनी रहे. इसके अलावा जानवरों के लिये सर्द हवाएं भी बेहद मुसीबत खड़ी कर रही हैं. जिससे इन सर्द हवाओं से जानवरों को बचाने के लिये सभी बाड़ों को सुबह और शाम के वक्त हवा रोधी कपड़ों से ढ़का जा रहा हैं. साथ ही जू के कर्मचारियों द्वारा बास और तनों से चटाई बनाई जा रही है.

ये भी पढ़ें: कड़ाके की ठंड से राहत पाने के लिए मवेशी भी सेंक रहे आग, कोहरे और शीतलहर से लोग घरों में दुबके

घास की बनाई जा रही चटाई: हालांकि इस बार गर्म इलाके के जानवर जैसे बंगाल टाइगर को ठंड से बचाने के लिए बाड़ों में जू प्रबंधन द्वारा ब्लोअर का इंतजाम किया गया है. चिड़िया घर के रेंजर प्रमोद तिवारी ने बताया कि केन्द्रीय चिड़ियाघर अथॉरिटी के नियमों के आधार पर जानवरों को ठंड से बचाने के लिए बाड़ों में ब्लोअर,घास की चटाई की व्यवस्था की गई है. साथ ही जानवरों के आहार चार्ट में भी बदलाव किया गया है.
ये भी पढ़ें: उत्तराखंड में आज बदलेगा मौसम का मिजाज, बर्फबारी के साथ बारिश की आशंका, बढ़ेगी ठंड

Last Updated :Jan 13, 2024, 9:49 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.