अतिक्रमण के खिलाफ वन विभाग की बड़ी कार्रवाई, खाली करवाई 90 बीघा जमीन

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 10, 2024, 8:46 PM IST

Encroachment in Forest Land at Haridwar

Encroachment in Forest Land at Haridwar उत्तराखंड वन विभाग वन क्षेत्र में अतिक्रमण के खिलाफ लगातार अभियान छेड़े हुए हैं. अभी तक सैकड़ों हेक्टेयर भूमि से कब्जा हटवाया जा चुका है. इसी कड़ी में हरिद्वार के खानपुर रेंज में भी 90 बीघा जमीन से कब्जा हटवा कर वन विभाग की टीम ने वन भूमि को अपने कब्जे में लिया है.

देहरादूनः हरिद्वार वन प्रभाग के आरक्षित वन सिकरौड़ा क्षेत्र में अवैध रूप से भूमि पर अतिक्रमण के मामले में वनाधिकारियों ने बड़ी कार्रवाई की है. वन विभाग की टीम ने करीब 90 बीघा जमीन को लोगों से खाली करवाई है. जमीन को खाली करवाने के लिए उप प्रभागीय वनाधिकारी साधु लाल के नेतृत्व में टीम मौके पर पहुंची और पुलिस विभाग के साथ मिलकर इस पूरे क्षेत्र को खाली करवाया.

वन विभाग की मानें तो हरिपुर टौंगिया के कुछ लोग अतिक्रमण कर इस भूमि पर पिछले कई सालों से खेती कर रहे थे. अब वन विभाग की टीम भारी फोर्स के साथ अतिक्रमण को खाली करवा दिया है. इतना ही नहीं वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर भूमि के किनारों पर खाई भी खोदे हैं. साथ ही पौधे भी रोपित किए. हरिद्वार के डीएफओ नीरज शर्मा ने इस कार्रवाई की पुष्टि की है.

Haridwar Forest Encroachment
वन विभाग की टीम ने खाली करवाई अपनी जमीन
ये भी पढ़ें: हल्द्वानी में अतिक्रमण पर गरजी जेसीबी, ध्वस्त किए अवैध निर्माण, व्यवसायियों को दिया अल्टीमेटम

उधर, दूसरी तरफ प्रदेशभर में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर वन क्षेत्र में अतिक्रमण के खिलाफ लगातार कार्रवाई चल रही है. इसी के तहत वन विभाग की कब्जे वाली जमीनों को छुड़ाने के प्रयास हो रहे हैं. मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद बकायदा सीनियर आईएफएस अधिकारी पराग मधुकर धकाते को अतिक्रमण हटाने का नोडल अधिकारी नामित किया गया था.

वहीं, पूरे कार्रवाई के तहत राज्य में करीब 200 मजारों को वन क्षेत्र से हटाया गया. जबकि, अभी भी लगातार अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई जारी है. इस कार्रवाई की शुरुआत भी हरिद्वार से हुई. जिस पर नोडल अधिकारी पराग मधुकर धकाते कहते हैं कि अतिक्रमण की कार्रवाई को हटाने के लिए वन विभाग की टीम ने प्रयास किया है. इसके जरिए वन विभाग की 90 बीघा जमीन हटाई गई है.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.