देहरादून के बाद मसूरी में गुलदार का आतंक, डीएफओ ने खुद संभाला मोर्चा

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 17, 2024, 8:25 PM IST

Updated : Jan 17, 2024, 9:42 PM IST

Etv Bharat

Guldar terror in Mussoorie मसूरी में गुलदार के हमलों के बाद डीएफओ वैभव कुमार सिंह ने खुद मोर्चा संभाला है. उनके नेतृत्व में वन प्रभाग की दो टीमें घटनास्थलों के लिए रवाना की गई हैं. ये टीमें क्षेत्र में 24 घंटे मॉनिटरिंग करेगी.

देहरादून के बाद मसूरी में गुलदार का आतंक

मसूरी: मसूरी वन प्रभाग के अंतर्गत पिछले दिनों गुलदार के हमलों के बाद मसूरी वन प्रभाग के डीएफओ वैभव कुमार सिंह ने खुद मोर्चा संभाल लिया है. दरअसल डीएफओ के नेतृत्व में वन प्रभाग की दो टीमें क्षेत्र के लिए रवाना की गई हैं. जिससे पूर्व डीएफओ वैभव कुमार ने वन कर्मियों को जरूरी दिशा-निर्देश भी दिए हैं. कुछ दिनों से मसूरी वन प्रभाग रेंज में गुलदार की दस्तक से क्षेत्र वासियों में दहशत का माहौल है.

Guldar attacked
गुलदार के हमलों के बाद घटनास्थलों के लिए रवाना हुईं टीमें

गुलदार ने 5 वर्षीय बालक को अपना निवाला बनाया था. साथ ही एक युवक पर भी हमला किया था. जिसका इलाज मसूरी के दून अस्पताल में चल रहा है. इन घटनाओं के बाद मुख्यमंत्री धामी ने गुलदार द्वारा किये जा रहे हमले को लेकर चिंता जताई और वन विभाग के अधिकारियों को गुलदार से निपटने और लोगों को बचाने के लिये उचित कदम उठाने के निर्देश दिये थे.

डीएफओ मसूरी वैभव कुमार सिंह ने बताया कि पिछले दो सप्ताह से देहरादून मसूरी क्षेत्र के दो क्षेत्रों में गुलदार देखे जाने की घटना सामने आई है. दो बच्चों पर हमला भी किया गया है. इस घटना को ध्यान में रखते हुए वन विभाग ने पूरी तैयारी की है और दोनों क्षेत्रों में 24 कर्मियों की दो टीमें बनाकर रवाना की गई हैं. जिसमें एक टीम पुरूकुल सिंगली गांव क्षेत्र के लिए रवाना हुई, क्योंकि यहां पहली घटना हुई थी. ये टीम 24 घंटे मॉनिटरिंग करेगी. वहीं, दूसरी टीम को आईटी पार्क सहत्रधारा रोड पर तैनात किया गया है, क्योंकि यहां पर दूसरी घटना घटी है.

ये भी पढ़ें: भीमताल में पकड़ा गया बाघ निकला 3 महिलाओं का हत्यारा, अजय भट्ट ने टाइगर-गुलदार के सर्वे का दिया आदेश

वैभव कुमार सिंह ने बताया कि उनके द्वारा पुलिस के उच्च अधिकारियों से पत्रचार कर गुलदार की पुरानी वीडियो दिखाकर लोगों में भय फैलाने का प्रयास किया जा रहा है. ऐसे में लोगों के खिलाफ आईपीसी और आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज किये जाने का आग्रह किया गया है. उन्होंने लोगों से अपील की है कि गुलदार दिखने पर वो तुरंत वन विभाग को सूचना दे. जिससे वन विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंचकर उचित कार्रवाई कर सकें.

ये भी पढ़ें: देहरादून में गुलदार का आतंक, ट्रेंकुलाइज करने की मिली परमिशन, वन विभाग ने लगाये 40 कैमरे, बढ़ाई गई गश्त

Last Updated :Jan 17, 2024, 9:42 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.