उत्तरकाशी टनल हादसा 9वां दिन: सुरंग के ऊपर से रास्ता बनाने का काम जारी, साइट पर अंतरराष्ट्रीय एक्सपर्ट्स मौजूद, PM मोदी ने CM धामी से लिया फीडबैक

author img

By ETV Bharat Hindi Desk

Published : Nov 20, 2023, 10:46 AM IST

Updated : Nov 20, 2023, 6:29 PM IST

Etv Bharat

Uttarkashi Tunnel Collapse 9th Day उत्तरकाशी के सिलक्यारा सुरंग में फंसे हुए 41 श्रमिकों को बचाने के लिए जारी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने सीएम पुष्कर सिंह धामी से राहत-बचाव कार्य को लेकर फोन पर बात की. बताते चलें कि टनल में फंसे लोगों के रेस्क्यू कार्य की पीएम मोदी लगातार फीडबैक ले रहे हैं और केंद्र से हर संभव मदद का भरोसा दिया है.

देहरादून (उत्तराखंड): उत्तरकाशी के सिलक्यारा टनल में चल रहे राहत बचाव कार्यों का आज 9वां दिन है. लेकिन अभी तक राहत बचाव टीम को कोई सफलता नहीं मिल पाई है. जिसके चलते जहां एक ओर टनल में फंसे 41 मजदूर परेशान हो रहे हैं. फिलहाल, टनल में ड्रिलिंग का काम चल रहा है. सुरंग के ऊपर से सड़क बनाई जा रही है. ड्रिलिंग करके करीब 1200 मीटर की अस्थायी सड़क बनाने का प्लॉन है. रविवार शाम तक 900 मीटर सड़क बना ली गई थी. बताया जा रहा है कि आज ये काम पूरा हो जाएगा. घटनास्थल पर केंद्र व राज्य सरकार के बड़े अधिकारी मौजूद हैं. वहीं, बाहर उनका इंतजार कर रहे परिजनों का सब्र का बांध भी टूटता नजर आ रहा है.

साइट पर पहुंचे इंटरनेशनल एक्सपर्ट्स: इंटरनेशनल टनलिंग अंडरग्राउंड स्पेस प्रोफेसर के अध्यक्ष अर्नोल्ड डिक्स भी सिल्क्यारा सुरंग हादसे की साइट पर पहुंचे हैं. राहत व बचाव कार्य में शामिल अंतरराष्ट्रीय टनलिंग विशेषज्ञ अर्नोल्ड डिक्स भी अपनी पूरी टीम के साथ मौजूद हैं. उनका कहना है कि यहां सभी लोग मिलकर बेहतर काम कर रहे हैं. यहां की टीम शानदार है. सभी लोगों को बाहर निकाला जाएगा. उन्होंने बताया कि, बचाने वाले व बचाए जाने वाले सभी लोग सुरक्षित हैं. अच्छा भोजन और दवाएं ठीक से उपलब्ध कराई जा रही हैं. वहीं, अर्नोल्ड डिक्स ने घटनास्थल पर पहुंचने के बाद टनल के मुख्य द्वार पर बने मंदिर में पूजा-अर्चना भी की.

  • #WATCH | Uttarkashi (Uttarakhand) tunnel rescue operation | International Tunneling Expert, Arnold Dix says "It is looking good, but we have to decide whether it is actually good or is it a trap. It is looking very positive as we have the best experts in Himalayan geology with… pic.twitter.com/IcnmHjGfRw

    — ANI (@ANI) November 20, 2023 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

इसके साथ ही टनल में फंसे श्रमिकों को निकालने के लिए चल रहे राहत बचाव कार्यों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बातचीत की. प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से आवश्यक बचाव उपकरण और जरूरी संसाधन उपलब्ध कराए जा रहे हैं. केंद्र और राज्य की एजेंसियों के बीच लगातार समन्वय से श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा. लेकिन अभी फंसे हुए श्रमिकों का मनोबल बनाए रखने की जरूरत है.
पढ़ें-उत्तरकाशी टनल हादसा: कैसे बचेगी 41 मजदूरों की जान, जानिए रेस्क्यू ऑपरेशन का प्लान, 6 विकल्पों पर काम शुरू

मुख्यमंत्री ने वर्तमान स्थिति की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य और केंद्रीय एजेंसियां लगातार समन्वय और तत्परता के साथ राहत-बचाव कार्य में जुटी हुई हैं. टनल में फंसे सभी श्रमिक सुरक्षित हैं और ऑक्सीजन, पौष्टिक भोजन के साथ ही पानी उपलब्ध करवाया जा रहा है. इसके साथ ही मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकलने के लिए एक्सपर्ट्स की राय लेकर एजेंसियां काम कर रही हैं. सीएम ने बताया कि उन्होंने खुद मौके पर जाकर स्थलीय निरीक्षण किया है और चल रहे रेस्क्यू कार्य पर नजर बनाए हुए हैं. स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौके पर तैनात कर दी गई है.
पढ़ें-'41 श्रमिकों की जान से साथ प्रयोग की किसी को नहीं इजाजत', रेस्क्यू ऑपरेशन पर उठे सवाल, यशपाल आर्य ने बोला हमला

  • #WATCH | Uttarkashi (Uttarakhand) tunnel rescue operation | International Tunneling Expert, Arnold Dix says "We are going to get those men out. Great work is being done here. Our whole team is here and we are going to find a solution and get them out. A lot of work is being done… https://t.co/ta5cXfBRyv pic.twitter.com/Mfwkxu5UbJ

    — ANI (@ANI) November 20, 2023 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

साथ ही, मुख्यमंत्री ने पीएम मोदी से कहा कि सुरंग के अंदर फंसे सभी 41 मजदूर सुरक्षित हैं, और उन्हें जल्द से जल्द बाहर निकलने की पूरी कोशिश की जा रही है. बता दें कि, इस घटना के बाद से अभी तक तीन बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद मुख्यमंत्री से बातचीत कर वास्तविक स्थिति की जानकारी ले चुके हैं. पीएमओ की टीम भी मौके का निरीक्षण कर चुकी और लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं.

बता दें उत्तरकाशी के सिलक्यारा टनल में करीब 41 मजदूरों के फंसे होने की घटना को नौ दिन बीत चुके हैं. लेकिन अभी तक मजदूरों को रेस्क्यू करने में सफलता नहीं मिल पाई है. तमाम रेस्क्यू टीमें मजदूरों को सकुशल बाहर निकालने के लिए जद्दोजहद में लगी हैं.

Last Updated :Nov 20, 2023, 6:29 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.