अयोध्या में साधु-संतों के रहने, खाने और प्रसाद का पूरा इंतजाम: महंत रवींद्र पुरी

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Desk

Published : Jan 19, 2024, 3:37 PM IST

ट्रस्ट के आह्वान पर 4000 साधु संतों के रहने और 20000 प्रसाद के पैकेट बांटने की व्यवस्था करेगा गुजरात की भगवा सेना भारत

अयोध्या में 4000 साधु-संतों के रहने और 20,000 प्रसाद पैकेट बांटने की व्यवस्था गुजरात की भगवा सेना भारत करेगी. इस बात की जानकारी अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत रवींद्र पुरी (Akhara Parishad President Mahant Ravindra Puri) ने दी.

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत रवींद्र पुरी

अयोध्या: प्रभु श्री राम के स्वागत में पलक पांवड़े बिछाकर इंतजार कर रही अयोध्या नगरी में इस समय आयोजनों की भरमार लगी हुई है. हर जगह भंडारे और सांस्कृतिक कार्यक्रम हो रहे हैं. तमाम अनुरोध और बंदिशों के बावजूद राम भक्त बड़ी संख्या में अयोध्या में पहुंच चुके हैं. इन राम भक्तों को कोई समस्या न हो, इसके लिए विभिन्न संगठन रहने और भोजन की व्यवस्था (Accommodation and prasad arrangement in Ayodhya) कर रहे हैं.

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा आमंत्रित साधु-संतों और श्रद्धालुओं के लिए विशेष इंतजाम किये गये हैं. भगवा सेना भारत गर्वी गुजरात संत सेवा समिति 4000 लोगों के रहने और खाने-पीने की व्यवस्था कर रही है. अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत रवींद्र पुरी ने कहा 20 हजार प्रसाद के पैकेट संस्था ट्रस्ट को देगी.

संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमल भाई रावल ने बताया कि श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय और राजेंद्र सिंह पंकज ने उन्हें दायित्व दिया था. रामलला की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव समारोह में आने वाले साधु-संतों की सेवा के लिए उन्हें व्यवस्था करनी है. इसके लिए उदासीन संगत ऋषि आश्रम रानुपाली के महंत डॉ. भरत दास महाराज ने 4000 अतिथियों के रहने की व्यवस्था की है.

इसके अलावा 20 हजार प्रसाद के पैकेट दिये जाएंगे. इसमें दो लड्डू, पवित्र सरयू के जल की बोतल, दो कलावा, सुपारी और अक्षत होगी. ये पैकेट श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सौंपे जाएंगे. इन पैकटों को प्रसाद के रूप में अतिथियों और राम भक्तों को दिया होगा. लड्डू और प्रसाद परिसर में ही तैयार किया जा रहा है. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत रवींद्र पुरी ने इस आयोजन की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी. उन्होंने कहा कि संतों की सदियों की प्रतीक्षा 22 जनवरी को पूरी हो रही है.

ये भी पढ़ें- मुंबई की शबनम शेख महोबा पहुंची, पैदल चलकर भगवान राम के दरबार में लगाएंगी हाजिरी

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.