घना कोहरा और बूंदाबांदी से जनजीवन अस्त-व्यस्त, हाड़ कंपाने वाली ठंड में स्कूल जाने को मजबूर बच्चे, 50 मीटर रही विजिबिलिटी

author img

By ETV Bharat Jharkhand Desk

Published : Jan 18, 2024, 10:47 AM IST

Updated : Jan 18, 2024, 11:03 AM IST

Visibility reduced due to dense fog in Jharkhand

Dense fog in Jharkhand. झारखंड ठंड और कोहरे की चपेट में है. घना कुहासा होने की वजह से विजिबिलिटी काफी कम है. इससे हवाई और रेल यातायात पर असर पड़ा है. इसके साथ ही ठंड की वजह से लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है.

जानकारी देते मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद

रांची: बिहार - उत्तर प्रदेश से सटे जिलों के साथ साथ लगभग पूरा झारखंड घने कोहरे की चपेट में है. मौसम केंद्र, रांची के मौसम पूर्वानुमान वैज्ञानिक उपेंद्र श्रीवास्तव के अनुसार आज सुबह रांची एयरपोर्ट के पास की विजिबिलिटी महज 50 मीटर के करीब थी, जिसमें दिन चढ़ने के साथ साथ कुछ सुधार होने की संभावना है.

सिर्फ 50 मीटर थी रांची में विजिबिलिटीः मौसम केंद्र, रांची के अनुसार दोपहर बाद विजिबिलिटी सामान्य हो जाने की उम्मीद जताई गई है. घने और मध्यम दर्जे की कोहरे की वजह से हवाई और रेल यातायात ओर व्यापक असर पड़ा है. मुम्बई, दिल्ली, बेंगलुरु से आने वाली सभी उड़ानों को विलंबित किया गया है, वहीं कुछ उड़ान को रांची की जगह भुवनेश्वर में लैंडिंग कराया गया है. यही स्थिति ट्रेनों की है. उत्तर भारत और पड़ोसी राज्य बिहार-उत्तर प्रदेश से चलने वाली ज्यादातर ट्रेनें विलंबित हैं. खराब मौसम के बावजूद स्कूल परिचालन को लेकर स्थानीय प्रशासन या शिक्षा विभाग द्वारा कोई फैसला नहीं लिए जाने की वजह से सुबह सुबह विकट मौसम में भी बच्चे स्कूल जाने को मजबूर हैं. घने कोहरे को देखते हुए मौसम केंद्र, रांची के कार्यकारी निदेशक अभिषेक आनंद ने गाड़ी धीरे चलाने की सलाह दी है. खराब मौसम के चलते बच्चों और बुजुर्गों को स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतने को कहा है.

छिटपुट बारिश की संभावनाः मौसम केंद्र, रांची के अनुसार आसमान में बादल छाए रहने की वजह से राज्य के ज्यादातर जिलों में न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी हुई है. बावजूद इसके लोगों को ठंड का अहसास ज्यादा इसलिए लिए हुआ है क्योंकि अधिकतम तापमान में गिरावट आई है. मौसम केंद्र के अनुसार पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक तापमान पश्चिम सिंहभूम में रिकॉर्ड किया गया है, जबकि सबसे कम तापमान गुमला जिले में रहा.

आइये जानते हैं अन्य मुख्य शहरों में कितना रहा न्यूनतम तापमानः पिछले 24 घंटों में राज्य में मौसम प्रायः शुष्क रहा है. पश्चिमी सिंहभूम में जहां सबसे अधिक तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ है. वहीं सबसे कम डिग्री सेल्सियस तापमान गुमला का रहा है. रांची का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस, जमशेदपुर का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस, डाल्टनगंज का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस, बोकारो का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस, चतरा का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस, देवघर का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस, धनबाद का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस और हजारीबाग का न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस रहा है.

ये भी पढ़ेंः

झारखंड में ठंड का प्रकोपः कोहरे के कारण कम हुई विजिबिलिटी, रेल और हवाई यातायात पर असर

झारखंड के इन जिलों में कोहरे से नए वर्ष की पहली सुबह की शुरुआत, येलो अलर्ट जारी

बारिश के साथ होगा नए साल का स्वागत, झारखंड के कई जिलों में होगी हल्की बूंदा-बांदी

Last Updated :Jan 18, 2024, 11:03 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.