नमो बुक बैंक की बढ़ रही लोकप्रियता से रांची सांसद खुश, आम लोगों से पुरानी किताबें दान करने की अपील

author img

By ETV Bharat Jharkhand Desk

Published : Jan 9, 2024, 3:53 PM IST

http://10.10.50.75//jharkhand/08-January-2024/jh-ran-02-sansad-sanjay-seth-7209874_08012024155921_0801f_1704709761_84.jpg

Namo book bank in Ranchi.गरीब विद्यार्थियों के लिए रांची सांसद संजय सेठ के द्वारा शुरू किया गया नमो बुक बैंक की लोकप्रियता काफी बढ़ गई है. अब तक हजारों विद्यार्थियों को बुक बैंक का लाभ मिला है. सांसद ने आम लोगों से पुरानी किताबें दान करने की अपील की है.

नमो बुक बैंक की बढ़ती लोकप्रियता की जानकारी देते रांची सांसद संजय सेठ और विधायक सीपी सिंह.

रांची: किताबों के अभाव में पढ़ाई से वंचित रहने वाले युवाओं के लिए रांची सांसद संजय सेठ के द्वारा की गई बुक बैंक जैसी अनोखी पहल अब रंग लाने लगी है. ऐसे युवाओं के लिए खोली गई बुक बैंक में विगत तीन वर्षों में 19000 परिवारों ने 2 लाख, 75000 से अधिक पुस्तकें देकर गरीब विद्यार्थियों को इसका लाभ पहुंचाने का काम किया है. बुक बैंक के तीन वर्ष पूरे होने पर रांची सांसद संजय सेठ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब बुक बैंक के बारे में जाना तो काफी सराहना की और हमें उनसे काफी कुछ प्रेरणा भी मिली. बुक बैंक के अलावे पीएम मोदी के ही प्रेरणा से बच्चों के लिए खिलौना बैंक खोला गया है. जिसमें करीब एक लाख खिलौने लोगों के द्वारा प्राप्त हुए हैं.

20 पुस्तकों से शुरू हुआ था बुक बैंक, वर्तमान में हैं लाखों किताबेंः इस बुक बैंक के जरिए ना केवल रांची, बल्कि हजारीबाग, गिरिडीह, गुमला, खूंटी, रामगढ़, लातेहार, पलामू जैसे जिले के विद्यार्थियों को भी लाभ पहुंचाने की कोशिश की गई है. ऐसे जिलों के विद्यार्थी जो रांची में रहकर अपनी पढ़ाई कर रहे हैं वह तो इसका लाभ ले ही रहे हैं, इसके अलावे अन्य जिलों में रहने वाले विद्यार्थी भी इस बुक बैंक के जरिए किताबें लेकर पढ़ाई कर रहे हैं. रांची सांसद संजय सेठ के अनुसार बुक बैंक के माध्यम से 80 हजार से अधिक विद्यार्थी सीधे रूप से जुड़े हैं और यह लगातार आगे भी जारी रहेगा.

विधायक सीपी सिंह ने सांसद की पहल को सराहाः वहीं इस मौके पर भाजपा विधायक सीपी सिंह ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि महंगाई के इस दौर में किताबें भी महंगी मिल रही हैं. ऐसे में गरीब बच्चों को किताब खरीदना बेहद ही परेशानी भरा काम है. ऐसे में यह बुक बैंक उनको सहायता पहुंचाने का काम कर रही है. उन्होंने स्थानीय सांसद संजय सेठ के इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि यह बुक बैंक अब एक साइकिल का रूप ले चुका है. जहां पर विद्यार्थी अपने पूर्ववर्ती कक्षाओं की किताबें लाकर देते हैं और नई कक्षाओं की किताबें लेकर जाते हैं.

ये भी पढ़ें-

रांची सांसद संजय सेठ ने हेमंत सरकार के कामकाज पर उठाए सवाल, केंद्र पर दोष मढ़ने के बजाय अपनी कार्यशैली सुधारने की दी नसीहत

रोजगार मेला में झारखंड सहित देशभर के 51 हजार युवाओं को सरकारी नौकरी, केन्द्रीय मंत्री की मौजूदगी में प्रदेश के 161 युवाओं को मिला नियुक्ति पत्र

रोजगार मेला: सरकारी नौकरी में झारखंड से चयनित 147 में से 25 को मिला नियुक्ति पत्र, खिला अभ्यर्थियों का चेहरा

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.