पलामू में माइंस से ढुलाई शुरू कराने गयी प्रशासनिक टीम पर पथराव, कई पुलिसकर्मी घायल, सड़क टूटने से नाराज ग्रामीण

author img

By ETV Bharat Jharkhand Team

Published : Dec 11, 2023, 8:48 PM IST

Stone pelting on police in Palamu

Stone pelting on police in Palamu. पलामू में माइंस से ढुलाई शुरू कराने गयी प्रशासनिक टीम पर पथराव ग्रामीणों ने पथराव किया है. इससे कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. ग्रामीण सड़क टूटने से नाराज हैं और सड़क बनाने की मांग कर रहे हैं.

पुलिस पर पथराव

पलामू: खदान चालू कराने गयी प्रशासनिक टीम पर पथराव किया गया है. इस घटना में एक महिला और दो अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गये हैं. घटना के बाद प्रशासनिक टीम ने बल प्रयोग भी किया. दरअसल, यह घटना पलामू के नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र के झरहा गांव की है.

झरहा इलाके में पत्थर खदान कंपनी और ग्रामीणों के बीच विवाद चल रहा है. विवाद के बाद पत्थर खदानों से उत्पादन बंद हो गया है. खदानें खोलने के लिए दंडाधिकारी तैनात किये गये थे. सोमवार को झरहा क्षेत्र की खदानों से उत्पादन शुरू कराने के लिए मजिस्ट्रेट बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ गये. लेकिन सैकड़ों ग्रामीण महिलाओं ने माइंस जाने वाले हाइवा को रोक दिया. ग्रामीणों ने मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पथराव किया, जबकि प्रशासनिक टीम ने हल्का बल प्रयोग किया. ग्रामीणों की भीड़ और हंगामा को देखते हुए प्रशासनिक टीम माइंस से वाहनों के साथ वापस लौट गयी है. नौडीहा बाजार थाना प्रभारी अमन कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि मामले की जांच की जा रही है.

ग्रामीण सड़क निर्माण की कर रहे मांग: दरअसल, झरहा इलाके में ग्रामीण सड़क निर्माण की मांग कर रहे हैं. हाइवा चलने के कारण ग्रामीण सड़क पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी है. गांव में एंबुलेंस व स्कूली वाहन नहीं पहुंच पा रहे हैं, जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है. ग्रामीणों का कहना है कि खदानों में चलने वाले वाहनों के कारण सड़क क्षतिग्रस्त हो गयी है. जब तक सड़क नहीं बनेगी, हाइवा गांव से होकर नहीं गुजरेगा. हाइवा की आवाजाही के कारण धूल और अन्य गंदगी भी उनके घरों में प्रवेश कर जाती है. यह रास्ता गांव के बीच में है जबकि खदानों से दूसरा रास्ता भी है लेकिन उससे परिवहन नहीं हो रहा है.

कुछ महीनों पहले हुई थी झड़प: नौडीहा बाजार के झरहा इलाके में खदान शुरू करने को लेकर कई सप्ताह से तनाव की स्थिति है. कुछ माह पहले भी ग्रामीणों और खदान संचालकों के बीच झड़प हुई थी. इस झड़प में खदान संचालकों ने अपने हथियारों का प्रदर्शन भी किया था. घटना के बाद दोनों ओर से प्राथमिकी भी दर्ज करायी गयी. दो दिन पहले ग्रामीणों ने सड़क को लोहे के बैरिकेड से बंद कर दिया था. रविवार को प्रशासनिक टीम ने बैरिकेडिंग उखाड़ दी थी, जिसके बाद तनाव बढ़ गया.

यह भी पढ़ें: धनबाद में सड़क जाम के दौरान वाहनों में तोड़फोड़ और पथराव, हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग

यह भी पढ़ें: मूर्ति विवाद फिर गहराया, लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

यह भी पढ़ें: Villagers Attacked on Police in Pakur: दो गुटों के विवाद में ग्रामीणों का पुलिस पर पथराव, जमादार घायल

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.