10 दिनों से जनरेटर के सहारे चल रहा डायलिसिस सेंटर, दांव पर मरीजों की जिंदगी

author img

By ETV Bharat Jharkhand Desk

Published : Jan 12, 2024, 6:39 PM IST

Updated : Jan 12, 2024, 6:54 PM IST

Dialysis center in dhanbad

Dialysis center running with generator. धनबाद में स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर प्रशासन कितना जिम्मेदार है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि डायलिसिस सेंटर में 10 दिनों से बिजली नहीं है. पूरा सेंटर जनरेटर के सहारे चल रहा है और मरीजों की जिंदगी दांव पर लगी हुई है.

10 दिनों से जनरेटर के सहारे चल रहा डायलिसिस सेंटर

धनबाद: सदर अस्पताल में डायलिसिस मरीजों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है. डायलिसिस में आ रही कठिनाई के कारण उनकी स्थिति बिगड़ रही है. कठिनाई इसलिए हो रही है क्योंकि डायलिसिस सेंटर में पिछले दस दिनों से बिजली नहीं है.

धनबाद के सदर अस्पताल में डायलिसिस सेंटर फिलहाल जनरेटर पर निर्भर है. जनरेटर पर अधिक दबाव न पड़े इसके लिए भी एहतियात बरता जा रहा है, ताकि जान बचाने के लिए जो व्यवस्था मरीजों को मिल रही है. वह कहीं ध्वस्त ना हो जाए. एक मरीज को चार घंटे की जगह दो से तीन घंटे ही डायलिसिस दिया जा रहा है. जिस कारण मरीजों की स्थित बिगड़ रही है.

डायलिसिस सेंटर के इंचार्ज मो हुसैन ने बताते हैं कि कि पिछले दस दिनों बिजली आपूर्ति में आई खराबी के कारण जनरेटर से कार्य लिया जा रहा है. जिस कारण डायलिसिस में थोड़ा कम समय दिया जा रहा है. जनरेटर खराब ना हो और सेवा सुचारू रहे इसके लिए जनरेटर पर कम दबाव दिया जा रहा है. कंपनी के अधिकारी और सिविल सर्जन को मामले की जानकारी दे दी गई है.

वहीं इस मामले में सिविल सर्जन डॉ सीवी प्रतापन ने कहा कि डायलिसिस सेंटर पीपीपी मोड पर चल रहा है. सेंटर की फाइल अभी तक नहीं मिली है. फाइल मिलने के बाद ही इसपर आगे कुछ किया जा सकता है. हालांकि वह मानते हैं कि यह एक लाइफ सेविंग है. डायलिसिस नहीं होने से मरीजों की जान तक जा सकती है.

ये भी पढ़ें:

भतीजी की जान बचाने के लिए गुहार लगा रहा चाचा, राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स के पास नहीं है दवा, जानिए क्या है पूरा मामला

हजारीबाग में खराबी का दंश झेल रहे 15 एंबुलेंस, दुरुस्त कर दोबारा सड़क पर दौड़ाने का किया जा रहा प्रयास!

उद्घाटन के 24 घंटे में खुली 108 न्यूनेटल एंबुलेंस सेवा की पोल, ऑक्सीजन की कमी से नवजात की मौत!

झारखंड के सरकारी अस्पतालों में मेडिकल जांच के नाम पर 250 करोड़ का घोटाला! पूर्व ऊर्जा मंत्री ने की जांच की मांग

Last Updated :Jan 12, 2024, 6:54 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.