गैंगस्टर अमन सिंह हत्याकांडः गोली चलाने वाले के साथ दो अन्य के नाम आए सामने, चर्चित हत्या के मामले में जेल में बंद हैं दोनों

author img

By ETV Bharat Jharkhand Desk

Published : Dec 5, 2023, 7:13 PM IST

Crime Two more names emerged in investigation of gangster Aman Singh murder case in Dhanbad jail

Investigation of gangster Aman Singh murder case. धनबाद जेल में गैंगस्टर अमन सिंह हत्याकांड की जांच में दो और नाम सामने आए हैं. ये दोनों हत्या के मामले में धनबाद मंडल कारा में बंद हैं.

ईटीवी भारत की ग्राउंड रिपोर्टः धनबाद जेल में गैंगस्टर अमन सिंह हत्याकांड की जांच में दो और नाम सामने आए

धनबादः रविवार 3 दिसंबर 2023 को जेल के अंदर गैंगस्टर अमन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस मामले की गोली चलाने वाले रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो को रिमांड पर लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है. सोमवार को जेल आईजी उमा शंकर सिंह और सीआईडी आईजी असीम विक्रांत मिंज धनबाद पहुंचे. मंगलवार को भी दोनों धनबाद में ही हैं, उनके द्वारा जांच पड़ताल कर विस्तृत रिपोर्ट तैयार की जा रही है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वारदात के दौरान सिर्फ रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो ही नहीं मौजूद था बल्कि उसके साथ दो कैदी और थे. सूत्रों ने जेल के अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज के बारे में जो जानकारी दी है. उसके मुताबिक सुंदर महतो के हाथ में पिस्टल थी जबकि दो अन्य कैदी विकास साव और अमर रवानी भागते हुए नजर आ रहे हैं. सूत्रों के द्वारा बताई गयी सीसीटीवी फुटेज के अनुसार रेल अस्पताल के पहले तल्ले के कोने में अमन सिंह अपने बेड पर मौजूद था. जेल के अंदर नीचे के कॉरिडोर में कैदियों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुई थी. इस विवाद के सुलझाने में जेल के कर्मी जुटे थे. इस भीड़ में सुंदर महतो, विकास साव और अमर रवानी भी मौजूद था लेकिन भीड़ जुटने के बाद तीनों मौका देखकर वहां से निकल गए. सीढ़ियों के रास्ते तीनों जेल अस्पताल के पहले तल्ले पर पहुंचे, जहां अमन सिंह बेड पर था. उन्होंने खिड़की से अमन के ऊपर फायरिंग की. जिसके बाद वह बेड पर ही गिरा रहा गया और उसकी मौत हो गई. जेल में फायरिंग की आवाज सुनकर अन्य कैदी भी मौके पर दौड़ते हुए पहुंच गए. कैदियों ने मिलकर तीनों की जमकर पिटाई कर दी, तीनों का इलाज जेल अस्पताल में किया गया.

कौन हैं दोनों, जिनके नाम सामने आएः जेल के अंदर वारदात के दौरान सुंदर के साथ दिखाई देने वाला विकास साव ने सतीश सिंह हत्याकांड मामले में साल 2021 में न्यायालय सरेंडर किया था. बीजेपी धनबाद प्रखंड अध्यक्ष सतीश सिंह की दिनदहाड़े 19 अगस्त 2020 को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसमे सतीश साव शूटर की भूमिका में था. वह कुस्तौर का रहने वाला है. वहीं अमर रवानी चर्चित जमीन कारोबारी लाला हत्याकांड का आरोपी है. हत्या समेत कई अन्य मामले उसके ऊपर दर्ज हैं. 13 से 14 अलग अलग मामले न्यायलय में चल रहे हैं. पूर्व में यह अमन सिंह के लिए काम किया करता था लेकिन हाल ही में वह आशीष रंजन उर्फ छोटू के संपर्क में आया था. मिली जानकारी के अनुसार गोली चलाने वाले जिस सुंदर महतो से पुलिस पूछताछ कर रही है. असल में उसका नाम रोहित यादव बताया जा रहा है और वह यूपी का रहनेवाला है.

इसे भी पढ़ें- धनबाद जेल में शूटर अमन सिंह हत्याकांड की एसआईटी से होनी चाहिए जांच, हाई कोर्ट ने बड़ी साजिश की जताई आशंका, जेल आईजी से मांगी रिपोर्ट

इसे भी पढ़ें- गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या के बाद जेलों में बढ़ी सुरक्षा, धारदार चाभी भी हो रहा जमा, चार जेलों में विशेष सतर्कता

इसे भी पढ़ें- गैंगस्टर अमन सिंह को गोली मारने वाला 9 दिन ही पहले ही चोरी के आरोप में आया था जेल, बड़ी साजिश का हो सकता है खुलासा

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.