सिरमौर में जेसीबी ऑपरेटर के मर्डर मामले में यूपी से बाप-बेटा गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला

author img

By ETV Bharat Himachal Pradesh Desk

Published : Oct 12, 2023, 8:20 PM IST

murder case of JCB operator in Sirmaur

सिरमौर पुलिस ने शंभूवाला क्षेत्र में जेसीबी ऑपरेटर के मर्डर केस को सुलझा लिया है. जिसकी जानकारी एसपी सिरमौर रमन कुमार मीणा ने दी है. पढ़ें पूरी खबर... (Sirmaur JCB Operator Murder Case).

नाहन: सिरमौर जिला मुख्यालय नाहन से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर शंभूवाला क्षेत्र में जेसीबी ऑपरेटर के सनसनीखेज मर्डर की गुत्थी को पुलिस ने वारदात के करीब 48 घंटे में ही सुलझाने में कामयाबी हासिल की है. नाहन पुलिस ने मामले में यूपी के खतौली से रिश्ते में बाप-बेटा को गिरफ्तार किया है, हत्या को किन कारणों की वजह से अंजाम दिया गया. इसको लेकर पुलिस जांच कर रही है, इस सिलसिले में वीरवार देर शाम एसपी सिरमौर रमन कुमार मीणा ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए मामले से जुड़ी जानकारी को विस्तार से साझा किया.

ये भी पढ़ें- Dharamshala Cyber Crime: साइबर क्रिमिनल ने टेलीग्राम के जरिए रचा ठगी का नया खेल, 26 लागों से की 70 लाख की ठगी

एसपी रमन कुमार मीणा ने बताया कि गत 11 अक्तूबर को विजय कुमार निवासी गांव किशन कोट, डाकघर राजबन, तहसील पांवटा साहब ने पुलिस थाना सदर नाहन में शिकायत दर्ज करवाई थी कि यह चार भाई है, उसका एक भाई मदन लाल उर्फ काका करीब एक वर्ष से ठेकेदार अंकुश बंसल की जेसीबी चलाता था. वर्तमान में वह मक्कड़वाली के पास शंभूवाला से कून रोड पर काम कर रहा था. ठेकेदार की लेबर पुल के साथ बने टीन के शेडों में रह रहा है और शिकायतकर्ता का भाई मदन भी वहीं रहता था. गत 10 अक्टूबर देर शाम को पुलिस थाना सदर नाहन की टीम ने इस संदर्भ में मदन के भाई शिकायकर्ता विजय कुमार को मामले की सूचना दी. सूचना के मुताबिक मक्कड़वाली के पास मदन लाल के साथ लडाई-झगड़ा हुआ है, यह सूचना मिलने के बाद शिकायकर्ता अपने परिवार के लोगों के साथ मौके पर पहुंचा, तो देखा कि उसका भाई मदन लाल पुल पर मृत अवस्था में पड़ा हुआ था.

ये भी पढ़ें- Rape Case In Una: भाई ने 16 साल की नाबालिग बहन को बनाया हवस का शिकार

एसपी ने बताया कि मौके पर मृतक मदन लाल के शव का निरीक्षण किया गया, तो उसके मुंह, गले व सिर पर चोटें लगई थी और मृतक का मोटरसाइकिल भी सड़क के साथ ही खड़ा था. इसके बाद शिकायकर्ता करीब पौने 2 बजे रात तक अपने भाई की मौत और उसके साथ की गई मारपीट के बारे में ठेकेदार के पास काम कर रहे अन्य लोगों विशाल कुमार, अमन आदि से पता किया, तो उसे मालूम हुआ कि अंकुश बंसल के पास काम कर रहे नरेश व उसके बेटे ललित ने उसके भाई के साथ पहले ठेके के पास झगड़ा किया, इसके बाद पुल पर किसी औजार से हमला कर उसकी हत्या कर दी, इस घटना के बाद दोनों आरोपी मोटरसाइकिल पर मौके से फरार हो गए, एसपी ने बताया कि पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत पर 11 अक्तूबर को आईपीसी की धारा 302 व 34 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया और तुरंत मामले की जांच शुरू कर दी.

एसपी मीणा ने बताया कि जांच के दौरान पुलिस टीम ने दोनों आरोपियों नरेश व उसके बेटे ललित निवासी बसयाच, जिला मुजजफ्फरनगर को यूपी के खतौली गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी पिछले डेढ़ वर्ष से अंकुश बंसल के पास काम कर रहे थे. आरोपियों ने इस हत्याकांड को किन कारणों से अंजाम दिया. इसको लेकर पुलिस मामले की जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि हत्या की इस गुत्थी को सुलझाने वाली पुलिस टीम में सब इंस्पेक्टर राजेंद्र सिंह, एएसआई महीपाल, हेडकांस्टेबल रोहित कुमार, कांस्टेबल नीतिश कुमार व रोबिन कल्याण शामिल थे.

ये भी पढ़ें- Theft cases in Una: ऊना जिले में एक ही रात में 9 जगहों पर चोरी, किसानों की लाखों की मशीनरी और उपकरणों पर शातिरों ने किए हाथ साफ

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.