अयोध्या के लिए नहीं मिला इनविटेशन, लेकिन राम हम सभी के आस्था के प्रतीक, उनके आदर्शों पर चलना हम सबका दायित्व- CM सुक्खू

author img

By ETV Bharat Himachal Pradesh Desk

Published : Dec 31, 2023, 7:50 PM IST

Sukhvinder Singh Sukhu

Ayodhya Ram Mandir: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा है कि अयोध्या में राम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा के लिए अभी निमंत्रण नहीं मिला है, लेकिन मर्यादा पुरुषोत्तम राम हम सबके आस्था के प्रतीक हैं. पढ़ें पूरी खबर...

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू

शिमला: हिमाचल प्रदेश के सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा है कि अयोध्या ने राम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा में आने के लिए निमंत्रण नहीं मिला है. उन्होंने कहा कि भगवान हम सभी के आस्था के प्रतीक हैं. उनके रास्ते में चलना सभी का दायित्व है. सुक्खू ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण गौरव की बात है. मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा है कि अयोध्या में राम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा के लिए अभी निमंत्रण नहीं मिला है, लेकिन मर्यादा पुरुषोत्तम राम हम सबके आस्था के प्रतीक हैं. उनके दिखाए गए रास्तों पर चलना सभी का दायित्व है. वहीं, सीएम ने दिल्ली दौरे को लेकर कहा कि इसकी भूमिका कैबिनेट की बैठक में तय होगी. इसके बाद ही इस बारे में कुछ कहा जा सकता है. सीएम सुक्खू ने नववर्ष के आगमन पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं भी दी हैं.

हिमाचल के इतिहास में पहली बार कराया विंटर कार्निवाल: सीएम सुक्खू ने कहा कि हिमाचल और शिमला के इतिहास में पहली बार विंटर कार्निवाल का आयोजन किया गया है. इसका उद्देश्य है कि नए साल में पर्यटकों का स्वागत किया जा सके. उन्होंने कहा की विंटर कार्निवाल का मकसद हिमाचल की संस्कृति का प्रचार और प्रसार करना है. इसके साथ यहां की वेशभूषा और व्यंजनों का भी पर्यटक लुत्फ उठा सके.

सीएम ने कहा कि पर्यटक ही नहीं शिमला की जनता भी विंटर कार्निवाल का आनंद ले रही है. मानसून सीजन में हिमाचल का पर्यटन कारोबार पटरी से उतर गया था, लेकिन विंटर कार्निवाल के आयोजन से पर्यटन को बढ़ावा मिला है. उन्होंने कहा की विंटर कार्निवल का आयोजन 4 जनवरी तक होगा. अगले तीन महीनों में प्राकृतिक आपदा से उभर कर हिमाचल फिर से अपने पैरों पर खड़ा होगा.

हिमाचल में खरीदे जाएंगे इलेक्ट्रिक वाहन: सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि हिमाचल को ग्रीन स्टेट बनाने की दिशा में सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. उन्होंने कहा कि सभी सरकारी विभागों में 1 जनवरी 2024 से केवल इलेक्ट्रिक वाहन खरीदे जाएंगे. पेट्रोल और डीजल के वाहनों को केवल कैबिनेट की अप्रूवल के बाद ही खरीदा जाएगा. पर्यावरण संरक्षण की दिशा में सरकार के निर्णय काफी सार्थक होगा.

ये भी पढ़ें- रोहड़ू के चिड़गांव में 2 मंजिला मकान जलकर राख, आग लगने के कारणों का लगाया जा रहा है पता

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.