गगल एयरपोर्ट विस्तारीकरण को लेकर डीसी ने की बैठक, पुनर्वास के लिए तैयार होगा मास्टर प्लान

author img

By ETV Bharat Himachal Pradesh Desk

Published : Dec 29, 2023, 9:23 PM IST

Kangra DC Nipun Jindal ON Gaggal Airport Expansion

गगल एयरपोर्ट विस्तारीकरण को लेकर पुनर्वास के लिए मास्टर प्लान तैयार हो रहा है. कांगड़ा डीसी डॉ. निपुण जिंदल ने कहा है कि कांगड़ा के गगल एयरपोर्ट विस्तारीकरण से प्रभावित होने वाले परिवारों के पुनर्वास के लिए कारगर कदम उठाए जाएंगे, इसके लिए एसडीएम कांगड़ा और एसडीएम शाहपुर जमीन की ज्वाइंट इंस्पेक्शन करने के निर्देश दिए गए हैं. पढ़ें पूरी खबर..

धर्मशाला: कांगड़ा उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल की अध्यक्षता में गगल एयरपोर्ट विस्तारीकरण को लेकर बैठक आयोजित की गई. इस बैठक में उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि कांगड़ा जिला के कांगड़ा एयरपोर्ट के विस्तारीकरण से प्रभावित होने वाले परिवारों के पुनर्वास के लिए कारगर कदम उठाए जाएंगे. इसके लिए एसडीएम कांगड़ा और एसडीएम शाहपुर जमीन की ज्वाइंट इंस्पेक्शन करने के निर्देश दिए गए हैं. ताकि प्रभावित परिवारों का व्यवस्थित तरीके से पुनर्वास हो सके.

उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि विभिन्न सरकारी विभागों के 22 के करीब भवन और अन्य आधारभूत ढांचे हैं, जिसमें सड़कें, पेयजल पाइप लाइन, विद्युत ट्रासफार्मर भी विस्तारीकरण क्षेत्र में आ रहे हैं. विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि इन आधारभूत ढांचों को आवश्यकतानुसार नई जगह पर तैयार करने के लिए वैकल्पिक प्लान भी तैयार करें. ताकि प्रभावित लोगों को आवश्यक सुविधा उपलब्ध करवाई जा सके. उन्होंने कहा कि प्रभावित परिवारों के पुनवार्सित करने की जगह पर सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाना भी सुनिश्चित किया जाएगा.

जिंदल ने कहा कि विस्तारीकरण की जद में आने वाले स्कूलों, आंगनबाड़ी केंद्रों, स्वास्थ्य केंद्रों, पशु औषधालयों और पंचायत घरों की रिपोर्ट भी तैयार की गई है. संबंधित विभागीय अधिकारियों को इस बारे में जानकारी दे दी गई है. ताकि आवश्यक कदम उठाए जा सकें. उन्होंने कहा कि प्रभावितों के पुनर्वास के लिए भूमि का निरीक्षण करने के पश्चात सभी सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए हिमुडा को डिटेल मैप तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं.

जिंदल ने कहा कि कांगड़ा एयरपोर्ट के विस्तारीकरण में आठ पंचायतों के 14 राजस्व गांवों की भूमि अधिग्रहित करना प्रस्तावित है. इसमें राजस्व गांव रच्छियालु, जुगेहड़, भड़ोल, कयोड़िया, बाग, बल्ला, बरसवालकड़, भेड़ी, ढुगियारी खास, गगल खास, झिकली इच्छी, मुगरहाद, सहौड़ा, सनौरा शामिल हैं. उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि भूमि अधिग्रहण को लेकर भवनों, फलदार पौधों, पेंड़ों और फसलों का मूल्यांकन कार्य अंतिम चरण में है. इसमें आउटसोर्स एजेंसी के साथ-साथ राजस्व, उद्यान, वन और कृषि विभाग के कर्मचारी भी शामिल रहे हैं. उन्होंने कहा कि लोगों के सामाजिक हित किसी भी स्तर पर प्रभावित नहीं हों इस के लिए सामाजिक सर्वेक्षण भी करवाया गया है.

ये भी पढ़ें: एचआरसी ड्राइवर-कंडक्टरों ने रेस्ट डे बंद किए जाने का किया विरोध, डीएम पर लगाया दुर्व्यवहार करने का आरोप, बस सेवा बंद

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.