व्यापारी से एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने का मामला, फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

author img

By

Published : Aug 5, 2023, 1:19 PM IST

extortion from businessman in faridabad

व्यापारी से एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने के मामले में फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर पुलिस ने रिमांड पर लिया.

फरीदाबाद: व्यापारी से एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने के मामले में फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पूछताछ में पता चला है कि एक आरोपी पहले व्यापारी के यहां सफाईकर्मी था. काम से निकाल दिए जाने की वजह से आरोपी रंजिश रखने लगा और साजिश के तहत उसने फिरौती की योजना बनाई. पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से दो मोबाइल फोन तथा दो सिम कार्ड बरामद किए हैं.

ये भी पढ़ें- Ballabhgarh News: बियर उधार न देने पर बदमाशों ने शराब ठेकेदार को पीटा, CCTV वीडियो आया सामने

दो आरोपी गिरफ्तार: फरीदाबाद क्राइम ब्रांच 48 के प्रभारी राकेश सिंह ने बताया कि व्यापारी से एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान सत्यप्रकाश और मोनू उर्फ मोटा के रूप में हुई है. आरोपी सत्यप्रकाश सिम कार्ड बेचता है और आरोपी मोनू सफाईकर्मी है. दोनों आरोपी नई दिल्ली के संगम विहार एरिया के रहने वाले हैं.

व्यापारी से मांगी थी फिरौती: 30 जुलाई 2023 को सूरजकुंड थाने में फिरौती की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था. शिकायतकर्ता ने बताया कि दिल्ली में उसकी प्लाईवुड की दुकान है. 29 जुलाई को शाम करीब 8 बजे उसके पास एक फोन आया. जिसमें आरोपियों ने व्यापारी से 1 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी. आरोपी ने बताया कि वो दीपक तीतर बोल रहा है. फिरौती नहीं देने की सूरत में आरोपी ने व्यापारी और उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दी.

इसके बाद अगले दिन सुबह दूसरे नंबर से फिर एक कॉल आई. जिसमें दूसरे आरोपी ने उससे फिर से फिरौती मांगी और फिरौती नहीं देने की सूरत में जान से मारने की धमकी दी. शिकायतकर्ता ने इसके बाद थाने में अपनी शिकायत दी और थाने में मुकदमा दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू की गई. क्राइम ब्रांच की टीम ने मामले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. मामले में गहनता से पूछताछ के लिए दोनों आरोपियों को 2 दिन की पुलिस रिमांड पर लिया गया.

पुलिस रिमांड के दौरान सामने आया कि आरोपी मोनू पहले व्यापारी के कार्यालय में सफाई का काम करता था. करीब 1 वर्ष पहले कार्यालय कर्मियों की आरोपी के साथ सफाई को लेकर बहस हो गई. जिसके पश्चात आरोपी मोनू को काम से निकाल दिया गया. काम से निकाले जाने के पश्चात आरोपी व्यापारी के साथ रंजिश रखने लगा और इसी रंजिश के तहत उसने व्यापारी से फिरौती मांगने की योजना बनाई. जिसमें उसके दो अन्य साथी और शामिल थे.

ये भी पढ़ें- Haryana Burning: फरीदाबाद में 20 से 25 नकाबपोश बदमाशों ने घर में की तोड़फोड़, धार्मिक स्थल पर हमले की कोशिश नाकाम

आरोपियों ने योजना के तहत दिल्ली के संगम विहार से तीन मोबाइल फोन खरीदे और आरोपी सत्य प्रकाश से 7 एक्टिवेटेड सिम कार्ड लिए और योजना के तहत अलग-अलग स्थानों से व्यापारी को फोन करके फिरौती मांगी और पैसा नहीं देने की सूरत में जान से मारने की धमकी दी. मामले में दोनों का एक साथी फरार चल रहा है. जिसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.