Encounter in Faridabad: फरीदाबाद में एनकाउंटर मामले में क्राइम ब्रांच के खिलाफ एफआईआर दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला?

author img

By ETV Bharat Haryana Desk

Published : Sep 20, 2023, 10:29 AM IST

FIR registered against crime branch in Faridabad

Encounter in Faridabad फरीदाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ मामले में मृत युवक के परिजनों के हंगामे के बाद पुलिस ने क्राइम ब्रांच के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है. वहीं, परिजनों की मांग है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. (FIR registered against Faridabad crime branch Faridabad encounter case)

फरीदाबाद में मुठभेड़ मामले में क्राइम ब्रांच के खिलाफ FIR.

फरीदाबाद: हरियाणा के फरीदाबाद में एनकाउंटर मामले में पुलिस ने क्राइम ब्रांच के इंचार्ज राकेश सहित अन्य टीम के सदस्यों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है. युवक के एनकाउंटर मामले को पुलिस आरोपी द्वारा पुलिस टीम पर फायरिंग करने के बाद अपने बचाव में गोली चलाने की थ्योरी बता रही थी. हत्या का मामला पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज होने पर जब मुजेसर के एसीपी सुधीर तनेजा मीडिया पर अपनी खीझ उतारते हुए नजर आए. क्या है पूरा मामला आइए जानते हैं...

ये है पूरा मामला: बता दें कि पावटा गांव निवासी बबलू के खिलाफ पुलिस में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. परिजनों के अनुसार बबलू अपने साथियों के साथ 2 दिन पहले मोहन राम के दर्शन के लिए घर से निकला था. बाद में परिजनों को सूचना मिली कि पुलिस ने बबलू को गोली मारी है, जिसके बाद उसकी मौत हो गई. इस मामले में पुलिस का कहना था कि बबलू ने पहले पुलिस टीम पर फायरिंग की थी, जिसके बाद जवाबी फायरिंग में बबलू की गोली लगने के कारण मौत हो गई.

FIR registered against crime branch in Faridabad
एनकाउंटर मामले में क्राइम ब्रांच के खिलाफ एफआईआर दर्ज.

ये भी पढ़ें: Police Encounter in Faridabad: फरीदाबाद में पुलिस और बदमाशों में मुठभेड़, एक बदमाश की गोली लगने से मौत, 2 गिरफ्तार

फरीदाबाद में एनकाउंटर मामले में क्राइम ब्रांच के खिलाफ एफआईआर दर्ज: वहीं, परिजनों ने इस बात का विरोध करते हुए 2 दिनों तक मृतक के शव को नहीं लिया और पंचायत कर फैसला लिया गया कि पुलिस ने बबलू की हत्या की है. इसके बाद पुलिस ने क्राइम ब्रांच के इंचार्ज राकेश कुमार और उनकी टीम के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया. परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने उसकी गोली मारकर जानबूझकर हत्या की है. हत्या का मुकदमा दर्ज होने के बाद परिजन मृतक के शव को अंतिम संस्कार के लिए ले गए. परिजनों का आरोप है कि बबलू के साथ पुलिस ने उसके 2 दोस्तों को भी गिरफ्तार किया था, लेकिन बाद में उनसे गलत बयानबाजी करा कर दोनों को छोड़ दिया गया.

FIR registered against crime branch in Faridabad
एनकाउंटर मामले में क्राइम ब्रांच के खिलाफ एफआईआर दर्ज.

एनकाउंटर मामले में क्या कहते हैं एसीपी: वहीं, जब इस संबंध में मीडिया ने एसीपी मुजेसर सुधीर तनेजा से बात करने की कोशिश की तो वे मीडिया पर अपनी खीझ उतारते हुए नजर आए. उन्होंने कहा कि 'पुलिस का मामला है और वह इस पर नहीं बोलेंगे.'

ये भी पढ़ें: Nuh Violence: नूंह हिंसा के मामले में पुलिस की धरपकड़, अब तक 3 मुठभेड़, निशाने पर आरोपियों के पैर

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.