राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले रायपुर का फूल बाजार हुआ गुलजार, खिले फूल व्यापारियों के चेहरे

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Jan 19, 2024, 4:10 PM IST

Updated : Jan 19, 2024, 5:42 PM IST

Raipur flower market

Customers Crowd Raipur Flower Market: अयोध्या में रामलला की मूर्ति की प्राणप्रतिष्ठा से पहले रायपुर का फूल मार्केट गुलजार है. मुंह मांगी कीमत में ग्राहक फूल खरीद रहे हैं.

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले रायपुर का फूल बाजार हुआ गुलजार

रायपुर: अयोध्या में भगवान श्री राम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होनी है. इससे पहले पूरे देश में भक्तिमय माहौल है. फूलों के बाजार में भी पहले से लोग बुकिंग कर रहे हैं. राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा को लेकर रायपुर का फूल बाजार भी पिछले एक सप्ताह से गुलजार हो गया है. फूलों की डिमांड भी फूल बाजार में पहले की तुलना में बढ़ गई है. सबसे ज्यादा डिमांड गेंदा फूल की है. यह सजावट के साथ ही माला बनाने के भी काम आता है. फूल दुकानदारों को कई मंदिरों को सजाने के लिए बुकिंग आनी भी शुरू हो गई है. रायपुर में लगभग 20 लाख रुपए के फूल के कारोबार होने की उम्मीद है. पूरे प्रदेश में बात की जाए तो लगभग एक करोड़ रुपए के फूल का कारोबार हो सकता है.

जानिए क्या कहते हैं फूल व्यापारी: ईटीवी भारत की टीम ने रायपुर के फूल व्यापारियों से बातचीत की. बातचीत के दौरान एक फूल व्यापारी ने बताया कि, "लोग अपने-अपने तरीके से मंदिर और अपने घरों में फूल और माला खरीद रहे हैं. 21 और 22 जनवरी को फूलों की डिमांड और भी ज्यादा हो जाएगी. अभी तक फुल दुकानदार हर दिन एक ट्रक फूल मंगाते थे, लेकिन 22 जनवरी को देखते हुए फूल दुकानदार 4 ट्रक फूल का आर्डर दिए हैं. फूल दुकानदार 22 जनवरी के दिन को मिनी दिवाली के रूप में देख रहे हैं. फूल दुकानदार बताते हैं कि हिंदू राष्ट्र में लोग मंदिरों को सजाने के लिए खास तौर पर गेंदा फूल की माला और गेंदा फूल की लड़ी से मंदिरों को सजाएंगे."

21 जनवरी की रात तक सज जाएगा हर एक मंदिर: फूल दुकानदारों की मानें तो मंदिरों को सजाने के लिए लोग अभी से फूल बुक करना शुरू कर दिए हैं. 21 जनवरी की देर रात तक मंदिरों को पूरी तरह से फूलों से सजा कर देना होगा. वैसे तो गेंदा फूल की सप्लाई रायपुर में कोलकाता से होती है. हर दिन एक ट्रक गेंदा फूल की सप्लाई होती है. लेकिन 22 जनवरी को देखते हुए चार से पांच ट्रक गेंदा फूल का आर्डर दिया हुआ है. फूल बेचने वाले दुकानदार हैदराबाद, बेंगलुरु और पुणे से भी फूल मंगा रहे हैं, जिससे बुके बनाया जाएगा. केसरिया पीला और चंदैनी गेंदे के फूल से घर और मंदिरों में सजावट होगी.

जानिए कब होगी रामलला के मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा: ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक त्रेता युग में प्रभु श्री राम का जन्म अभिजीत मुहूर्त में हुआ था. 22 जनवरी सोमवार के दिन मृगशीर्ष नक्षत्र में अभिजीत मुहूर्त का संयोग बन रहा है. ऐसे में इस दिन अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12:11 से 12:54 तक रहने वाला है. यही कारण है कि इस तिथि को रामलाल की प्राण प्रतिष्ठा के लिए चुना गया है. इसके साथ ही यह भी माना जा रहा है कि इस शुभ मुहूर्त में रामलाल की प्राण प्रतिष्ठा करने से प्रभु श्री राम सदैव मूर्ति के अंदर विराजमान रहेंगे.

अयोध्या राम मंदिर से सामने आई रामलला की मूर्ति की पहली तस्वीर, करिए दर्शन
रामलला की प्राण प्रतिष्ठा पर 22 जनवरी को छत्तीसगढ़ में आधे दिन की छुट्टी
राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा चौथा दिन LIVE : सामने आई रामलला की मूर्ति की नई तस्वीर, सीएम योगी ने भी दरबार में लगाई हाजिरी
Last Updated :Jan 19, 2024, 5:42 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.