अब घर बैठे बनाएं अपना आयुष्मान कार्ड, क्या है आवेदन करने की प्रक्रिया, जानिए

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Team

Published : Nov 29, 2023, 7:49 AM IST

Updated : Nov 29, 2023, 10:50 AM IST

Ayushman Scheme

Ayushman Scheme आयुष्मान भारत योजना के तहत पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड दिया जाता है. इस कार्ड को दिखाकर पात्र व्यक्ति सार्वजनिक और संबद्ध निजी अस्पतालों में पांच लाख रुपये तक का फ्री इलाज करा सकता है. अगर आपका आयुष्मान कार्ड नहीं बना है, तो इसे बनवा लें. आयुष्मान कार्ड कैसे बनवायें, इसकी जानकारी हम आगे आपको देने जा रहे हैं. Ayushman Bharat Yojana

आयुष्मान कार्ड के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

अंबिकापुर: बीमार होने पर सरकार प्राइवेट अस्पतालों में होने वाले खर्च के लिए आयुष्मान भारत योजना चला रही है. इसमे एक परिवार को साल में 50 हजार और गरीबी रेखा के नीचे वाले परिवारों को 5 लाख तक के इलाज की व्यवस्था है. केंद्र सरकार ने इस योजना की शुरुआत साल 2018 में की थी. अब इस योजना को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना नाम से जाना जाता है. इस योजना के तहत सरकार पात्र परिवारों को 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा देती है.

आयुष्मान कार्ड के लिए ऐसे करें आवेदन: अब आप खुद से आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं. इसके लिए आपको अपने मोबाइल पर आयुष्मान कार्ड ऐप डाउनलोड करना होगा. जिसमें आप घर बैठे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. सबसे पहले आप सरकार की वेबसाइट पर जाकर चेक कर लें कि आप इस योजना के लिए पात्र हैं या नहीं. अगर उस लिस्ट में आपका नाम है, तो आप आयुष्मान कार्ड ऐप के जरिए कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

मोबाइल ऐप पर आवेदन करने की प्रक्रिया: सबसे पहले आयुष्मान कार्ड ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कर लीजिए. इसके बाद ओटीपी, फिंगरप्रिंट या फेस-आधारित वेरीफिकेशन की मदद से रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को पूरा करें. फिर अपने राज्य, जिला, आधार नंबर डालते ही यह पता चल जाएगा कि आप इस योजना का लाभ लेने लायक हैं या नहीं. अगर आप योग्य होंगे तो आगे का फॉर्म भरने के लिए ऑप्शन खुल जाएगा और इसमे जानकारी भर कर आप आयुष्मान कार्ड के लिये अप्लाई कर सकते हैं.

इन दस्तावेजों का होना है जरूरी: छत्तीसगढ़ में हर लोक सेवा केंद्र या सरकारी अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड निशुल्क बनाया जाता है. इसके साथ ही प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग समय समय पर शिविर के माध्यम से भी गांव मोहल्ले तक पहुंच कर आयुष्मान कार्ड बनाते हैं. आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए आपके पास राशन कार्ड, आधार कार्ड, निवास प्रमाण-पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो, पैन कार्ड आदि दस्तावेजों का होना जरूरी बताया गया है.

"इस योजना का कार्ड बनवाने के लिये आपके पास राशन कार्ड होना चाहिये, आधार कार्ड और आधार से लिंक फोन नंबर होना चाहिये. क्योंकी जब फिंगर प्रिंट लेते हैं तो ओटीपी लिंक नम्बर पर जाता है. परिवार के हर सदस्य का आधार लिंक फोन नम्बर होना चाहिये. इसमे एक एपीएल परिवार को 50 हजार तक और बीपीएल परिवार को 5 लाख तक का इलाज निशुल्क किया जाता है. सरकार ने आयुष्मान भव एप्लिकेशन शुरु किया है जिसे आप अपने मोबाइल में डाउनलोड करके भी इसे बनवा सकते हैं" - पुष्पेंद्र राम, डीपीएम हेल्थ, सरगुजा

देशभर के संबद्ध अस्पतालों में करा सकेंगे इलाज: आयुष्मान गोल्डन कार्ड देशभर में 13,000 से भी ज्यादा सरकारी और निजी अस्पतालों में मान्य है. आयुष्मान कार्ड ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों तरीकों से बनवाया जा सकता है. इस कार्ड के जरिए कैंसर और हार्ट रोग जैसी गंभीर बीमारियों का भी इलाज कराया जा सकता है. इस योजना के तहत करीब 1500 बीमारियों की इलाज की सुविधा दी जाती है. इस योजना में पुरानी और नई सभी बीमारियों के इलाज को शामिल किया गया है.

सरकार ने जारी कि आयुष्मान कार्ड बनवाने की गाइडलाइन
अब चॉइस सेंटर में भी बनेगा आयुष्मान कार्ड, विधानसभा अध्यक्ष व स्वास्थ्य मंत्री ने किया शुभारंभ
स्मार्ट कार्ड और आयुष्मान भारत योजना का मिलेगा लाभ
Last Updated :Nov 29, 2023, 10:50 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.