तिहाड़ जेल के कैदी की इलाज के दौरान मौत, परिजनों ने जेल के अंदर जहर देने का लगाया आरोप

author img

By ETV Bharat Delhi Desk

Published : Feb 7, 2024, 2:22 PM IST

तिहाड़ जेल के कैदी की इलाज के दौरान मौत

Jail prisoner dies during treatment: दिल्ली में तिहाड़ जेल में एक कैदी की मौत इलाज के दौरान दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में हो गई. बताया जा रहा है कि 2 फरवरी को कैदी को अस्पताल में भर्ती किया गया था. परिजनों का आरोप है कि कैदी को जेल के अंदर जहर खिलाया गया, जिससे उसकी मौत हो गई.

तिहाड़ जेल के कैदी की इलाज के दौरान मौत

नई दिल्ली: तिहाड़ जेल के एक और कैदी की मौत का सनसनीखेज मामला सामने आया है. घटना 6 फरवरी की है.अब तक मिली जानकारी के अनुसार तिहाड़ जेल नंबर 3 में बंद कैदी को इलाज के लिए 2 फरवरी को दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल लाया गया था जहां उसकी मौत हो गई. कैदी के परिजन जहां जेल में कैदी को जहर देकर मारने का आरोप लगा रहे वही तिहाड़ प्रशासन ने चुप्पी साध रखी है.

तिहाड़ जेल के कैदी की मौत परिजनों का गंभीर आरोप : तिहाड़ जेल के एक कैदी की दीनदयाल अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. कैदी की मौत को लेकर मृतक कैदी के परिजन जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगा रहे है. साथ ही उनका यह भी कहना है की जेल में उसे किसी ने जहर दे कर मार दिया है. मृतक कैदी की पहचान गुरदीप उर्फ गोरा के रूप में हुई थी जो पिछले साल विकासपुरी थाना इलाके से एक आपराधिक मामले में बंद हुआ था.

हालांकि इस मामले में तिहाड़ जेल प्रशासन की तरफ से अब तक कुछ भी नहीं बताया गया है, लेकिन वेस्ट जिले के डीसीपी विचित्र वीर से मिली जानकारी के अनुसार मृतक कैदी पर विकासपुरी थाना इलाके में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ था और कुछ हथियार भी मिले थे .अब मृतक कैदी के डेड बॉडी दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के मोर्चरी में रखवाया गया है.

कैदी के परिजन काफी संख्या में दीनदयाल अस्पताल पहुंचे और उनका साफतौर पर कहना है कि गुरुदीप की मौत जेल में जहर देने से हुई. साथ ही वे यह भी सवाल उठा रहे हैं अगर किसी ने जहर भी दिया तो जेल के अंदर इतनी सुरक्षा के बीच जहर आया कहां से. गुरदीप सात बहनों का इकलौता भाई था अब उसकी मां और बहनों का रो-रोकर बुरा हाल है.

मृतक कैदी के परिजनों का कहना है कि दीनदयाल अस्पताल में मृतक का पोस्टमार्टम भी नहीं किया जा रहा है. ना हीं इस बारे में पुलिस की तरफ से और न ही अस्पताल की तरफ से परिवार वालों को कोई पुख्ता जानकारी दी जा रही है कि आखिर मृतक का पोस्टमार्टम कब होगा. यह जानकारी भी मिली है कि गुरदीप पर पहले हत्या का एक मामला था, जिसमें दस साल की सजा काटकर कुछ साल पहले बाहर आया था और फिर पिछले साल एक मामले में उसे गिरफ्तार किया गया था.

ये भी पढ़ें : BJP नेता की हत्या करनेवाला नाबालिग शूटर ने अब व्यवसायी से मांगी रंगदारी, दो साथियों के साथ गिरफ्तार

हालांकि परिजनों का कहना है उस पर लगाए गए मामले झूठे हैं. गुरदीप का परिवार तिलक नगर इलाके के शाहपुर इलाके का रहने वाला है और चूंकि वह एक सिख था तो इस मामले को लेकर सिख नेताओं के आगे आने की जानकारी भी आई है. जानकारी के अनुसार सिख नेता मनजीत सिंह के परिवार वाले से मिलने पहुंचे और परिवार को हर संभव मदद देने की बात कही, जो भी कानूनी रूप से दिया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली के वसंत विहार में महज 1500 रुपए के लिए युवक की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.