BJP नेता की हत्या करनेवाला नाबालिग शूटर ने अब व्यवसायी से मांगी रंगदारी, दो साथियों के साथ गिरफ्तार

author img

By ETV Bharat Delhi Desk

Published : Feb 6, 2024, 12:11 PM IST

BJP नेता की हत्या करनेवाला विवेक दहिया गिरफ्तार

Shooter Vivek Dahiya arrested: दिल्ली में बीजेपी नेता की हत्या करने वाला विवेक दहिया अब एक व्यवसायी से रंगदारी मांगने पर गिरफ्तार कर लिया गया है. बीजेपी नेता की हत्या के समय वो नाबालिग था. इसलिए बेल पर रिहा हो गया था. अब वह बालिग है. उसके दो साथियों के साथ गिरफ्तार किया गया है.

नई दिल्ली: दिल्ली में भाजपा नेता सुरेंद्र मटियाला की उन्हीं के ऑफिस में कई राउंड गोली मारकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया था. इस मामले में पुलिस ने एक नाबालिग शूटर को पकड़ा था. जिसने आधा दर्जन से ज्यादा गोलियां चलाई थी. वह पिछले साल बेल पर बाहर आ गया. बाहर आते ही उसने फिर से इंटरनेशनल गैंगस्टर काला जठेड़ी, नंदू और नरेश शेट्टी गैंग से संपर्क किया. डाबड़ी इलाके में फिर से एक लोकल गैंग तैयार कर लिया और दिल्ली के बिजनेसमैन का डिटेल विदेश भेजने लगा. विदेश से फोन करवाकर दिल्ली के बिजनेसमैन से एक्सटॉर्शन की शुरुआत कर दी.

पिछले महीने वेस्ट दिल्ली के एक बड़े कपड़ा व्यवसायी से 50 लाख की रंगदारी मांगने की कोशिश की गई. वहां पर गोली चलाकर डराने का प्रयास किया गया. लेकिन एन वक्त पर मिसफायर हो गया. मामले की छानबीन कर रही स्थानीय पुलिस को इसकी जानकारी हुई कि द्वारका में भी इसी तरह की प्लानिंग की गई थी. इस मामले में द्वारका जिला के स्पेशल स्टाफ/एएटीएस की ज्वाइंट टीम ने शातिर शूटर विवेक दहिया जो अब बालिग हो गया है उसके दो साथियों को हथियार के साथ धर दबोचा है. उसके ऊपर पहले से हत्या और एक्सटॉर्शन के आधे दर्जन मामले चल रहे हैं. पुलिस ने इनके पास से तीन सोफिस्टिकेटेड कंट्री मेड पिस्टल और 5 जिंदा कारतूस भी बरामद किया है.

डीसीपी द्वारका अंकित सिंह ने बताया कि इंस्पेक्टर कमलेश कुमार की टीम ने इस शूटर सहित तीन बदमाशों को दबोचने में कामयाबी पाई है. पुलिस टीम के द्वारा गिरफ्तार आरोपियों में से दो सुगम शुक्ला और अजय सगे भाई हैं और पहले से मर्डर आर्म्स एक्ट के मामले में शामिल हैं. पुलिस के अनुसार शूटर विवेक दहिया उर्फ विक्की मूलतः हरियाणा के सोनीपत का रहने वाला है. बाकी उसके दोनों सहयोगी अजय और सुगम महावीर एनक्लेव दिल्ली के रहने वाले हैं. इनके बारे में पुलिस टीम को एक इनफार्मेशन मिली और उसी के आधार पर छानबीन करती हुई पुलिस टीम इस शूटर और उसके सहयोगियों तक पहुंच पाई.

भाजपा नेता सुरेंद्र मटियाला की हत्या नंदू गैंग के इशारे पर किया गया था. पुलिस को पूछताछ में पता चला कि विक्की और अजय की मुलाकात ऑब्जर्वेशन होम में हुई थी और बाद में वहीं से इन्होंने बाहर निकलकर गैंग बनाने का प्लान बनाया. गैंगस्टर नरेश शेट्टी का भतीजा अक्षय से इनका बाहर निकलने पर संपर्क हुआ और उसने ही लोकल बिजनेसमैन से रंगदारी वसूलने के लिए इन्हें गाइड किया.

ये भी पढ़ें : दिल्ली में गांजा तस्करी के आरोप में इंजीनियरिंग के दो छात्र गिरफ्तार

होटल में बुलाकर अजय और उसके भाई को हथियार विक्की ने उपलब्ध कराया. जब सिग्नल एप के जरिए इंस्ट्रक्शन मिला तो दोनों भाई राजौरी गार्डन के गुलाटी हैंडलूम पर पहुंचकर नरेश शेट्टी के नाम पर 50 लाख की रंगदारी मांगी और वहां पर गोली चलाने की कोशिश की. जिसकी FIR राजौरी गार्डन थाना में दर्ज की गई थी. उस समय से राजौरी गार्डन थाना की पुलिस को इन दोनों भाइयों की तलाश में थी. वहीं, अजय दिल्ली के साउथ केंपस इलाके में हुई हत्या मामले में भी शामिल है. इन तीनों की गिरफ्तारी से पुलिस ने बिंदापुर, डाबड़ी के साथ-साथ राजौरी गार्डन थाना के मामलों का खुलासा कर लिया है. मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है .

ये भी पढ़ें : करोलबाग: मैकेनिक की हत्या एक सप्ताह बाद भी नहीं मिली बॉडी, पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.