खत्म नहीं हुई पुलिस की चुनौतियां,अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी के बाद सिद्ध करने होंगे आरोप, एविडेंस जुटाना होगा टेढ़ी खीर

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Team

Published : Feb 24, 2024, 7:44 PM IST

Updated : Feb 24, 2024, 7:55 PM IST

Abdul Malik arrested from Delhi

Abdul Malik arrested from Delhi, Haldwani violence हल्द्वानी हिंसा मामले में फरार मोस्ट वांटेड अब्दुल मलिक को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस अब्दुल मलिक को लेकर हल्द्वानी पहुंच चुकी है. हल्द्वानी हिंसा मामले में मोस्ट वांटेड अब्दुल मलिक को गिरफ्तार करने के बाद अब पुलिस के सामने बड़ी चुनौती अब्दुल मलिक को दोषी सिद्ध करना है. जिसके लिए पुलिस को हिंसा में अब्दुल मलिक की मौजूदगी या उससे जुड़े साक्ष्य जुटाने होंगे.

देहरादून: हल्द्वानी हिंसा मामले में फरार चल रहे मोस्ट वांटेड आरोपी अब्दुल मलिक को नैनीताल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में अब भी अब्दुल मलिक का बेटा फरार है. जिसकी तलाश के लिए पुलिस की टीमें देशभर में खाक छान रही हैं. हल्द्वानी हिंसा मामले में अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी के बाद उसके वकीलों ने भी कानूनी लड़ाई की तैयारी शुरू कर दी है. अब्दुल मलिक के वकीलों की दलील है कि हल्द्वानी हिंसा के दौरान अब्दुल मलिक मौके पर नहीं था. ऐसे में अब्दुल मलिक पर लगे आरोपों को सिद्ध करना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है.

अब्दुल मलिक को आरोपी साबित करना चुनौती: हल्द्वानी हिंसा के मोस्ट वांटेड आरोपी अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी से पहले ही उसके वकील अग्रिम जमानत की जुगत में जुट गए थे. खबर यह भी है कि घटना वाले दिन अब्दुल मलिक की मौजूदगी हल्द्वानी में नहीं थी. अगर ऐसा कुछ होता है तो पुलिस के लिए अब्दुल मलिक को मुख्य आरोपी या साजिशकर्ता साबित करना काफी बड़ी चुनौती होगा. नैनीताल एसएसपी प्रहलाद मीणा यह बात कहते रहे हैं कि अतिक्रमण को लेकर सबसे ज्यादा विरोध अब्दुल मलिक ही कर रहा था, लिहाजा पुलिस इस मामले में उसे तलाश कर रही है. मगर हिंसा को लेकर अब्दुल मलिक का कोई रोल था? अब्दुल मलिक ने लोगों को भड़काने का काम किया? इसे पुलिस को कोर्ट साबित करना होगा.

हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड पर पुलिस की चुप्पी: इस मामले में इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस काफी अहम होंगे. पुलिस को इन्हीं के आधार पर अब्दुल मलिक के हिंसा में शामिल होने की बात को कोर्ट में साबित भी करना होगा. हालांकि, जब ईटीवी भारत ने पुलिस मुख्यालय प्रवक्ता आईजी निलेश भरणे से अब्दुल मलिक के मास्टरमाइंड होने की बात पूछी तो उन्होंने सवाल को टालते हुए जांच के आधार पर ही कुछ कहने की बात कही.

8 फरवरी को हल्द्वानी में हुई हिंसा: हल्द्वानी में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई 8 फरवरी को शुरू की गई. यहां दिन में करीब 2:30 बजे पुलिस और नगर निगम की टीम मलिक के बगीचे की तरफ रवाना हुई. करीब 3:30 बजे मलिक के बगीचे में पहुंचकर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई को शुरू हुई. इसके बाद यहां पर बड़ी संख्या में लोग जुटने लगे. पथराव शुरू हो गया. 4:30 बजते बजते पथराव और लाठीचार्ज के बीच हिंसा अनियंत्रित होने लगी. जिसके बाद भीड़ पर आंसू गैस के गोले छोड़े गए. उधर उपद्रवियों ने पुलिस की गाड़ियों में आग लगानी शुरू कर दी. घटना को बढ़ता देख देहरादून में भी सर गर्मी तेज हुई. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शाम करीब 7:15 बजे बैठक बुलाकर उपद्रवियों को गोली मारने के आदेश दिए. करीब 8:00 बजे क्षेत्र में कर्फ्यू घोषित कर दिया गया. उधम सिंह नगर से लेकर आसपास के जिलों की फोर्स को भी हल्द्वानी रवाना किया गया. इस बीच जिलाधिकारी ने सभी दुकानें स्कूल और सभी दूसरे संस्थानों को बंद रखने के निर्देश जारी किये.

अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी, चुनौतियां नहीं हुई खत्म: इस घटना के बाद थाने में आगजनी का जवाब देते हुए पुलिस ने भी अपनी सख्ती दिखानी शुरू की. गोलीबारी हुई. जिसमें कई लोगों की जान गई. इसके बाद पुलिस ने अगले दिन सर्च ऑपरेशन शुरू किया. विजुअल्स में दिखाई देने वाले लोगों की गिरफ्तारियां शुरू कर दी गई. इन सभी स्थितियों के बीच पुलिस की तलाश अब्दुल मलिक को लेकर तेज हुई. बताया गया कि अब्दुल मलिक फरार है. आखिरकार हल्द्वानी हिंसा के 16 दिन बाद अब्दुल मलिक को दिल्ली के गिरफ्तार किया गया है. मगर इसके बाद भी पुलिस की चुनौतियां खत्म नहीं हुई हैं. अब्दुल मलिक की हल्द्वानी हिंसा में संलिप्तता सिद्ध करना, इसके साक्ष्य जुटाना पुलिस के लिए बड़ा काम है.

ये भी पढ़ें-

  1. विदेशी करेंसी, महंगी घड़ियां, सोना चांदी के साथ कैश, अब्दुल मलिक के घर मिला 'कुबेर' का खजाना
  2. लग्जरी लाइफ, 'रसूखदारों' से सीधा कनेक्शन, अरब देशों में रिश्तेदारी, खुल रहे हल्द्वानी हिंसा मास्टरमाइंड के 'राज'
  3. हल्द्वानी हिंसा: मास्टमाइंड अब्दुल मलिक समेत 9 आरोपी मोस्ट वांटेड घोषित, नैनीताल पुलिस ने जारी की तस्वीरें
  4. हल्द्वानी हिंसा मामला, मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक और उसके बेटे के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी, नेपाल भागने की आशंका
  5. हल्द्वानी हिंसा के मास्टमाइंड अब्दुल मलिक समेत 9 आरोपी मोस्ट वांटेड घोषित, नैनीताल पुलिस ने जारी की तस्वीरें
  6. हल्द्वानी हिंसा की मजिस्ट्रेट जांच शुरू, कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने जारी किया नंबर, कॉल कर दे सकते हैं सबूत
  7. बनभूलपुरा में कर्फ्यू में तीन से आठ घंटे की ढील, बंद रहेगी इंटरनेट सेवा, ADG प्रशासन ने अस्थायी पुलिस चौकी का लिया जायजा
Last Updated :Feb 24, 2024, 7:55 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.