ETV Bharat / state

बिगड़े हुए शहजादे हैं ये, वीरभद्र जी होते तो टिका जी को डांट लगाते, कहते बड़ी बहन से माफी मांग: कंगना रनौत - Kangana Thakur Targets Vikramaditya

author img

By ETV Bharat Himachal Pradesh Team

Published : May 2, 2024, 2:35 PM IST

Updated : May 2, 2024, 4:33 PM IST

रामपुर के ननखड़ी में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा प्रत्याशी कंगना ने कांग्रेस प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह पर जमकर निशाना साधा. कंगना रनौत ने विक्रमादित्य सिंह को बिगड़ा हुआ शहजादा करार दिया.

KANGANA THAKUR TARGETS VIKRAMADITYA
KANGANA THAKUR TARGETS VIKRAMADITYA
कंगना रनौत, भाजपा प्रत्याशी, मंडी संसदीय क्षेत्र

रामपुर: हिमाचल प्रदेश में 1 जून को लोकसभा की 4 सीटों पर मतदान होने हैं. देशभर के लिए हॉट सीट बनी मंडी संसदीय सीट पर भाजपा और कांग्रेस एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप से नहीं चूक रहे हैं. इसी कड़ी में भाजपा प्रत्याशी कंगना रनौत ने ननखड़ी में चुनावी प्रचार के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह पर जमकर निशाना साधा.

'माताओं-बहनों आज हमारा हिमाचल प्रदेश देवभूमि के नाम से जाना जाता है. सब दुनिया कहती है कि हिमाचल के लोग सभ्य होते हैं, बड़े ही साधारण होते हैं, लेकिन आप देखिए कैसी-कैसी बातें यहां सुनने में आ रही हैं. टिका जी कहते हैं कि ये लड़की अपवित्र हैं, ये यहां से चली जाए. उन्होंने हमारे सीनियर प्रमुख कार्यकर्ता जयराम ठाकुर, उनके बारे में कहा कि उसको तो मैं डंडा मारूंगा और वो रक्षक नहीं है भक्षक है. इतनी गंदी और इतनी ज्यादा अभद्र भाषा वो यूज कर रहे हैं. मैं ये पूछना चाहती हूं की ये घमंड किस चीज का है.' - कंगना रनौत, भाजपा प्रत्याशी, मंडी संसदीय क्षेत्र

वहीं कंगना रनौत ने कांग्रेस के युवा नेताओं के बिगड़े हुए शहजादे करार दिया. कंगना ने वीरभद्र सिंह को याद करते हुए कहा कि यदि वीरभद्र सिंह होते तो जरूर विक्रमादित्य सिंह को समझाते, लेकिन अब इन्हें समझाने वाला कोई नहीं है.

'किस चीज का घमंड है इन लोगों को, अगर आज दुनिया इनको बिगड़े हुए शहजादे कहती है, तो कोई गलत नहीं है. एक वो शहजादे हैं जो जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, संजय गांधी की जो फैमिली है. दोस्तों ये अमीर लोगों के बच्चे हैं. ये ऑक्सफोर्ड और इस तरह की जगहों में पढ़े हुए आते हैं. गरीबी सिर्फ इन्होंने पुस्तकों में पढ़ी हुई है. ये राजा रजवाड़ों के बेटे हैं. आज माननीय वीरभद्र जी होते तो उनका दिल भी दुखी होता. उन्होंने अगर अपनी हिमाचल की बेटी के बारे में ऐसा सुनते. कितना मुश्किल होता है एक पहाड़ी के लिए बाहर जाना और सम्मान कमाना. आज अगर हमारे पूजनीय वीरभद्र जी होते तो उनका दिल कितना दुखता की हमारी बेटी को कहा की वो अपवित्र है और वो निश्चित ही टिका जी को डांट लगाते और बोलते ही तु अपनी बहन से माफी मांग, लेकिन आज उनको ऐसा बोलने वाला समझाने वाला कोई नहीं है. कोई बात नहीं हम उन्हें क्षमा कर देते हैं, लेकिन दोस्तों इस भाव में आकर हम उन्हें सत्ता तो नहीं दे सकते हैं. उन्हें क्षमा तो मिल सकती है, लेकिन सत्ता नहीं मिल सकती है. ये बिगड़े हुए शहजादे, चाहे राहुल गांधी हो, चाहे अखिलेश यादव हो, चाहे टिका जी हो. इन बिगड़े हुए शहजादों को अपने माता-पिता की संपत्ति ही संभालनी चाहिए.' - कंगना रनौत, भाजपा प्रत्याशी, मंडी संसदीय क्षेत्र

गौरतलब है कि कंगना रनौत इन दिनों मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाली विधानसभाओं का दौरा कर रहीं हैं और चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं. इस दौरान कंगना कांग्रेस और विक्रमादित्य सिंह पर निशाना साधने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं. कंगना लगातार कांग्रेस को महिला विरोधी बताते हुए जमकर आड़े हाथों ले रही हैं. ननखड़ी में चुनाव प्रचार के दौरान कंगना ने कहा कि हमारा वोट उन्हीं के लिए जाना चाहिए, जिन्होंने 25 करोड़ लोगों को गरीबों से बाहर निकाला है. जिन्होंने मेरी माताओं मेरी बहनों को शौचालय दिया है. बहनों माताओं को गैस चूल्हा देकर के धुएं के नर्क से बाहर निकाला. जिन्होंने मेरे बुजुर्ग लाचार भाइयों को बीमारी की सूरत में घर जमीन बेचने की नौबत नहीं आने दी, उन्हें स्वास्थ्य बीमा योजना दी. देश के 80 करोड़ से अधिक लोगों को मुफ्त का राशन देना शुरू किया. जो व्यक्ति हमारे लिए सब कुछ त्याग कर सेवा के लिए बैठा है. उन्होंने कहा कि ऐसा तपस्वी ऐसा योगी हमारा प्रधानमंत्री है. हमें उनके मान को रखने का वक्त आ गया है. उन की झोली में हिमाचल से चार की चार लोकसभा सीट डालनी है.

ये भी पढ़ें: जयराम को बेटे की तरह मानते थे वीरभद्र सिंह, लेकिन बताते थे सही आदमी गलत पार्टी में: विक्रमादित्य सिंह

कंगना रनौत, भाजपा प्रत्याशी, मंडी संसदीय क्षेत्र

रामपुर: हिमाचल प्रदेश में 1 जून को लोकसभा की 4 सीटों पर मतदान होने हैं. देशभर के लिए हॉट सीट बनी मंडी संसदीय सीट पर भाजपा और कांग्रेस एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप से नहीं चूक रहे हैं. इसी कड़ी में भाजपा प्रत्याशी कंगना रनौत ने ननखड़ी में चुनावी प्रचार के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह पर जमकर निशाना साधा.

'माताओं-बहनों आज हमारा हिमाचल प्रदेश देवभूमि के नाम से जाना जाता है. सब दुनिया कहती है कि हिमाचल के लोग सभ्य होते हैं, बड़े ही साधारण होते हैं, लेकिन आप देखिए कैसी-कैसी बातें यहां सुनने में आ रही हैं. टिका जी कहते हैं कि ये लड़की अपवित्र हैं, ये यहां से चली जाए. उन्होंने हमारे सीनियर प्रमुख कार्यकर्ता जयराम ठाकुर, उनके बारे में कहा कि उसको तो मैं डंडा मारूंगा और वो रक्षक नहीं है भक्षक है. इतनी गंदी और इतनी ज्यादा अभद्र भाषा वो यूज कर रहे हैं. मैं ये पूछना चाहती हूं की ये घमंड किस चीज का है.' - कंगना रनौत, भाजपा प्रत्याशी, मंडी संसदीय क्षेत्र

वहीं कंगना रनौत ने कांग्रेस के युवा नेताओं के बिगड़े हुए शहजादे करार दिया. कंगना ने वीरभद्र सिंह को याद करते हुए कहा कि यदि वीरभद्र सिंह होते तो जरूर विक्रमादित्य सिंह को समझाते, लेकिन अब इन्हें समझाने वाला कोई नहीं है.

'किस चीज का घमंड है इन लोगों को, अगर आज दुनिया इनको बिगड़े हुए शहजादे कहती है, तो कोई गलत नहीं है. एक वो शहजादे हैं जो जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, संजय गांधी की जो फैमिली है. दोस्तों ये अमीर लोगों के बच्चे हैं. ये ऑक्सफोर्ड और इस तरह की जगहों में पढ़े हुए आते हैं. गरीबी सिर्फ इन्होंने पुस्तकों में पढ़ी हुई है. ये राजा रजवाड़ों के बेटे हैं. आज माननीय वीरभद्र जी होते तो उनका दिल भी दुखी होता. उन्होंने अगर अपनी हिमाचल की बेटी के बारे में ऐसा सुनते. कितना मुश्किल होता है एक पहाड़ी के लिए बाहर जाना और सम्मान कमाना. आज अगर हमारे पूजनीय वीरभद्र जी होते तो उनका दिल कितना दुखता की हमारी बेटी को कहा की वो अपवित्र है और वो निश्चित ही टिका जी को डांट लगाते और बोलते ही तु अपनी बहन से माफी मांग, लेकिन आज उनको ऐसा बोलने वाला समझाने वाला कोई नहीं है. कोई बात नहीं हम उन्हें क्षमा कर देते हैं, लेकिन दोस्तों इस भाव में आकर हम उन्हें सत्ता तो नहीं दे सकते हैं. उन्हें क्षमा तो मिल सकती है, लेकिन सत्ता नहीं मिल सकती है. ये बिगड़े हुए शहजादे, चाहे राहुल गांधी हो, चाहे अखिलेश यादव हो, चाहे टिका जी हो. इन बिगड़े हुए शहजादों को अपने माता-पिता की संपत्ति ही संभालनी चाहिए.' - कंगना रनौत, भाजपा प्रत्याशी, मंडी संसदीय क्षेत्र

गौरतलब है कि कंगना रनौत इन दिनों मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाली विधानसभाओं का दौरा कर रहीं हैं और चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं. इस दौरान कंगना कांग्रेस और विक्रमादित्य सिंह पर निशाना साधने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं. कंगना लगातार कांग्रेस को महिला विरोधी बताते हुए जमकर आड़े हाथों ले रही हैं. ननखड़ी में चुनाव प्रचार के दौरान कंगना ने कहा कि हमारा वोट उन्हीं के लिए जाना चाहिए, जिन्होंने 25 करोड़ लोगों को गरीबों से बाहर निकाला है. जिन्होंने मेरी माताओं मेरी बहनों को शौचालय दिया है. बहनों माताओं को गैस चूल्हा देकर के धुएं के नर्क से बाहर निकाला. जिन्होंने मेरे बुजुर्ग लाचार भाइयों को बीमारी की सूरत में घर जमीन बेचने की नौबत नहीं आने दी, उन्हें स्वास्थ्य बीमा योजना दी. देश के 80 करोड़ से अधिक लोगों को मुफ्त का राशन देना शुरू किया. जो व्यक्ति हमारे लिए सब कुछ त्याग कर सेवा के लिए बैठा है. उन्होंने कहा कि ऐसा तपस्वी ऐसा योगी हमारा प्रधानमंत्री है. हमें उनके मान को रखने का वक्त आ गया है. उन की झोली में हिमाचल से चार की चार लोकसभा सीट डालनी है.

ये भी पढ़ें: जयराम को बेटे की तरह मानते थे वीरभद्र सिंह, लेकिन बताते थे सही आदमी गलत पार्टी में: विक्रमादित्य सिंह

Last Updated : May 2, 2024, 4:33 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.