ETV Bharat / entertainment

'कैसे कर्ज चुका सकता हर भव में कर्जदार रहा', अंकिता लोखंडे-विक्की जैन ने दिवंगत आचार्य विद्यासागर महाराज को दी श्रद्धांजलि

author img

By ETV Bharat Hindi Team

Published : Feb 18, 2024, 4:27 PM IST

Acharya Vidyasagar Maharaj Dies: प्रसिद्ध जैन भिक्षु आचार्य विद्यासागर महाराज का रविवार, 18 फरवरी को छत्तीसगढ़ में 'सल्लेखना' के बाद निधन हो गया. वह 77 वर्ष के थे. एक्ट्रेस अंकिता लोखंडे और उनके विक्की जैन ने दिवंगत भिक्षु को श्रद्धांजलि अर्पित की है.

Etv Bharat
Etv Bharat

मुंबई: आचार्य विद्यासागर महाराज एक जैन भिक्षु थे. रविवार को छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के चंद्रगिरि तीर्थ में 'सल्लेखना' के बाद उनका निधन हो गया. वह 77 वर्ष के थे. उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया है. वहीं 'बिग बॉस 17' के कपल अंकिता लोखंडे और उनके पति विक्की जैन ने दिवंगत आचार्य विद्यासागर महाराज को श्रद्धांजलि अर्पित की है. इसके लिए उन्होंने सोशल मीडिया का सहारा लिया है.

अंकिता लोखंडे और विक्की जैन रविवार को अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम पर आचार्य विद्यासागर महाराज के साथ तस्वीरें साझा करते हुए श्रद्धांजलि दी है. उन्होंने कैप्श में लिखा है, 'नमोस्तू आचार्यश्री. मुझ पर करुणा बरसाई मुझ पर ये उपकार रहा. कैसे कर्ज चुका सकता हर भव में कर्जदार रहा, अविरल बहती गंगा मे एक बूंद नहीं दे सकते हम, आपकी दया का बखान शब्दों मे न कर सकते हम. भावपूर्ण श्रद्धांजलि.'

तस्वीरों में अंकिता लोखंडे और विक्की जैन को आचार्य विद्यासागर महाराज की पूजा करते हुए देखा जा सकता है. वहीं कुछ तस्वीरों में विक्की को महाराज के साथ सुखद समय व्यतीत करते हुए देखा जा सकता है.

क्या है 'सल्लेखना'?
चंद्रगिरि तीर्थ ने महाराज के निधन पर एक बयान जारी किया है, जिसमें 'सल्लेखना' के बारे में बताया है. बयान में कहा गया है, ''सल्लेखना' एक जैन धार्मिक प्रथा है, जिसमें आध्यात्मिक शुद्धि के लिए स्वैच्छिक आमरण उपवास किया जाता है.' बयान में महाराज के निधन के बारे में जानकारी देते हुए बताया, 'आचार्य विद्यासागर महाराज ने सुबह 2:35 बजे चंद्रगिरि तीर्थ पर 'सल्लेखना' के माध्यम से समाधि प्राप्त की.'

यह भी पढ़ें:

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.