ETV Bharat / bharat

तूफ़ानों को चीर के मंजिल पर पहुंचा हरियाणा का 'लाल'...टैक्सी ड्राइवर के बेटे का कमाल, बिना कोचिंग UPSC एग्जाम किया क्रैक - UPSC CIVIL SERVICES RESULT

author img

By ETV Bharat Haryana Team

Published : Apr 17, 2024, 7:25 PM IST

Updated : Apr 17, 2024, 9:44 PM IST

UPSC Civil Services Result 2023 Update : बॉलीवुड फिल्म 'इकबाल' के गीत की कुछ लाइनें हैं..."तूफ़ानों को चीर के मंज़िलों को छीन ले....अब मुश्किल नहीं कुछ भी...". ऐसा ही कुछ कर दिखाया है हरियाणा के रेवाड़ी के होनहार शिवम ने जिन्होंने हार नहीं मानते हुए बिना किसी कोचिंग के यूपीएससी एग्जाम को क्रैक कर दिया है. सबसे ख़ास बात ये कि वे एक टैक्सी ड्राइवर के बेटे हैं और संसाधनों की कमी के बावजूद उन्होंने आज सफलता का आसमान छू लिया है.

UPSC Civil Services Result 2023 Update Rewari Taxi Driver Son Shivam Cracks Civil Service Exam and Gets 457th  National Rank
टैक्सी ड्राइवर के बेटे का कमाल, बिना कोचिंग UPSC एग्जाम किया क्रैक

टैक्सी ड्राइवर के बेटे का कमाल, बिना कोचिंग UPSC एग्जाम किया क्रैक

रेवाड़ी : मंगलवार को यूपीएससी (UPSC) का रिजल्ट आया है जिसमें हरियाणा के होनहारों ने अपने झंडे गाड़ दिए हैं. ऐसे ही एक रेवाड़ी (Rewari) के होनहार शिवम ने यूपीएससी (UPSC) एग्जाम को क्रैक करते हुए 457वीं रैंक हासिल की है.

टैक्सी ड्राइवर के बेटे ने यूपीएससी एग्जाम क्रैक किया

जहां कुछ लोग ऐसी परीक्षाओं के लिए संसाधनों का रोना रोते हैं, वहीं रेवाड़ी के लाल ने साबित कर दिया है कि अगर चाह है तो राह आप जरूर हासिल कर लेंगे. आपको जानकर हैरत होगी कि जिस शिवम ने यूपीएससी एग्जाम क्लियर किया है, वो दरअसल एक ट्रैक्सी ड्राइवर का बेटा है. उनके पिता हरदयाल रेवाड़ी शहर में टैक्सी चलाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करते हैं. शिवम की पहली बार में यूपीएससी क्लियर करने की कोशिश नाकाम साबित हुई, लेकिन उसने हार नहीं मानी और दूसरा अटैम्पट दिया और आखिरकार कामयाबी का आसमान छू लिया.

ये भी पढ़ें : पिता हारे...लेकिन बेटे ने नहीं मानी हार...UPSC की परीक्षा में 14वीं रैंक हासिल कर सपना किया साकार

ये भी पढ़ें : मन के हारे हार है...मन के जीते जीत...नो कोचिंग, सोशल मीडिया से दूरी और UPSC में गाड़ दिया झंडा

रोज़ाना 10 से 12 घंटे की पढ़ाई की

शिवम का परिवार मूलरूप से रेवाड़ी के ही नांगल मूंदी गांव का रहने वाला है और फिलहाल वे शहर के गुलाबी बाग में रहते हैं. शिवम ने बताया कि उन्होंने जवाहर नवोदय विद्यालय नैहचाना से 12वीं तक की पढ़ाई पूरी करने के बाद IIT की तैयारी शुरू कर दी थी. इसके बाद उन्होंने IIT गुवाहाटी से बीटेक की पढ़ाई पूरी की. इसके बाद उन्होंने यूपीएससी एग्जाम को क्लियर करने का अपना लक्ष्य निर्धारित किया और आज वे अपने मुकाम पर पहुंच चुके हैं. उन्होंने यूपीएससी के लिए रोज़ाना 10 से 12 घंटे की पढ़ाई की और किसी कोचिंग का सहारा नहीं लिया. शिवम के पिता हरदयाल दसवीं कक्षा तक पढ़े हुए हैं और वे चाहते थे कि उनका बेटा पढ़-लिखकर एक दिन उनका नाम रौशन करे और आज वो दिन आ गया है. उनकी मां कमलेश देवी घर पर बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती हैं. यूपीएससी का रिजल्ट आने के बाद शिवम के परिवार में खुशी का माहौल है और लोगों से लगातार बधाई मिलने का सिलसिला जारी है.

ये भी पढ़ें : प्रतिभा ने दिखाई अपनी 'प्रतिभा', पहली बार नाकामयाब रहने पर नहीं मानी हार, दूसरी कोशिश में UPSC में सिलेक्शन

ये भी पढ़ें : सिरसा की कोमल गर्ग ने UPSC परीक्षा में 221वीं रैंक की हासिल, जानिए कोमल से सफलता का मंत्र

Last Updated :Apr 17, 2024, 9:44 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.