कवर्धा अग्निकांड, बैगा परिवार हत्याकांड मामले में पुलिस का कांग्रेस पर बड़ा आरोप

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Team

Published : Feb 24, 2024, 11:23 PM IST

Kawardha Agnikand

Baiga family murder case in Kabirdham: कवर्धा अग्निकांड में जिला एसपी ने कांग्रेस नेता पर बड़ा आरोप लगाया है. एसपी का आरोप है कि कांग्रेस नेता ने चश्मदीद को पुलिस को कुछ भी बताने से मना कर दिया था.मामले में कांग्रेस नेता ने सफाई दी है. वहीं, बीजेपी ने मामले में सियासत करने को दुखद बताया है.

बैगा परिवार हत्याकांड

कवर्धा: बीते माह कवर्धा अग्निकांड में बैगा आदिवासी परिवार की जलकर मौत हो गई थी. मामले में 14 लोगों की हाल ही में गिरफ्तारी हुई है. अब इस केस में पुलिस ने कांग्रेस नेता पर बड़ा आरोप लगाया है. मामले में एसपी के बयान के बाद सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है.

एसपी का कांग्रेस नेता पर आरोप: दरअसल इस मामले में कवर्धा एसपी अभिषेक पल्लव ने प्रेसवार्ता की. इस दौरान एसपी ने बड़ा खुलासा किया. एसपी अभिषेक पल्लव ने प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि, "घटना के दूसरे ही दिन पंडरिया विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी नीलकंठ चंद्रवंशी को हत्या के बारे में पता चल चुका था. चश्मदीद ने उन्हें बता दिया था, लेकिन उन्होंने चश्मदीद को पुलिस को कुछ भी बताने से मना कर दिया था क्योंकि उन्हे इस मामले में सियासत करनी थी."

कांग्रेस नेता ने दी सफाई: एसपी का बयान सामने आने के बाद कांग्रेस नेता ने भी इस मामले में सफाई दी. कांग्रेस नेता ने एसपी के बयान को निराधार बताया है. कांग्रेस नेता नीलकंठ चंद्रवंशी ने कहा कि पहले ही मामले को पुलिस दुर्घटना मान रही थी. कांग्रेस के विरोध, विधायक का पुतला फूंकने के बाद पुलिस प्रशासन हरकत में आई. इसके बाद पुलिस ने 14 आरोपियों को गिरफ्तार किया. ऐसे में एसपी कैसे मुझपर पुलिस को गुमराह करने का आरोप लगा सकते हैं?"

बीजेपी ने कांग्रेस को घेरा: इस पूरे मामले में पंडरिया विधायक भावना बोहरा ने कांग्रेस पर पुलिस को गुमराह कर सियासत करने का आरोप लगाया. विधायक ने कहा कि, "बैगा आदिवासी परिवार की मौत बहुत ही दुःखद है. इस घटना में राजनीतिक करना और भी दुःख की बात है. कांग्रेस ने पहले तो घटना के चश्मदीद गवाह को पुलिस को बताने से मना किया. फिर विरोध प्रदर्शन कर लोगों को गुमराह करते हुए राजनीतिक की है. ऐसी राजनीतिक किसी भी पार्टी को नहीं करना चाहिए."

जानिए क्या है पूरा मामला: दरअसल, ये पूरा मामला कवर्धा जिले के कुकदूर थाना क्षेत्र का है. गांव नागाडबरा में 14-15 जनवरी की दरम्यानी रात एक बैगा परिवार जलकर मर गया. ये अग्निकांड पहले तो हादसे जैसा लग रहा था. हालांकि इस अग्निकांड में रसोईघर के अलावा कोई भी कमरा नहीं जला. इसके बाद पुलिस ने मामले में जांच तेज कर दी. जांच के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि जमीन विवाद में ये हत्या गांव के ही कुछ लोगों ने की है. जानकारी के बाद पुलिस ने कुल 14 लोगों को गिरफ्तार किया. इनमें एक नाबालिग और दो महिला शामिल है.

कबीरधाम में तीन लोगों की जिंदा जलने से मौत, सभी बैगा जनजाति परिवार के हैं सदस्य, फॉरेंसिक जांच में जुटी पुलिस
कवर्धा अग्निकांड में एक माह बाद 14 आरोपी गिरफ्तार, जानिए कौन था पूरे साजिश का मास्टरमाइंड
कवर्धा में जिंदा जलने से एक बैगा परिवार तबाह, कैसे लगी आग, कहीं ये हत्या तो नहीं, क्या है मौत की मिस्ट्री,?
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.