ETV Bharat / bharat

ममता के आगे फीका पड़ा धर्म, 'यशोदा' बन नीलम ने मासूम अल्फाज को पिलाया दूध, रखा फिजा का भी खयाल - Mother love seen in Bharatpur

author img

By ETV Bharat Rajasthan Team

Published : May 18, 2024, 4:20 PM IST

Took care of children as Yashoda, भरतपुर में एक दर्दनाक सड़क हादसे में चार महिला की मौत हो गई. वहीं, इस हादसे में दो बच्चे गंभीर रूप से जख्मी हो गए, जिन्हें आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहीं, अस्पताल में दोनों मासूम का 'अपना घर आश्रम' की सेवा साथी नीलम ने पूरी रात खयाल रखा.

Took care of children as Yashoda
ममता के आगे फीका पड़ा धर्म (ETV BHARAT Bharatpur)

'यशोदा' बन नीलम ने मासूम अल्फाज को पिलाया दूध (ETV BHARAT Bharatpur)

भरतपुर. मां की ममता का कोई धर्म नहीं होता है. जब मां की ममता उमड़ती है तो उसके सामने सारे धर्म फीके पड़ जाते हैं. शुक्रवार को हुए भीषण सड़क हादसे में साढ़े 3 साल की फिजा और 10 साल के मासूम अल्फाज के सिर से मां का साया उठ गया. मासूम बच्चों को बिलखते देखकर हर किसी की आंखों से आंसू निकल पड़े. हर किसी की जुबान से एक ही बात निकल रही थी कि भगवान किसी मासूम के साथ ऐसा न करे. दोनों घायल मासूमों को आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया और इन दोनों मासूमों की देखभाल की जिम्मेदारी 'अपना घर आश्रम' की सेवा साथी नीलम ने संभाली. नीलम ने मां यशोदा बनकर मासूम अल्फाज को छाती से लगा लिया तो घायल फिजा का भी पूरा खयाल रखा.

Took care of children as Yashoda
मासूम अल्फाज को दूध पिलाती नीलम (ETV BHARAT Bharatpur)

अपना घर आश्रम की अध्यक्ष बबीता गुलाटी ने बताया कि शुक्रवार को हुई दुर्घटना की आश्रम को सूचना मिली. बताया गया कि दो अज्ञात बच्चे घायल हैं और उन्हें संभालने वाला कोई नहीं है. आश्रम से बच्चों की देखभाल के लिए सेवा साथी नीलम को भेजा गया. नीलम ने बताया कि शुक्रवार शाम पौने चार बजे वो अस्पताल पहुंचीं, जहां बच्चों का इलाज चल रहा था. फिजा को ड्रिप लगी थी, लेकिन 10 साल का मासूम अल्फाज अली लगातार रोए जा रहा था. इसके बाद उन्होंने अल्फाज को गोद में लिया और उसे दूध पिलाया. अल्फाज के पैर में चोट लगी है. नीलम ने बताया कि रातभर अल्फाज रोता रहा. मुश्किल से कुछ देर के लिए सो पाया. इसलिए अल्फाज को रातभर गोद में लेकर सुलाने का प्रयास किया. गोद में लेकर इधर-उधर घूम कर उसे संभालती रहीं. थोड़ा-थोड़ा दूध तो कभी दूध दलिया खिलाया.

Took care of children as Yashoda
नीलम में रखा अस्पताल में बच्चों का पूरा खयाल (ETV BHARAT Bharatpur)

इसे भी पढ़ें - OMG! बाथरूम में नवजात को दिया जन्म.. टॉयलेट कमोड में फ्लश करके फरार हुई मां

भगवान किसी मासूम के साथ ऐसा न करे : नीलम ने बताया कि फिजा के जबड़े में गंभीर चोट आई है. उसकी ठोड़ी में टांके लगे हैं. फिजा को रातभर ड्रिप लगी रही. अल्फाज के भी पैर में चोट है. दोनों बच्चों के हालत देखकर कलेजा मुंह को आता रहा. भगवान किसी मासूम के साथ ऐसा न करे. दोनों बच्चों की मां मथुरा निवासी यास्मीन की हादसे में मौत हो गई.

Took care of children as Yashoda
बच्चे के साथ अपना घर आश्रम की सेवा साथी नीलम (ETV BHARAT Bharatpur)

एक ही परिवार की चार महिलाओं की मौत : दुर्घटना में मारने वाली सभी चारों महिलाएं एक ही परिवार और रिश्तेदार हैं. मृतका रेशम (18) और खुशबू (20) दोनों बहन हैं, जो मथुरा के सरस्वती कुंड निवासी अपनी नानी नूरजहां व मामी यास्मीन के यहां आई हुई थीं. दुर्घटना में नूरजहां और यशमीन की भी मौत हो गई.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.