रिलायंस ज्वैलरी शोरूम डकैती केस: B-वारंट पर मुख्य आरोपी प्रिंस को अपने साथ ले गई महाराष्ट्र पुलिस

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 9, 2024, 8:16 PM IST

Updated : Jan 9, 2024, 8:24 PM IST

PRINCE KUMAR

Prince accused of Dehradun jewelery showroom robbery देहरादून ज्वैलरी शोरूम डकैती मामले के मुख्य आरोपी प्रिंस को बी वारंट लेकर महाराष्ट्र पुलिस उत्तराखंड पहुंची है. आज दिनभर प्रिंस को ले जाने की कागजी कार्रवाई और मेडिकल के बाद महाराष्ट्र पुलिस प्रिंस को अपने साथ ले गई.

देहरादूनः ज्वैलरी शोरूम डकैती मामले में देहरादून पुलिस द्वारा बिहार से गिरफ्तार किए गए आरोपी प्रिंस कुमार को B-वारंट पर ले जाने के लिए महाराष्ट्र पुलिस देहरादून पहुंची है. आरोपी प्रिंस कुमार ने अपने 8 अन्य साथियों के साथ मिलकर जून 2023 में महाराष्ट्र के विश्रामबाग, सांगली में ज्वैलरी शोरूम में डकैती की घटना को अंजाम दिया था. घटना में आरोपियों ने 11 किलो सोने की ज्वैलरी (करीब 6 करोड़) की लूट की थी. आरोपियों ने खुद को पुलिस का अधिकारी बताकर डकैती की घटना को अंजाम दिया था.

देहरादून ज्वैलरी शोरूम लूट मामले में बिहार से गिरफ्तार किए गए आरोपी प्रिंस कुमार को B-वारंट पर ले जाने के लिए महाराष्ट्र पुलिस देहरादून पहुंची है. आरोपी प्रिंस द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर जून 2023 में महाराष्ट्र के सांगली क्षेत्र के विश्रामबाग इलाके में ज्वैलरी शोरूम में डकैती की घटना का अंजाम दिया गया था. घटना में आरोपियों द्वारा स्वयं को पुलिस का अधिकारी बताकर घटना को अंजाम दिया गया था. साथ ही घटना में मौके से महाराष्ट्र पुलिस को आरोपी प्रिंस कुमार की सीसीटीवी फुटेज प्राप्त हुई थी. महाराष्ट्र पुलिस द्वारा लगातार आरोपी की तलाश की जा रही थी.
ये भी पढ़ेंः ज्वैलरी शोरूम लूटकांड: पीसीआर में आरोपी प्रिंस से मिली अहम जानकारियां, तमंचा और कारतूस भी बरामद

बता दें कि देहरादून में 9 नवंबर 2023 को राजपुर रोड स्थित रिलायंस ज्वैलरी शोरूम में हुई डकैती का मुख्य आरोपी प्रिंस कुमार को दून पुलिस ने 12 दिसंबर 2023 को वैशाली, बिहार में गिरफ्तार किया. दून पुलिस ने आरोपी पर दो लाख का इनाम घोषित किया था. दून पुलिस ने बिहार जाकर आरोपी प्रिंस को ट्रांजिट रिमांड पर देहरादून लेकर आई है. एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपी प्रिंस से पूछताछ में सांगली की घटना में शामिल अन्य आरोपियों की दून पुलिस द्वारा महाराष्ट्र पुलिस से जानकारी साझा की गई थी.

क्या होता है B-वारंट: बी-वारंट एक आधिकारिक आदेश है जो मजिस्ट्रेट द्वारा हस्ताक्षरित किया जाता है. इसमें अदालत, पुलिस को किसी मामले के आरोपी को दूसरे स्थान या जेल से गिरफ्तार करने का आदेश देती है.

Last Updated :Jan 9, 2024, 8:24 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.