ETV Bharat / state

मसूरी में पेड़ों पर खूब चली आरियां! डीएफओ ने वनकर्मियों को जमकर फटकारा

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Team

Published : Sep 11, 2023, 5:43 PM IST

Updated : Sep 11, 2023, 7:14 PM IST

Mussoorie Tree Cutting मसूरी में खतरनाक और क्षतिग्रस्त पेड़ को काटने की अनुमति लेकर हरे पेड़ों पर आरियां चलाने का मामला सामने आया है. जिस पर मसूरी डीएफओ वैभव कुमार ने वन कर्मियों को जमकर फटकार लगाई है. उनका कहना है कि किन परिस्थितियों ने वन अधिकारियों ने पेड़ काटने की अनुमति दी. इसकी जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया गया है. साथ ही संबंधित ठेकेदार को जहां पर पेड़ काटा है, वहां पर पौधा लगाने को कहा गया है. Mussoorie DFO Vaibhav Kumar

Mussoorie Tree Cutting
मसूरी में पेड़ों पर खूब चली आरियां

मसूरी में पेड़ों पर खूब चली आरियां

मसूरीः पहाड़ों की रानी मसूरी में बड़े पैमाने में पेड़ों पर आरियां चल रही है. जिसकी तस्दीक पेड़ के कटे ठूंठ दे रहे हैं. जिस पर अब मसूरी डीएफओ वैभव कुमार सख्त नजर आ रहे हैं. इसी कड़ी में डीएफओ वैभव कुमार ने तिलक रोड पर पेड़ कटान का निरीक्षण किया. जहां उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को पेड़ काटने की अनुमति देने पर जमकर फटकार लगाई.

हरे भरे पेड़ों को खतरनाक बताकर चलाई गई आरीः दरअसल, वन विभाग पर ठेकेदार से मिलीभगत कर हरे भरे पेड़ों को खतरनाक बताकर काटने की अनुमति देने का आरोप लगा था. जिसको लेकर स्थानीय लोगों ने भारी विरोध भी किया. मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएफओ वैभव खुद निर्माण स्थल पर पहुंचे और मौके का बारीकी से निरीक्षण किया. जिस पर कई पेट कटे मिले. जिस पर उनका पारा चढ़ गया और वन अधिकारियों को जमकर फटकारा.

Mussoorie Tree Cutting
पेट कटान के बाद बचा सिर्फ ठूंठ

खतरनाक और क्षतिग्रस्त पेड़ काटना ही होगा मुश्किलः वहीं, अब मसूरी में खतरनाक और क्षतिग्रस्त पेड़ों को काटने के लिए अनुमति लेना मुश्किल हो गया है. इसके लिए पहले एसडीओ यानी सब डिविजनल ऑफिसर मौके का निरीक्षण करेंगे, उसके बाद ही वन विभाग से पेड़ काटने की अनुमति दी जाएगी. डीएफओ वैभर कुमार ने बताया कि मसूरी क्षेत्र में अब किसी भी पेड़ को काटने की अनुमति एसडीओ के निरीक्षण और रिपोर्ट आने के बाद दी जाएगी.
ये भी पढ़ेंः कॉर्बेट पार्क में अवैध निर्माण और 6000 पेड़ काटे जाने का मामला, नैनीताल हाईकोर्ट ने CBI को सौंपी जांच

वन अधिकारियों ने किन परिस्थितियों में दी पेड़ काटने की अनुमति? उन्होंने कहा कि मसूरी तिलक रोड चारलीन होटल के सामने निर्माण कार्य चल रहा है. जिसके लिए ठेकेदार ने उसकी भूमि पर मौजूद पेड़ों को खतरनाक बताकर काटने की अनुमति मांगी थी. उन्होंने कहा कि वन विभाग के अधिकारियों ने किन परिस्थितियों में पेड़ को काटने की अनुमति दी, इसकी जांच की जा रही है. जिसको लेकर एसडीओ के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम का गठन किया गया है. जांच समिति की रिपोर्ट आने के बाद वन अधिनियमों के तहत कार्रवाई की जाएगी.

Mussoorie Tree Cutting
पेड़ कटान का निरीक्षण करते डीएफओ वैभव कुमार

जहां पेड़ काटे वहां ठेकेदार को लगाने होंगे पौधेः मसूरी डीएफओ वैभव कुमार ने निर्माण स्थल पर ठेकेदार को कटे हुए पेड़ की जगह पर पौधे लगाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि नोटिफाइड क्षेत्र पर किसी प्रकार का निर्माण नहीं किया जा सकता है. जिसको लेकर समय-समय पर वन विभाग की ओर से नोटिफाइड क्षेत्र में हो रहे निर्माणों को लेकर कार्रवाई की जाती है.
ये भी पढ़ेंः उत्तरकाशी में पेड़ों पर चल रही आरियां? बेशकीमती देवदार की 12 स्लीपर बरामद, आरोपी तस्कर फरार

मसूरी में पेड़ काटने की अनुमति नहींः वहीं, मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण को भी सूचना दी जाती है. जिससे वो भी अपने स्तर से कार्रवाई कर सकें. उन्होंने कहा कि मसूरी में किसी भी तरीके से पेड़ों को काटने की अनुमति नहीं है. अगर कोई भी बिना अनुमति के पेड़ काटता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Last Updated :Sep 11, 2023, 7:14 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.