जी का जंजाल बने जंगली जानवर, कहीं हाथी तो कहीं गुलदार की धमक, ऋषिकेश में बुल फाइट ने बढ़ाई टेंशन

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 11, 2024, 1:11 PM IST

Updated : Jan 11, 2024, 1:48 PM IST

Etv Bharat

wild animals terror in Uttarakhand, Rishikesh Bull Fight उत्तराखंड में जंगली जानवरों के साथ ही आवारा पशु भी लोगों के लिए परेशानी का सबब बन रहे हैं. ऋषिकेश में लोग आवारा सांडों से परेशान हैं. वहीं, हरिद्वार, रामनगर के इलाकों में हाथियों का आतंक हैं. बात अगर रुद्रप्रयाग की करें तो यहां भी गुलदार की दहशत से लोग डर के साये में जीने को मजबूर हैं.

ऋषिकेश में आये दिन बुल फाइट

ऋषिकेश/हरिद्वार/रामनगर: उत्तराखंड में वन्यजीवों का बस्तियों से आने का सिलसिला जारी है. जिसके कारण लोग दहशत में है. ताजा मामला रामनगर वनप्रभाग के अंतर्गत पड़ने वाले टेड़ा भंडारपानी मार्ग का है. यहां हाथियों का झुंड सड़क पर आ गया. जिसके कारण पूरा यातायात बाधित हो गया. वहीं,धर्मनगरी हरिद्वार में भी रिहायशी इलाकों में जंगली जानवरों का आना लगातार जारी है. बीती रात हरिद्वार के जमालपुरकला स्थित राधिका विहार कॉलोनी में हाथियों की दहशत रही. रुद्रप्रयाग नगर क्षेत्र में भी गुलदार के आतंक से लोग परेशान हैं. ऋषिकेश में आवारा सांडों ने लोगों का जीना मुहाल किया हुआ है.

हाथियों के झुंड ने रोका ट्रैफिक: कॉर्बेट नेशनल पार्क से सटे रामनगर वन प्रभाग के टेड़ा भण्डारपानी मार्ग के जामुनीचौड़ के पास हाथियों का एक झुंड एकाएक सड़क पर आ गया. झुंड को देखते ही मार्ग से गुजर रहे यात्रियों ने अपने अपने वाहन रोक लिए. सूचना पर मौके पर पहुंचे वनकर्मियों ने हाथियों के रोड क्रॉस करने के बाद आवाजाही शुरू करवाई. यह जंगल क्षेत्र होने के साथ साथ हाथी कॉरिडोर भी है.बता दें इस क्षेत्र में टेड़ा से आगे हाथियों के दिखने से वाहन चालकों के साथ ही ग्रामीणों में भय का माहौल है. रामनगर वन प्रभाग के डीएफओ दिगंत नायक ने बताया हाथी सड़क के रास्ते कोसी नदी में पानी पीने जाते हैं. यह क्षेत्र हाथी कॉरिडोर है.

हाथियों के झुंड ने रोका ट्रैफिक

पढे़ं- लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा का माइक्रो प्लान, प्रदेश अध्यक्ष के साथ सभी को सौंपा ये बड़ा काम

हरिद्वार की कॉलोनी में घुसा हाथी: हरिद्वार की जमालपुरकला स्थित राधिका विहार कॉलोनी में देर रात हाथियों के दिखने से दहशत का माहौल है. स्थानीय निवासियों ने इसकी इसकी सूचना वन विभाग को दी. वन विभाग ने बामुश्किल हाथियों को जंगल की ओर भेजा. हरिद्वार कॉलोनी में हाथियों के घुसने का वीडियो अब सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है. हरिद्वार रेंज अधिकारी शैलेंद्र नेगी ने बताया कल देर रात राधिका एंक्लेव में हाथियों के आ जाने की सूचना मिली. जिसके बाद मौके पर वन विभाग की टीम पहुंची. लगभग 1 घंटे की मेहनत के बाद हाथियों को जंगल की ओर भेजा गया.

हरिद्वार की कॉलोनी में घुसा हाथी

पढे़ं- धामी सरकार ने योग पॉलिसी को लेकर तेज की 'कसरत', नीति लागू करने वाला पहला प्रदेश बनेगा उत्तराखंड

रुद्रप्रयाग में गुलदार का आतंक: रुद्रप्रयाग नगर क्षेत्र में शाम होते ही गुलदार की दस्तक से लोग डरे व सहमे हुए हैं. गुलदार शहर के बीचों बीच घूम रहा है. निराश्रित पशुओं एवं कुत्तों के पीछे भागकर उन्हें निवाला बना रहा है. हितडांग मोहल्ले में गुलदार ने एक गाय को निवाला भी बनाया है. ऐसे में महिलाएं और बच्चे शाम होते ही घरों में दुबकने को मजबूर हैं. वहीं वन विभाग गुलदार को पकड़ने के बजाय किसी बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है.

रुद्रप्रयाग में गुलदार का आतंक

पढे़ं- आज होगी धामी कैबिनेट की साल 2024 की पहली बैठक, कई महत्वपूर्ण फैसलों पर लग सकती है मुहर

ऋषिकेश में आये दिन बुल फाइट, परेशान हो रहे लोग: ऋषिकेश में आवारा सांडों ने परेशानियां बढ़ा दी हैं. शहर की तमाम व्यस्त रहने वाली सड़कों पर आवारा सांडों का कहर देखने को मिल रहा है. आवास विकास कॉलोनी हो, हरिद्वार रोड हो, सब्जी मंडी हो, एम्स रोड हो या फिर अति व्यस्त रहने वाली त्रिवेणी घाट रोड हो, सभी जगह पर आवारा सांड आसानी से देखे जा सकते हैं. यह आवारा सांड ज्यादातर आपस में लड़ते हुए भी नजर आते हैं. जिसकी तस्वीर कैमरे में भी कैद हुई है. आवारा सांड लोगों की जान को खतरा बना हुआ है. आवारा सांडों को शहर से बाहर करने की मांग फिर से स्थानीय लोगों ने की है.इस मामले में ऋषिकेश नगर आयुक्त राहुल कुमार गोयल ने बताया आवारा पशुओं के शिफ्टिंग को लेकर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में एक बैठक को गई. जिसमे कई बिंदुओं पर चर्चा हुई. उन्होंने बताया अब पशु चिकित्सा विभाग गौशाला चिन्हित कर अवगत कराएगा. जिसके बाद पशुओं को वहां शिफ्ट किया जाएगा.

Last Updated :Jan 11, 2024, 1:48 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.