पॉलिटेक्निक सम-विषम सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू, पहली बार विद्यार्थियों को बुकलेट फॉर्म में मिले प्रश्नपत्र

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Desk

Published : Jan 16, 2024, 3:48 PM IST

Etv Bharat

पॉलिटेक्निक की विषम सेमेस्टर परीक्षाएं 13 फरवरी तक चलेंगी. इस परीक्षा में कुल 1,73,911 विद्यार्थी परीक्षा दे रहे हैं. जानिए इस बार पॉलिटेक्निक में सेमेस्टर परीक्षा को लेकर क्या बदलाव हुए हैं?

लखनऊ : पॉलिटेक्निक की विषम सेमेस्टर परीक्षाएं मंगलवार शुरू हो गईं. यह परीक्षाएं 13 फरवरी तक चलेंगी. इस परीक्षा में पूरे प्रदेश में कुल 1,73,911 विद्यार्थी परीक्षाएं दे रहे हैं. परीक्षा कुल 156 केंद्रों पर हो रही है. परीक्षा से ठीक पहले प्राविधिक शिक्षा परिषद (प्राशिप) ने अपने पोर्टल के माध्यम से प्रश्नपत्र सभी परीक्षा केंद्रों पर भेजा. राजधानी में राजकीय पॉलिटेक्निक लखनऊ, हीवेट, राजकीय महिला पॉलिटेक्निक लखनऊ, एयरोनॉटिकल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट और जीबी पंत पॉलिटेक्निक में परीक्षाएं हों रही हैं.



परिषद की नई पहल : पॉलिटेक्निक में सेमेस्टर परीक्षा को लेकर कई बड़े बदलाव हुए हैं. प्राविधिक शिक्षा परिषद (प्राशिप) ने इस बार प्रश्नपत्र एकेटीयू की मदद से नहीं भेजा है. पहली बार प्राविधिक शिक्षा परिषद ने अपनी वेबसाइट के माध्यम से परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नपत्र ऑनलाइन उपलब्ध कराया है, वहीं परीक्षा के दौरान छात्रों को मिलने वाले 4 से 16 पन्नों के प्रश्नपत्र की जगह अब बुकलेट फॉर्म में प्रश्नपत्र उपलब्ध कराया गया है. प्राविधिक शिक्षा परिषद के अधिकारियों ने बताया कि इंजीनियरिंग और फॉर्मेसी के सभी प्रश्नपत्र अब पुराने दौर में अंग्रेजी के प्रश्नपत्र की तरह बुकलेट फॉर्म में दिए गए हैं. सचिव के निर्देश पर प्रश्नपत्रों को बुकलेट फॉर्म में तैयार कराया गया है. प्रश्नपत्रों पर फॉन्ट को छोटा नहीं किया गया है. मात्र स्पेसिंग को कम करते हुए प्रश्नपत्र तैयार हुए हैं. इससे पन्ने तो बचे हैं साथ ही छात्रों को प्रश्नपत्र पढ़ने में कोई समस्या भी नहीं आएगी.

8 पन्नों का बुकलेट फॉर्म तैयार : सचिव अजीत कुमार मिश्रा ने बताया कि परीक्षा के दौरान फॉर्मेसी एवं इंजीनियरिंग के छात्रों को अभी तक 10 से 16 पन्नों के प्रश्नपत्र मिलते थे, इसमें काफी लागत आती थी. प्रश्नपत्र को प्रिंटआउट करने में समय भी बर्बाद होता था, लेकिन बुकलेट फॉर्म में प्रश्नपत्रों के पन्नों की संख्या आधी रह गई है. 16 पन्नों का प्रश्नपत्र मात्र 8 पन्नों के बुकलेट फॉर्म में तैयार हुआ है. ऐसे में प्रश्नपत्रों को प्रिंट करवाने में अब कम लागत आएगी. उन्होंने बताया कि प्राविधिक शिक्षा परिषद में पहली बार परीक्षाओं में ऑनलाइन प्रश्नपत्र भेजने के लिए बीईटीयूपी की वेबसाइट का इस्तेमाल किया गया है. अभी तक प्रश्नपत्र भेजने के लिए एकेटीयू के सर्वर का इस्तेमाल होता था. इसमें विभाग को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था. उन्होंने बताया कि पहली बार अब विभाग की वेबसाइट और यूपी सरकार के डाटा सेंटर का इस्तेमाल करते हुए प्रश्नपत्र भेजे गए हैं. प्रश्नपत्र www.bteupqpd.upsdc.gov.in से भेजे गए हैं.

यह भी पढ़ें : Watch Video : पॉलिटेक्निक में कॉपियों के मूल्यांकन में हो रहा पैसों का लेनदेन, वीडियो वायरल

यह भी पढ़ें : पॉलिटेक्निक की परीक्षा को लेकर छात्र परेशान, 28 जून से सिर्फ एक ट्रेड की शुरू होगी परीक्षा

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.