अयोध्या में ड्यूटी के लिए जिला अस्पतालों से भेजे जा रहे विशेषज्ञ डॉक्टर, इनकी लगी ड्यूटी

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Desk

Published : Jan 13, 2024, 9:34 PM IST

Etv Bharat

आयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दौरान चिकित्सा व्यवस्था (Medical arrangements in Ayodhya) को लेकर तैयारियां चल रही है. इसी के चलते अयोध्या में ड्यूटी के लिए जिला अस्पतालों से विशेषज्ञ डॉक्टर भेजे जा रहे है.

डॉ. राजेश कुमार श्रीवास्तव और डॉ. अजय शंकर त्रिपाठी ने दी जानकारी


लखनऊ: अयोध्या में 22 जनवरी को भगवान श्री राम विराजमान होने वाले हैं, इसको लेकर तैयारी चल रही है. जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम को भी अलर्ट कर दिया गया है. जिला अस्पतालों से विशेषज्ञ और एमबीबीएस डॉक्टरों की ड्यूटी लगी है. जिसमें सिविल अस्पताल, बलरामपुर अस्पताल और लोकबंधु अस्पताल के विशेषज्ञ की भी ड्यूटी पर लगाई गई हैं.

सिविल अस्पताल के सीएमएस डॉ. राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि 22 तारीख को अयोध्या में रामलला विराजमान होने वाले हैं. प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान अयोध्या में स्वास्थ्य व्यवस्था को बनाए रखने के लिए प्रदेश के लगभग 5 से 6 जिलों के डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई जा रही है. जिसमें से सबसे ज्यादा डॉक्टरों को लखनऊ से भेजा गया है. लखनऊ स्वास्थ विभाग की ओर से डॉक्टरों की ड्यूटी निर्धारित की गई है. सिविल अस्पताल से दो वरिष्ठ विशेषज्ञ डॉ. भेजे जा चुके हैं. 10 दिन पहले भेजने का यही मकसद है कि अयोध्या में बड़ा कार्यक्रम होने जा रहा है. जिसको लेकर जिले की चिकित्सा व्यवस्था को अधिक ध्यान में रखना है. सिविल अस्पताल से एक फिजिशियन और एक वरिष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट को भेजा गया है. फिजिशियन डॉ. अभिषेक सिंह और कार्डियोलॉजी से डॉ. प्रवीण प्रधान की ड्यूटी लगाई गई है.

इसे भी पढ़े-अयोध्या में राम मंदिर प्रांगण के बाहर बन रहा भव्य यात्री सुविधा केंद्र, हजारों यात्री एक साथ कर सकेंगे आराम

लोकबंधु अस्पताल के एमएस डॉ. अजय शंकर त्रिपाठी ने बताया कि 22 तारीख को अयोध्या में श्रीराम जी विराजमान होने वाले हैं, इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से डॉक्टरों की ड्यूटी निर्धारित की गई है. लोकबंधु अस्पताल से भी दो वरिष्ठ डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई गई है. अयोध्या में चिकित्सा व्यवस्था को लेकर आल्हा अधिकारी काफी सचेत है. इसी के तहत हर 100 मीटर की दूरी पर चिकित्सा व्यवस्था की सुविधा की गई है. इसके अलावा भी अयोध्या को जोड़ने वाले रास्ते पर जो अस्पताल हैं, उन्हें भी अलर्ट किया गया है और वहां पर भी बेड आरक्षित किए गए हैं.अयोध्या सीएमओ की मांग के अनुसार डॉक्टर की पूर्ति की गई है. 22 जनवरी को लेकर पूरी तरह से स्वास्थ्य व्यवस्था तैयार है. सरकार का जैसा आदेश रहेगा, उसके अनुसार काम होगा.

बलरामपुर अस्पताल के सीएमएस डॉ. अतुल मल्होत्रा ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम पूरी तरह से अलर्ट है. यहां से तीन डॉक्टरों की अयोध्या में ड्यूटी लगाई गई है, जिनमें आर्थोपेडिक सर्जन डॉ. सुनील कुमार यादव, एमओ डॉ. अभिषेक और दिनेश शामिल है. लखनऊ से भी दो डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई गई है. यह सभी 23 तारीख तक अयोध्या में अपनी सेवा प्रदान करेंगे.

यह भी पढ़े-सऊदी अरब का टूटेगा रिकॉर्ड: अयोध्या में बनायी जा रही दुनिया की सबसे बड़ी सोलर पावर्ड स्ट्रीट

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.