अविश्वास प्रस्ताव पारित: लालसोट नगर पालिका अध्यक्ष का पद हुआ रिक्त, विपक्ष को नहीं मिला वोट

author img

By ETV Bharat Rajasthan Desk

Published : Jan 12, 2024, 5:33 PM IST

Updated : Jan 12, 2024, 10:30 PM IST

post of president declared vacant

दौसा जिले की लालसोट नगर पालिका के अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित हो गया है. इससे अध्यक्ष का पद रिक्त घोषित कर दिया गया है. वोटिंग में विपक्षा को एक भी वोट नहीं मिला.

लालसोट पालिका अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित

दौसा. जिले में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. जिले की लालसोट नगर पालिका में कांग्रेस के सिंबल पर निर्वाचित अध्यक्ष रक्षा मिश्रा को अपना पद गंवाना पड़ा. दरअसल, लालसोट पालिका अध्यक्ष के खिलाफ पेश हुए अविश्वास प्रस्ताव पर शुक्रवार को वोटिंग हुई. जिसमें अविश्वास प्रस्ताव पारित हुआ. जिसके कारण अब लालसोट नगर पालिका अध्यक्ष का पद रिक्त हो गया है. लालसोट नगर पालिका में कुल 35 वार्ड हैं. जिनमें 13 वार्ड पार्षद कांग्रेस के और 13 भाजपा के हैं. वहीं 9 वार्ड पार्षद निर्दलीय हैं.

पूर्व में 28 पार्षदों ने पेश किया था अविश्वास प्रस्ताव: बता दें कि लालसोट नगर पालिका के निकाय चुनाव के दौरान कांग्रेस की रक्षा मिश्रा नगर पालिका की अध्यक्ष बनी थीं. लेकिन गत 29 दिसंबर को तत्कालीन डीएम कमर चौधरी के समक्ष लालसोट नगर पालिका के 28 पार्षद पहुंचे और अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था. इसके बाद डीएम ने अविश्वास प्रस्ताव के लिए बैठक की तारीख 12 जनवरी तय की थी. जिसके चलते शुक्रवार को जिला परिषद के सीईओ धारासिंह मीणा की अध्यक्षता में नगर पालिका लालसोट में मीटिंग शुरू हुई.

पढ़ें: लालसोट नगर पालिका में अविश्वास प्रस्ताव, कांग्रेस पार्षदों ने पूर्व स्वास्थ्य मंत्री पर भी लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

एक विधायक, 31 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में की वोटिंग: इस बैठक में अध्यक्ष के विरोधी पार्षद एक साथ बस के माध्यम से लालसोट पहुंचे और बैठक में हिस्सा लिया. इसके बाद अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा हुई. ऐसे में चर्चा के बाद अविश्वास प्रस्ताव के लिए वोटिंग का समय निर्धारित किया गया था. दोपहर 12 बजकर 35 मिनट से शुरू हुई वोटिंग प्रक्रिया 1 बजकर 35 मिनट तक चली. जिसमें लालसोट के विधायक रामबिलास मीणा और 31 पार्षदों ने वोटिंग की. वहीं लालसोट नगर पालिका की अध्यक्ष रक्षा मिश्रा और उपाध्यक्ष संतोष स्वामी सहित कुल चार पार्षदों ने वोटिंग प्रक्रिया में हिस्सा नहीं लिया. जिसके चलते 31 पार्षद और एक विधायक ने ही इस चुनाव प्रक्रिया में वोट डाला.

पढ़ें: No confidence motion letter: मांडलगढ़ प्रधान के खिलाफ CEO को दिया अविश्वास प्रस्ताव पत्र

विपक्ष के खाते में नहीं आया एक भी वोट: जिला परिषद सीईओ धारा सिंह मीणा ने बताया कि वोटिंग के बाद जब मतगणना हुई, तो अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 32 वोट प्राप्त हुए. वहीं विपक्ष के खाते में एक भी वोट प्राप्त नहीं हुआ. इसी के कारण अविश्वास प्रस्ताव को पारित कर दिया गया है. जिसके चलते अब प्रशासन ने लालसोट नगर पालिका के अध्यक्ष का पद रिक्त घोषित कर दिया है. वहीं अब नए पालिका अध्यक्ष के लिए राज्य सरकार और निर्वाचन विभाग के निर्देश पर कार्रवाई की जाएगी. इस दौरान लालसोट विधायक रामविलास मीना ने कहा कि नगर पालिका की कार्ययोजना से परेशान पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पर मुहर लगाई है. आने वाले समय में बोर्ड के पार्षदों की मंशा के अनुरूप ही नया चेयरमैन बनाया जाएगा.

Last Updated :Jan 12, 2024, 10:30 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.