Satna Crime News: नाबालिग का अपहरण कर भोपाल में युवक को बेचा, 2 महिलाओं सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Desk

Published : Sep 25, 2023, 1:32 PM IST

Satna Crime News

सतना की रामनगर पुलिस ने बड़ी वारदात का खुलासा किया है. रामनगर थाना क्षेत्र से 15 वर्षीय नाबालिग का अपहरण कर लिया गया और भोपाल के युवक को 62 हजार में बेच दिया गया. युवक ने नाबालिग से शादी कर उसके साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाए. नाबालिग किसी तरह चंगुल से छूटकर अपने घर पहुंची. पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. जिन्हें अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है.

नाबालिग का अपहरण कर भोपाल में युवक को बेचा

सतना। सतना के रामनगर थाना क्षेत्र में सनसनीखेज वारदात सामने आई है. 17 जून की सुबह बाइक सवार दो युवकों ने सुबह 5 बजे एक गांव से नाबालिग लड़की का अपहरण कर लिया. बाइक सवार अपहर्ता राजू मेवाड़ा नाबालिग को झिरिया थाना रामनगर निवासी अपनी साली भूरी बाई के यहां ले गया. फिर दो दिन बाद नाबालिग को मैहर ले जाया गया. राजू और उसकी पत्नी मीता रावत ने मैहर में ही भोपाल के सीहोर निवासी सुनील गौर को 62 हजार में नाबालिग को बेच दिया.

आरोपी के चंगुल से छूटी नाबालिग : भोपाल के एक मंदिर में सुनील गौर ने नाबालिग से रस्म अदायगी वाली शादी की. इसके बाद रोजाना शारीरिक संबंध बनाना शुरू कर दिए. कुछ दिन बाद नाबालिग को अपना घर और परिजनों की याद सताने लगी. इस पर सुनील गौर ने नाबालिग की उसके परिजनो से मोबाइल फोन पर बात करा दी. 22 सितंबर को नाबालिग आरोपी के चंगुल से छूटकर अपने घर रामनगर थाना क्षेत्र पहुंच गई. खबर मिलते ही पुलिस नाबालिग के घर पहुंची और उसे दस्तयाब कर लिया. पुलिस ने नाबालिग के बयान दर्ज किए.

ये खबरें भी पढ़ें...

कई धाराओं में केस दर्ज : पुलिस ने नाबालिग के बयान के आधार पर अपहरण, मानव तस्करी, दुष्कर्म और पास्को एक्ट के तहत मामला रजिस्टर्ड करते हुए आरोपियों की तलाश शुरू कर दी. अपहर्ता राजू मेवाड़ा और उसकी पत्नी मीता रावत कार से पुलिस को चकमा देकर भाग रहे थे, लेकिन रामनगर पुलिस घेराबंदी कर दोनों को जिगना गांव के पास से गिरफ्तार कर लिया. दोनों की निशानदेही पर झिरिया निवासी उसकी साली भूरी बाई कोल को गिरफ्तार किया. अंत मे पुलिस ने कथित पति सुनील गौर को भी गिरफ्तार कर लिया. इस मामले में थाना प्रभारी संतोष तिवारी ने बताया कि चारों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.