नर्मदापुरम के सिवनी मालवा में व्यापारी से लूट की घटना निकली फर्जी, युवक ने क्यों रची झूठी कहानी

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Desk

Published : Jan 18, 2024, 1:09 PM IST

seoni malva robbery with businessman turned out fake

Narmadapuram Fake loot : नर्मदापुरम जिले के सिवनी मालवा में व्यापारी के साथ हुई लूट की घटना फर्जी निकली. दरअसल, कर्ज चुकाने के लिए युवक ने लूट की झूठी कहानी पुलिस के सामने पेश की. लेकिन संदेह होने पर पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो सारी पोल खुल गई.

सिवनी मालवा में व्यापारी से लूट की घटना निकली फर्जी,

सिवनी मालवा (नर्मदापुरम)। नर्मदापुरम जिले के सिवनी मालवा में मंगलवार रात हुई लूट की वारदात फर्जी निकली. जब पुलिस ने युवक से सख्ती से पूछताछ की तो सच सामने आ गया. क्रिकेट टीम के लिए खिलाड़ियों को खरीदने और लोकल टूर्नामेंट में टीम उतारने के कारण युवक पर कर्ज इतना बढ़ गया कि उसने कर्ज से मुक्ति के लिए लूट की फर्जी कहानी रच दी. शिकायत में फरियादी द्वारा बताया गया था कि मंगलवार रात लगभग 10 बजे टिमरनी से सिवनी मालवा आ रहे गल्ला व्यापारी समीर खान के साथ अज्ञात बाइक सवारों द्वारा बैग लूट लिया गया.

फरियादी पर पुलिस को संदेह : घटना ग्राम भरलाय से धामनिया मुख्य मार्ग पर होना बताई गई. पुलिस को युवक की बताई कहानी पर संदेह तब हुआ जब उसने बताया कि मेरे ऊपर पेट्रोल डालकर लूट की गई. वहीं युवक का बैग भी घटनास्थल पर ही पड़ा हुआ मिला. व्यापारी द्वारा बताया गया कि उसके द्वारा आरोपियों की बाइक को टक्कर भी मारी गई थी परंतु व्यापारी की गाड़ी पर कोई निशान नहीं मिला. जिसके बाद पुलिस ने रात में ही आसपास के सीसीटीवी कैमरों की जांच की तो टिमरनी के पेट्रोल पंप पर व्यपारी का ही साथी युवक बॉटल में पेट्रोल लेता हुआ दिखाई दिया. जिससे पुलिस का शक यकीन में बदल गया.

ये खबरें भी पढ़ें...

सख्ती से पूछताछ की तो खुली पोल : थाना प्रभारी विवेक यादव ने बताया की फर्जी लूट की कहानी बनाने वाले युवक मुबीन और समीर खान से कड़ाई से पूछताछ की गई. इस पर समीर खान ने बताया कि 15 जनवरी को अपने पिता से प्राप्त 1,73,000 रुपये मुबीन के साथ यश बेंक सिवनी मालवा में स्वयं के खाते में जमा करना तथा अशोक राठौर निवासी हरदा से सोयाबीन के 1,46,800 रूपये एवं रोहित मालाकार निवासी बासनिया से 35,000 रुपये प्राप्त कर यश बैंक के खाते में हरदा से ऑनलाइन दुकान से जमा करना था. फर्जी लूट का खुलासा एसडीओपी राजू रजक ने बुधवार को किया.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.