बहनों ने दिया शिवराज को रिटर्न गिफ्ट: उस 10 तारीख की बदौलत, BJP ने देखा ये एतिहासिक 3 दिसंबर

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Team

Published : Dec 3, 2023, 4:04 PM IST

Updated : Dec 3, 2023, 5:27 PM IST

Budhni Election Results 2023 LIVE

Budhni, MP Election Results 2023 LIVE: मध्यप्रदेश में बहनों ने आखिरकार शिवराज सिंह चौहान को रिटर्न गिफ्ट दे ही दिया. दरअसल लाडली लक्ष्मी से लेकर लाडली बहनों ने 1 लाख से ज्यादा वोट देकर सीएम को जीत दिलाई है.

शिवराज बुधनी सीट से जीते

भोपाल। 'बहनों फिर दस तारीख आ रही है...' शिवराज सरकार के इस कैम्पेन का असर माना जाए क्या कि तीन दिसम्बर को पार्टी ने जिस बम्पर जीत की कल्पना भी नहीं की होगी. वो जीत सामने है. पूरे चुनाव प्रचार के दौरान शिवराज का बहनों के साथ बेहद आत्मीय और भावुक संवाद, क्या भैय्या शिवराज का इमोशनल कार्ड असर दिखा गया? जिस लाड़ली बहना योजना को पार्टी ने गेमचेंजर के बतौर एन चुनाव के पहले लॉच किया, क्या वाकई बीजेपी का ये फार्मूला गेमचेंजर बन गया? सवाल अब ये भी है कि अगर बहनों ने बीजेपी को ये जीत का उपहार दिया है तो बीजेपी क्या फिर शिवराज के सिर पर जीत का सेहरा बांधेगी.

Shivraj Family Photo
शिवराज जीत के बाद पूरे परिवार के साथ

बहनों ने दे दिया रिटर्न गिफ्ट: प्रदेश की एक करोड़ 31 लाख लाड़ली बहनों ने वाकई तस्वीर बदल दी, शिवराज जिन लाड़ली बहनों के बूते लगातार चुनाव प्रचार में जुटे रहे और सिरे से लाड़ली बहना योजना को प्रमोट करते रहे, उनका हर प्रयोग इस चुनाव में कारगर रहा. इसमें दोराय नहीं कि साइलेंट वोटर ने गेम बदल दिया. आम तौर पर माना जाता है कि महिलाएं खास तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में वोट डालने भी कम निकलती हैं और जो निकलती भी हैं तो उनका मत उनका नहीं होता. लेकिन इस बार कमोबेश हर विधानसभा सीट पर पुरुषों से ज्यादा महिलाओं का वोट प्रतिशत था. महिलाओं ने बढ़ चढकर मतदान में हिस्सा लिया. विंध्य जिले की सीटों पर मिसाल के तौर पर देखें तो चित्रकूट, रैगांव, सतना, नागौद, मैहर, अमरपाटन, और रामपुर बघेलान सभी सीटों पर पुरुषों के मुकाबले महिलाओं का वोटिंग परसेंटेज ज्यादा ही रहा.

Read More:

शिवराज के जज्बाती संवादों का असर: चुनाव प्रचार के दौरान शिवराज की जनसभाओं में उनके लंबे चौडे़ भाषण नहीं बल्कि जज्बाती संवाद चर्चा में रहे, उन्होंने जनता से पूछा "चुनाव लड़ूं कि नहीं." उन्होंने जनता से और खासकर महिला वोटरों से ही सभाओं मे सहज संवाद स्थापित किया पूछा "ऐसा भाई मिलेगा क्या...जब चला जाऊंगा तो बहुत याद आऊंगा." जनता में इसका गहरा असर हुआ. वरिष्ठ पत्रकार जयराम शुक्ला कहते हैं "ये आंकड़े बता रहे हैं कि लाड़ली बहना योजना का इम्पैक्ट किस तरह से रहा है, महिलाओं में शिवराज ने मामा के बाद भाई की नई छवि गढ़ी. वैसे तो उनका पूरा कार्यकाल ही सामाजिक सरोकार के साथ संवेदनशील राजनेता के तौर पर रहा है. लेकिन लाड़ली लक्ष्मी से लेकर लाड़ली बहना तक उन्होंने बता दिया कि शिवराज का एमपी में कोई सानी नहीं."

Last Updated :Dec 3, 2023, 5:27 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.