आदिवासी वोट बैंक को साधने की कवायद, रांची में बीजेपी एसटी मोर्चा का होगा राष्ट्रीय सम्मेलन, पीएम मोदी कर सकते हैं शिरकत

author img

By ETV Bharat Jharkhand Desk

Published : Jan 13, 2024, 10:36 PM IST

http://10.10.50.75//jharkhand/13-January-2024/jh-ran-03-bjp-st-morcha-7209874_13012024173422_1301f_1705147462_617.jpg

National conference of BJP ST Morcha. झारखंड के आदिवासी वोटरों पर भाजपा की नजर है. इसके लिए भाजपा का अनुसूचित जनजाति मोर्चा मिशन मोड में काम में जुट गया है. रांची में तिलका मांझी शहादत दिवस पर 11 फरवरी को राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. इसके बाद गुजरात में भी बीजीपी एसटी मोर्चा की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा.

रांची और बड़ोदरा में होने वाले बीजेपी एसटी मोर्चा के राष्ट्रीय सम्मेलन की जानकारी देते राधामोहन दास अग्रवाल और समीर उरांव.

रांची: लोकसभा चुनाव 2024 में जनजाति वोट बैंक को साधने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने मिशन मोड पर काम करना शुरू कर दिया है. इसके तहत बीजेपी अनुसूचित जनजाति मोर्चा रांची और गुजरात के बड़ोदरा में राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करने जा रही है. रांची में 11 फरवरी और बड़ोदरा में 18 फरवरी को अनुसूचित जनजाति मोर्चा का राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. दोनों सम्मेलन की मेजबानी झारखंड करेगा. राज्य का सामाजिक-सांस्कृतिक जत्था प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में प्रस्तुति देगा.

सम्मेलन में पीएम मोदी कर सकते हैं शिरकतः तिलका मांझी की शहादत दिवस पर रांची में होनेवाले राष्ट्रीय सम्मेलन की जानकारी देते हुए भाजपा एसटी मोर्चा के प्रभारी राधामोहन दास अग्रवाल ने बताया कि इस सम्मेलन में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी शिरकत करने की संभावना है. हाल ही में हुए छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव परिणाम ने यह साबित कर दिया है कि बीजेपी के प्रति जनजातियों का रुझान बढ़ा है. इसके पीछे केंद्र की मोदी सरकार द्वारा जनजातियों के लिए किए गए कार्य को माना जा रहा है. जनजाति समाज राष्ट्रीय सम्मेलन के माध्यम से पीएम मोदी को आभार जताने का काम करेंगे.

जनजाति मोर्चा एक लाख गांवों में लगाएगा चौपालः लोकसभा चुनाव 2024 से पहले बीजेपी जनजाति मोर्चा झारखंड सहित देशभर के एक लाख गांवों में चौपाल लगाएगा. इसके माध्यम से केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा जनजातियों के लिए किए गए कार्यों की जानकारी जनता को दी जाएगी. भाजपा एसटी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष समीर उरांव ने कहा कि राष्ट्रीय जनजातीय सम्मेलन में देश भर के जनजातियों का जुटान रांची और बड़ोदरा में होगा. इसके अलावा एसटी मोर्चा देश भर के 10 हजार जिलों में स्थानीय स्तर पर अलग-अलग जनजातियों के समूह का सम्मेलन करेगा. इसके जरिए जनजातियों के कल्याण के लिए मोदी सरकार के द्वारा किए गए कार्यों के बारे में जानकारी दी जाएगी.

जनजाति सम्मेलन को लेकर भाजपा प्रदेश कार्यालय में हुई बैठकः इन सबके बीच जनजाति सम्मेलन को लेकर शनिवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में बैठक की गई. जिसमें भाजपा एसटी मोर्चा के प्रभारी राधामोहन दास अग्रवाल, बीजेपी एसटी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष समीर उरांव, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी, संगठन महामंत्री कर्मवीर सिंह आदि मौजूद थे. बैठक में रांची में होनेवाले सम्मेलन के लिए पूर्व विधायक शिवशंकर उरांव को संयोजक बनाया गया है.

ये भी पढ़ें-

झारखंड में जेएमएम अधिक सीटों पर लड़ेगा चुनाव, सीट शेयरिंग पर दिल्ली में झामुमो-कांग्रेस के बीच बैठक में फाइनल हुआ फॉर्मूला

लोकसभा चुनाव 2024: झारखंड में भाजपा के कौन-कौन सांसद हैं सेफ जोन में, क्या है वजह

लोकसभा चुनाव 2024: भाजपा के किन सांसदों पर मंडरा रहा है खतरे का बादल! क्या है वजह

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.