जमशेदपुर में राज्यपाल से मिला बुजुर्ग दंपती, लगाई न्याय की गुहार

author img

By ETV Bharat Jharkhand Desk

Published : Jan 10, 2024, 8:45 AM IST

Updated : Jan 10, 2024, 9:18 AM IST

elderly couple narrated their problems to Governor In Jamshedpur

Governor In Jamshedpur. जमशेदपुर में राज्यपाल से एक बुजुर्ग दंपती मिला. उन्होंने अपनी पीड़ा उन्हें सुनाई और मदद की गुहार लगाई. दंपती की पीड़ा सुन राज्यपाल ने कार्रवाई के आदेश दिए.

राज्यपाल से मिला बुजुर्ग दंपती

जमशेदपुरः शहर के बागबेड़ा में झारखंड के राज्यपाल के कार्यक्रम मे एक बुजुर्ग दंपती पहुंचा और रो रो कर उनसे न्याय की गुहार लगाई. राज्यपाल ने पीड़ित की बातों को सुनकर एसएसपी से कार्रवाई करते हुए न्याय दिलाने को कहा. जमशेदपुर में राममनोहर लोहिया सेवा संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन शामिल होने पहुंचे थे.

बता दें कि कार्यक्रम के दौरान गोलमुरी थाना क्षेत्र के टुइलाडूंगरी निवासी दंपती ने राज्यपाल के समक्ष अपनी पीड़ा को रो रो कर उजागर किया. उन्होंने बताया कि टूइलाडूंगरी मे उन्होंने 35 लाख का भुगतान कर फ्लैट खरीदा था, जिसमें पार्किंग भी शामिल था. लेकिन बिल्डर उनकी पार्किंग उन्हें नहीं दे रहा है. जबकि वो आये दिन उनके साथ मारपीट करते हैं अपशब्द का इस्तेमाल करते हैं. राज्यपाल ने उपायुक्त और एसएसपी को मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करने का आदेश दिया.

मामले की जानकारी देते हुए पीड़ित मनोज अग्रवाल ने बताया कि गोलमुरी थाना अंतर्गत टुइलाडूंगरी में भोला राम से एक फ्लैट 4 वर्ष पहले खरीदे थे. जहां कर पार्किंग के लिए उन्होंने भोलाराम और उनके पुत्रों को पैसा भी दिया. बावजूद इसके उन्हें पार्किंग नहीं दी जा रही है. जब वे पार्किंग के लिए बात करने जाते हैं, तब भोलाराम और उनके पुत्रों के द्वारा उनके साथ मारपीट की जाती है. गाली गलौज की जाती है. भोलाराम के दोनों बेटे उमाकांत जायसवाल और हुकुमचंद जायसवाल ने पिछले 3 जनवरी को भी मनोज कुमार अग्रवाल और उनकी पत्नी को फ्लैट से नीचे उतारकर बेरहमी से उनकी पिटाई कर डाली. पीड़ित ने बताया कि मामले में थाना में लिखित शिकायत दर्ज की गई है, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई. ऐसे हालात में अब हम आत्महत्या के लिए विवश हो गए हैं.

पीड़ित दंपती ने राज्यपाल से अपनी सारी व्यथा बताई. राज्यपाल ने गंभीरता से उनकी बातों को सुना और उपायुक्त व एसएसपी को त्वरित मामले को संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई का आदेश दिया है. कार्रवाई नहीं होने पर उन्होंने पीड़ित दंपती को राजभवन में सूचित करने को कहा है.

ये भी पढ़ेंः

केंद्र की योजनाओं से झारखंड में कृषि क्षेत्र में हो रहा क्रांतिकारी बदलाव: राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन

खरसावां गोलीकांड के शहीदों का बलिदान हमारे लिए आज भी प्रेरणास्रोत: राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन

नेत्र ज्योति महायज्ञ कार्यक्रम में शामिल हुए राज्यपाल, जमशेदपुर रेड क्रॉस के कार्यों को सराहा

Last Updated :Jan 10, 2024, 9:18 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.