डुओलिंगो ऐप : विश्व स्तर पर 84 लाख से ज्यादा लोग सीख रहे हिंदी

author img

By IANS

Published : Dec 5, 2023, 8:01 PM IST

Duolingo app

दुनिया भर में बड़ी संख्या में हिंदी भाषी लोग अमेरिका स्थित लैंग्वेज लर्निंग ऐप डुओलिंगो पर हिंदी सीख रहे हैं. पढ़ें पूरी खबर..Duolingo app, Hindi learning Duolingo app, Hindi learning app.

नई दिल्ली : अमेरिका स्थित लैंग्वेज लर्निंग ऐप डुओलिंगो ने मंगलवार को खुलासा किया कि 2023 में ऐप पर 23 अरब से ज्यादा पाठ पूरे किए गए और 8.4 मिलियन से ज्यादा शिक्षार्थी ऐप पर सक्रिय रूप से 'हिंदी' सीख रहे हैं. अपनी लैंग्वेज रिपोर्ट 2023 में, डुओलिंगो ने बताया कि ऐप पर सीखने में लगभग डेढ़ अरब घंटे व्यतीत हुए और इस साल दुनिया भर में 32 मिलियन से ज्यादा लोगों ने एक से ज्यादा भाषाएं सीखीं.

हिंदी 2022 में 10वें नंबर से दो पायदान ऊपर चढ़कर 2023 में आठवें नंबर पर पहुंच गई. कंपनी ने कहा कि भारत में डुओलिंगो सीखने वालों के बीच अंग्रेजी के बाद हिंदी दूसरी सबसे लोकप्रिय भाषा के रूप में प्रमुख स्थान रखती है.

डुओलिंगो के क्षेत्रीय विपणन निदेशक करणदीप सिंह कपानी ने कहा, "भाषा विविध संस्कृतियों को समझने और सार्थक संबंधों को बढ़ावा देने के प्रवेश द्वार के रूप में कार्य करती है. हमारी अंतर्दृष्टि भाषा सीखने के उभरते परिदृश्य को उजागर करती है, जो सीमाओं से परे फैली हुई है और नए अनुभवों को अपनाने के लिए भारत के जीवंत उत्साह को दर्शाती है.''

2024 के अंत में, रिपोर्ट ने भारतीय नव वर्ष के संकल्पों में एक उल्लेखनीय बदलाव का खुलासा किया. भाषा सीखना तेजी से प्राथमिकता बनता जा रहा है, 64 प्रतिशत भारतीयों ने इसे प्राथमिकता देने का संकल्प लिया है.

इन भाषा-सीखने के संकल्पों में, 55 प्रतिशत का लक्ष्य व्यक्तिगत विकास, आत्म-सुधार या करियर में उन्नति है, जबकि 75 प्रतिशत भारतीयों ने नए साल में अपने भाषा कौशल का नियमित अभ्यास करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की. अंग्रेजी दुनिया भर में स्टडी के लिए सबसे लोकप्रिय भाषा बनी हुई है. इसे 122 देशों में स्टडी के लिए नंबर एक भाषा का दर्जा दिया गया.

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में, शिक्षा में अंग्रेजी का महत्व विशेष रूप से उल्लेखनीय है, डुओलिंगो पर अंग्रेजी सीखने वाले 40 प्रतिशत ने लैंग्वेज स्टडी के लिए शिक्षा को अपनी प्राथमिक प्रेरणा बताया. इसके अतिरिक्त, भारत में अंग्रेजी सीखने वालों ने प्रतिदिन सबसे अधिक पाठ पूरे किए, जो देश के शैक्षिक परिदृश्य में भाषा के व्यापक महत्व को रेखांकित करता है.

कोरियाई कोर्स वैश्विक रैंकिंग में छठे नंबर पर पहुंच गया. भारत सहित विश्व के कुछ सबसे बड़े देशों में स्टडी की जाने वाली टॉप 10 भाषाओं में कोरियाई को स्थान दिया गया है, जहां इसमें 75 प्रतिशत (वर्ष-दर-वर्ष) वृद्धि हुई है.

ये भी पढ़ें

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.