रोहतक पहुंचे डीजीपी शत्रुजीत कपूर ने किया 90 साल के गुरू रामधारी खोखर को फोन, पूछा हालचाल, जाट कॉलेज के छात्र थे डीजीपी

author img

By ETV Bharat Haryana Desk

Published : Sep 6, 2023, 10:21 PM IST

Updated : Sep 6, 2023, 11:01 PM IST

Shatrujeet Kapoor Guru Ramdhari Khokhar

हरियाणा के डीजीपी शत्रजीत कपूर बुधवार को रोहतक पहुंचे. डीजीपी ने अधिकारियों की मीटिंग लेने के बाद अपने बचपन के गुरू रामधारी खोखर को फोन किया. डीजीपी कपूर ने 90 साल के हो चुके मास्टर रामधारी का हाल चाल पूछा. शत्रुजीत कपूर की पढ़ाई रोहतक के जाट कॉलेज में हुई है.

रोहतक: हरियाणा का डीजीपी बनने के बाद भी शत्रुजीत कपूर बुधवार को रोहतक पहुंचे. उन्होंने पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक ली. मीटिंग के बाद शत्रुजीत कपूर को अपने बचपन के गुरू मास्टर रामधारी खोखर की याद आ गई. उन्होंने शाम 5 बजकर 20 मिनट पर मोबाइल से कॉल करके गुरू मास्टर रामधारी का हालचाल पूछा.

दरअसल डीजीपी बनने के बाद वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी शत्रुजीत कपूर पहली बार रोहतक आए थे. शत्रुजीत का बचपन रोहतक में ही बीता है. उनके पिता हरियाणा सरकार के एक विभाग में अधिकारी थे. तब परिवार सहित ओल्ड हाउसिंग बोर्ड में रहते थे. आईपीएस बनने के बाद उनकी अलग-अलग जगहों पर नियुक्ति रही लेकिन रोहतक से उनका विशेष लगाव है. इस बात की चर्चा उन्होंने बुधवार को पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक में भी की. यही वजह है कि हरियाणा पुलिस की ओर से गुरूग्राम के साथ-साथ रोहतक में भी पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर सेफ सिटी कैंपेन शुरू किया गया है.

ये भी पढ़ें- Haryana New DGP: शत्रुजीत कपूर ने संभाला हरियाणा पुलिस महानिदेशक का कार्यभार, CM मनोहर लाल के हैं करीबी

डीजीपी का पूरा जोर इस बात पर है कि हरियाणा का महत्वपूर्ण जिला होने की वजह से सुरक्षा और कानून व्यवस्था की दृष्टि से किसी भी प्रकार की कोई कमी न रहे. रोहतक में दिन भर अधिकारियों के साथ बैठकों में व्यस्त रहने बाद जब उन्हें फुर्सत मिली तो उन्होंने मोबाइल फोन पर कॉल कर गुरू मास्टर रामधारी खोखर का हालचाल पूछकर स्वस्थ रहने की कामना की.

डीजीपी शत्रुजीत कपूर के टीचर मास्टर रामधारी की उम्र इस समय करीब 90 वर्ष है. वे रोहतक की भरत कॉलोनी में रह रहे हैं. मूलरूप से कंसाला गांव निवासी मास्टर रामधारी, जाट हाई स्कूल रोहतक में अध्यापक रहे हैं. 40 वर्ष से भी अधिक समय तक अध्यापन किया. इस दौरान उन्होंने हजारों विद्यार्थियों को शिक्षा प्रदान की. शत्रुजीत कपूर भी उनके शिष्य रहे.

डीजीपी कपूर ने वर्ष 1992 में जाट हाई स्कूल से दसवीं की परीक्षा पास की थी. मास्टर रामधारी का उनके प्रति विशेष लगाव था. कई वर्ष बाद अपने होनहार और प्रिय विद्यार्थी का फोन आने के बाद मास्टर रामधारी एक ओर जहां भावुक हो गए वहीं गदगद भी नजर आए कि मौजूदा समय में जाट हाई स्कूल में शिक्षा हासिल करने वाला छात्र हरियाणा का डीजीपी है. जाट हाई स्कूल रोहतक में शत्रुजीत कपूर के साथ पढ़ने वाले सहपाठी अब भी उस दौरान के किस्से सुनाते हैं.

ये भी पढ़ें- डीजीपी शत्रुजीत कपूर ने पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की बैठक, दिए ये सख्त निर्देश

Last Updated :Sep 6, 2023, 11:01 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.