जींद में अवैध कॉलोनी पर चला बुलडोजर, 7 बाउंड्री वॉल और तीन कच्चे रास्ते तोड़े

author img

By ETV Bharat Haryana Desk

Published : Jan 12, 2024, 8:23 PM IST

Bulldozer Action Illegal Colony In Jind

Bulldozer Action Illegal Colony In Jind: जींद नगर योजनाकार विभाग ने नरवाना में अवैध रूप से विकसित की जा रही दो कॉलोनियों पर पीला पंजा चलाया. इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात रहा. प्रशासन की टीम ने एक-एक कर सात बाउंड्री वॉल को जेसीबी की सहायता से उखाड़ा.

जींद: जिला नगर योजनाकार विभाग ने नरवाना में अवैध रूप से विकसित की जा रही दो कॉलोनियों पर पीला पंजा चलाया. यहां टीम ने सात बाउंड्री वॉल और तीन कच्चे रास्ते तोड़े. ड्यूटी मजिस्ट्रेट के तौर पर डीटीपी अमित मंढोलिया और भारी पुलिस बल तैनात रहा. अब 18 और 19 को जींद में अवैध कॉलोनियों को ध्वस्त किया जाएगा और 31 जनवरी को फिर से नरवाना में अवैध निर्माण गिराने की कार्रवाई होगी.

जिला नगर योजनाकार विभाग को शिकायत मिली थी कि हिसार रोड पर विकसित की गई अवैध कॉलोनी को लेकर नोटिस जारी किया था, लेकिन नोटिस के बावजूद भी ना तो अवैध कॉलोनियों का निर्माण कार्य नहीं रोका गया और ना ही अवैध निर्माण को हटाया गया. इस पर जिला नगर योजनाकार विभाग का अमला जेसीबी के साथ पहुंचा और यहां अवैध रूप से विकसित की जा रही कॉलोनी को ध्वस्त किया.

प्रशासन की टीम ने एक-एक कर सात बाउंड्री वॉल को जेसीबी की सहायता से उखाड़ा. इसके बाद यहां वाहनों के लिए आने-जाने के लिए बनाए गए तीन रास्तों को उखाड़ दिया. गौरतलब है कि कई स्थानों पर सड़कों के साथ कृषि योग्य जमीन पर अवैध रूप से निर्माण किए गए हैं और अवैध रूप से कॉलोनियां काटी गई हैं. नियमानुसार कृषि योग्य जमीन को रिहायशी में बदलने के लिए जिला नगर योजनाकार से प्रमाण पत्र लेना जरूरी है.

जिसके लिए सरकार द्वारा गाइड लाइन भी जारी की हुई है. बावजूद इसके नियमों को ताक में रखकर धड़ल्ले से अवैध कॉलोनी काटी जा रही है. जींद नगर योजनाकार अमित मंढोलिया ने बताया कि अगर किसी को प्लॉट आदि खरीदना है तो, पहले जिला नगर योजनाकार विभाग में पता कर लें कि जहां प्लॉट ले रहे हैं, वो कॉलोनी वैध है या नहीं. अवैध निर्माण किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- नूंह में ट्यूबवेल ऑपरेटरों का प्रदर्शन, सरकार को दी आंदोलन की चेतावनी

ये भी पढ़ें- हिट एंड रन कानून के विरोध में जींद ट्रक यूनियन की हड़ताल, 150 से ज्यादा ट्रकों के पहिए थमे

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.