पटवारी और कानूनगों की हड़ताल से परेशान लोग, काट रहे कार्यालयों के चक्कर

author img

By ETV Bharat Haryana Desk

Published : Jan 4, 2024, 3:50 PM IST

kanungo strike in haryana

Haryana Patwaris Strike: हरियाणा में दो दिन से जारी पटवारी और कानूनगो की हड़ताल से लोगों की परेशानियां बढ़ने लगी हैं. रजिस्ट्री समेत कई काम के लिए कार्यालय आने वाले लोग ऑफिस के चक्कर काट रहे हैं.

पटवारी और कानूनगों की हड़ताल से परेशान लोग.

चरखी दादरी: पिछले दो दिन से मांगों को लेकर तीन दिवसीय हड़ताल पर बैठे पटवारी और कानूनगो की हड़ताल के चलते रेवेन्यू से संबंधित काम करवाने के लिए पहुंचे रहे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. हड़ताली पटवारी और कानूनगों ने दूसरे दिन लघु सचिवालय परिसर में धरना देते हुए रोष प्रदर्शन किया और मांगे पूरी नहीं करने पर हड़ताल को अनिश्चितकालीन करने का अल्टीमेटम दिया. उधर हड़ताल के चलते आम नागरिक कार्यालयों के चक्कर काट रहे हैं.

बता दें कि दी रेवेन्यू पटवार एवं कानूनगो एसोसिएशन हरियाणा के बैनर तले पटवारियों और कानूनगो ने बुधवार से दादरी के लघु सचिवालय परिसर में तीन दिवसीय हड़ताल शुरू करते हुए धरना दिया जा रहा है. पटवारियों के धरने पर दूसरे कर्मचारी संगठनों के लोगों ने पहुंचकर उनकी मांग को जायज बताते हुए समर्थन दिया. इस दौरान धरनारत कर्मचारियों ने नारेबाजी कर रोष जताया और उनकी मांग पूरी नहीं होने पर आर-पास की लड़ाई का ऐलान किया.

kanungo strike in haryana
ऑफिस में खाली कुर्सियां.

उधर हड़ताल के कारण पटवारियों के कार्यालयों में रेवेन्यू से संबंधित कार्य करवाने पहुंचे लोग परेशान नजर आये. आम लोगों ने कहा कि वो दो दिन से अपने कार्य करवाने के लिए चक्कर काट रहे हैं. हड़ताल के चलते प्रशासन को दूसरे कर्मचारियों की ड्यूटी लगानी चाहिए थी. वहीं एसोसएिशन के प्रधान कुलबीर सांगवान ने कहा कि उनकी हड़ताल के कारण लोगों को परेशानियां जरूर हो रही हैं. अगर सरकार उनकी मांगें मान ले तो लोगों के पेंडिंग काम जल्दी पूरे कर दिये जायेंगे.

ये भी पढ़ें- हरियाणा में पटवारियों ने किया हड़ताल का ऐलान, वेतनमान सहित गई मांगों को लेकर नाराज

ये भी पढ़ें- हरियाणा के सभी जिलों में पटवारी और कानूनगो की हड़ताल, लोगों को हो रही परेशानी

ये भी पढ़ें- यमुनानगर में पटवारी का असिस्टेंट 8 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार, फर्द पर नाम चढ़ाने के लिए मांग रहा था पैसा

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.