MP के सतना में राहुल गांधी जनसभा में बोले- मध्यप्रदेश में 53 अफसर सरकार चलाते हैं, इनमें से केवल एक ही OBC

author img

By ETV Bharat Hindi Desk

Published : Nov 10, 2023, 1:21 PM IST

Updated : Nov 10, 2023, 2:59 PM IST

Rahul Gandhi Rally satna

GST to destroy farmers मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार अब पूरे शबाब पर है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार जनसभाएं शुक्रवार को सतना में आयोजित रैली में राहुल गांधी ने कहा कि मध्यप्रदेश में 53 अफसर सरकार चलाते हैं. इनमें से केवल एक ही ओबीसी है. मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जीएसटी कोई टैक्स नहीं है. यह किसानों, छोटे व्यापारियों और कारोबारियों पर सीधा हमला है. जीएसटी छोटे व्यापारियों को खत्म करने का हथियार है. Rahul Gandhi Rally Satna

राहुल गांधी का भाजपा पर सीधा निशाना

सतना। सतना में कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा "बड़े उद्योगपति रोजगार नहीं देते हैं. छोटे व्यापारी जो छोटे और मध्यम व्यवसाय चलाते हैं, जो छोटे और मध्यम स्तर के विनिर्माण में हैं, जो दुकानें चलाते हैं, ये लोग रोजगार प्रदान करते हैं. लाखों छोटी इकाइयां हैं, जिन्होंने हमारे युवाओं को रोजगार दिया. जब भाजपा और पीएम मोदी सरकार सत्ता में आई तो उन्होंने इन इकाइयों पर हमला शुरू कर दिया. उन्होंने नोटबंदी और जीएसटी के साथ छोटे व्यापारियों और छोटे और मध्यम व्यवसायों पर हमला किया. जीएसटी कोई टैक्स नहीं है. यह किसानों, छोटे व्यापारियों और कारोबारियों पर हमला है. यह छोटे व्यापारियों को खत्म करने का हथियार है." PM Modi brought GST

फिर उठाया ओबीसी का मुद्दा : जातीय जनगणना का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मध्यप्रदेश में सरकार को 53 अफसर चलाते हैं. ताज्जुब की बात है कि इनमें सिर्फ एक अफसर ही ओबीसी वर्ग का है. राहुल गांधी ने कहा कि यदि मध्यप्रदेश का बजट 100 रुपये है तो ओबीसी अफसर सिर्फ 33 पैसे पर खर्च करने पर ही निर्णय ले पाता है. इसका सीधी सा मतलब ये है कि जिसकी आबादी 50 फीसदी है, उसे 100 रुपये में केवल 33 पैसे का अधिकार है.

जीएसटी के दुष्प्रभाव गिनाए : राहुल गांधी ने जीएसटी के दुष्प्रभावों को गिनाते हुए कहा कि ऐसा पहली बार हुआ कि किसान को भी टैक्स देना पड़ रहा है. यहां तक कि देश के गरीब लोगों को भी जीएसटी के जरिए चूसा जा रहा है. गरीबों से पैसा वसूलकर पीएम मोदी अपने उद्योगपित मित्रों की जेब भरते हैं. पीएम मोदी जीएसटी से मिला अधिकांश पैसा अपने तीन-चार उद्योगपतियों को सौंप रहे हैं. अडानी भारत की धनराशि लेकर विदेशों में निवेश कर रहे हैं. PM Modi brought GST

  • #WATCH | Satna, Madhya Pradesh: Congress leader Rahul Gandhi says, "Big industrialists do not provide employment. Small traders who run small and medium businesses, who are into small and medium scale manufacturing, who run shops, these people provide employment... There used to… pic.twitter.com/Qh2Wmjgcde

    — ANI (@ANI) November 10, 2023 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

अडानी पर फिर निशाना : अडानी पर बरसते हुए राहुल गांधी न कहा कि इन्होंने अमेरिका, जापान और दुबई में संपत्ति खरीदी है. मतलब जीएसटी के मध्यम से पैसे आपसे लिए और पीएम मोदी ने ये राशि उद्योगपतियों को दे दी. राहुल गांधी ने कांग्रेस सरकार की मनरेगा योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि कांग्रेस ने गरीबों की जेब में पैसा डालने की योजना शुरू की थी. इसके अच्छे परिणाम सामने आए. लेकिन पीएम मोदी ने इस योजना का दम निकाल दिया. GST to destroy farmers

Also Read:

किसानों की आत्महत्या का मामला उठाया : इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी और शिवराज ने कांग्रेस की सरकार चुराई है. पीएम मोदी पर निशान साधते हुए कहा कि वह अडानी के लिए ही काम करते हैं. पीएम मोदी रोजाना लाखों रुपये की ड्रेस पहनते हैं. मध्यप्रदेश में 28 साल की बीजेपी सरकार में किसान मरने पर मजबूर हैं. कितने किसानों ने एमपी में सुसाइड किया, इस बारे में पीएम मोदी व शिवराज क्यों एक शब्द नहीं बोलते. एमपी मे कुछ सालों में ही 670 किसान जान दे चुके हैं. क्योंकि किसान परेशान हैं. इनकी कोई सुनने वाला नही है. एमपी की बीजेपी सरकार तो उद्योगपतियों की फिक्र करती है. इन्हें मजदूरों व किसानों से क्या लेना-देना. मध्यप्रदेश में बीजेपी के शासन में अब तक 18 हजार किसान सुसाइड कर चुके हैं. GST to destroy farmers

Last Updated :Nov 10, 2023, 2:59 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.