उत्तराखंड में बड़ा हादसा, PMO उपसचिव के भाई समेत 4 वनाधिकारियों की मौत, महिला नहर में लापता, 5 घायल

author img

By ETV Bharat Hindi Team

Published : Jan 8, 2024, 6:21 PM IST

Updated : Jan 8, 2024, 9:14 PM IST

उत्तराखंड में बड़ा हादसा

उत्तराखंड में ऋषिकेश में बड़ा हादसा हो गया. यहां एक गाड़ी सड़क हादसे का शिकार हो गई. बताया जा रहा है कि इस हादसे में पीएमओ उपसचिव (प्रधानमंत्री कार्यालय) मंगेश घिल्डियाल के भाई समेत चार लोगों की मौत हो गई. वहीं एक लापता बताए जा रहे है. जबकि 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और वन मंत्री सुबोध उनियाल में इस हादसे पर दु:ख जताया है.

सड़क हादसे में पीएमओ उपसचिव के भाई समेत 4 वनाधिकारियों की मौत

ऋषिकेश: देहरादून जिले के ऋषिकेश क्षेत्र में सोमवार 8 जनवरी शाम को बड़ा हादसा हो गया. बताया जा रहा है कि चीला के पास इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल के ट्रायल के दौरान ये बड़ा हादसा हुआ है. जानकारी के मुताबिक गाड़ी सड़क किनारे पेड़ से टकरा कर पलट गई थी, जिससे गाड़ी में बैठे दो अधिकारी सीधे चीला शक्ति नगर में जा गिरे. हादसा ऋषिकेश के पास चीला इलाके में हुआ.

जानकारी के अनुसार राजाजी टाइगर रिजर्व के चीला रेंज में इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल के ट्रायल हो रहा था, तभी बड़ा हादसा हो गया. खबर है कि इस हादसे में रेंजर और डिप्टी रेंजर समेत चार अधिकारियों की मौत हो गई, जबकि 5 कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हैं. इसके अलावा एक महिला कर्मचारी लापता हैं. मरने वालों में एक वन क्षेत्र अधिकारी चीला शैलेश घिल्डियाल हैं, जो पीएमओ उप सचिव (प्रधानमंत्री कार्यालय) मंगेश घिल्डियाल के भाई हैं.
पढ़ें- पिथौरागढ़ और तराई ईस्ट में जहरीले सांपों का आतंक, आंकड़ों से वन महकमा भी हैरान

वन क्षेत्र अधिकारी चीला शैलेश घिल्डियाल के अलावा वन क्षेत्राधिकार प्रमोद ध्यानी और सैफ अली खान उर्फ सैफी (महावत) की भी मौत की पुष्टि हुई है. वहीं ड्राइवर हिमांशु गुसाईं घायल बताया जा रहा है. इसके अलावा पांच लोग घायल बताए जा रहे है. वहीं एक महिला कर्मचारी लापता है.

rishikesh
इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल के ट्रायल के दौरान ये हादसा हुआ है.

लापता महिला की तलाश में गोताखोरों की टीम सर्च ऑपरेशन में लगी हुई है. हादसे कैसे हुआ इसकी अभीतक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है. लेकिन बताया जा रहा है कि ड्राइवर का गाड़ी से नियंत्रण खो दिया था, जिसके कारण यह घटना हुई है. ट्रायल के दौरान कंपनी का ही ड्राइवर गाड़ी चला रहा था. प्रमुख वन संरक्षक हाफ अनूप मलिक ने ईटीवी भारत से बात करते हुए इस घटना की जानकारी दी है. फिलहाल दुर्घटना के पीछे के कारण जानने की कोशिश हो रही है.

इलेक्ट्रिकल व्हीकल के ट्रायल लेने के दौरान इस दुर्घटना के होने की पुष्टि प्रमुख वन संरक्षक हाफ अनूप मलिक ने ही की है. मामले की सूचना मिलते ही पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई थी, जो आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है. इस घटना के बाद वन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है.

uttarakhand
चीला शक्ति नगर में गिरे दो लोगों की तलाश में जुटी एसटीआरएफ की टीम.

वन विभाग के वाहन में कुल 10 लोग बैठे हुए थे, जिनमें से 04 की मृत्यु हो गई है और 05 घायल हैं. वहीं एक लापता है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और उत्तराखंड सरकार में वन मंत्री सुबोध उनियाल में इस हादसे अपना दु:ख व्यक्त किया है. दोनों ने दुर्घटना में मारे गये कार्मिकों की आत्मा की शांति एवं शोक संतप्त परिवारजनों प्रति अपने संवेदना प्रकट की है. साथ ही उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की.

मृतकों का विवरण-

  1. शैलेश घिल्डियाल (रेंजर चीला रेंज)
  2. प्रमोद ध्यानी (डिप्टी रेंजर चीला रेंज)
  3. सैफ अली खान पुत्र खलील निवासी चीला कॉलोनी (वन कर्मचारी)
  4. कुलराज सिंह (अक्षा ग्रुप दिल्ली)

घायलों का विवरण-

  1. हिमांशु गोसाई पुत्र गोविंद सिंह (वन विभाग)
  2. राकेश नौटियाल (वन विभाग)
  3. अंकुश (अक्षा ग्रुप दिल्ली)
  4. अमित सेमवाल (वन कर्मचारी)
  5. अश्वनी पुत्र बीजू पट्टी
  6. आलोकी (वार्डन राजा जी नेशनल पार्क चीला) अभी लापता है.
Last Updated :Jan 8, 2024, 9:14 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.