MP की हाई प्रोफाइल सीट बुधनी, यहां मामा शिवराज, मिर्ची बाबा और मस्ताल में मुकाबला, साधू-सियासत और सिनेमा का तड़का

author img

By ETV Bharat Hindi Desk

Published : Nov 16, 2023, 6:42 PM IST

Updated : Nov 16, 2023, 11:01 PM IST

Madhya Pradesh High profile Seat Budhani

MP High Profile Seat Budhani: मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को एक चरण में मतदान होना है. ऐसे में अगर सबसे हाई प्रोफाइल सीट की बात करें तो वह खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का गढ़ बुधनी है. यहां शिवराज सिंह चौहान एक तरफा जीत हासिल करते हैं. इस बार यह सीट काफी सुर्खियों में है. इसकी वजह यहां के बाकि पार्टी से उतरे प्रत्याशी हैं. पढ़िए हाई प्रोफाइल बुधनी सीट की स्टोरी...

भोपाल। पांच राज्यों के चुनाव में देश की हाईप्रोफाईल सीटों पर गिनी जाने वाली बुधनी विधानसभा सीट का चुनाव वोटर के एंटरटेनमेंट का कम्पलीट डोज भी रहा है. शिवराज सिंह चौहान का निर्वाचन क्षेत्र होने की वजह से अब तक बुधनी सीट सुर्खियों में रही थी. लेकिन 2023 के विधानसभा चुनाव में इस सीट की चर्चा बॉलीवुड एक्टर विक्रम मस्ताल और मिर्ची बाबा की वजह से और ज्यादा है. राजनीति में पहला ही चुनाव एमपी में सबसे ज्यादा रिकार्ड वाले सीएम के मुकाबले में लड़ रहे विक्रम मस्ताल को कांग्रेस ने उतारा है. तो समाजवादी पार्टी ने 2018 से विवादों में सुनाई देते रहे मिर्ची बाबा को मौका दिया है.

Madhya Pradesh High profile Seat Budhani
सभा को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज

नेता के मुकाबले खड़ा अभिनेता...बुधनी का चुनाव: बुधनी विधानसभा सीट को एमपी में बीजेपी के गढ़ के तौर पर जाना जाता है. चार बार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधनी को लेकर इतने आश्वस्त हो चुके हैं कि वो वोट मांगने बुधनी जाते भी नहीं. यहां पूरा प्रचार अब उनकी पत्नि साधना सिंह और बेटे संभालते हैं. कांग्रेस ने इस बार बुधनी का मुकाबला रोचक बना दिया. जब पार्टी ने यहां से विक्रम मस्ताल को अपना कैंडिडेट बनाया.

Madhya Pradesh High profile Seat Budhani
विक्रम मस्ताल के कांग्रेस ज्वाइन करने की फोटो

बुधनी में ही जन्मे चालीस बरस के विक्रम मस्ताल ने चुनाव लड़ने की वजह ही ये बताई कि वे बुधनी के हालात देखकर इतने दुखी थे कि उन्होंने चुनाव लड़ने का मन बना लिया. दिलचस्प बात ये है कि जब वोट मांगने निकले तो उन्होंने शिवराज सिंह चौहान के बुधनी में उनके बड़े भाई से भी अपने लिए वोट मांगने में संकोच नहीं किया. कांग्रेस इस सीट को लेकर तंज कसती रही है कि इस बार बुधनी में एक्टर और एक्टर के बीच ही मुकाबला है.

बाबा...मिर्ची किसे लगी: रेप के आरोप से बरी होने के बाद सियासत में आए मिर्ची बाबा को समाजवादी पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया. मिर्ची बाबा के सियासी स्टंट की वजह से भी ये चुनाव सुर्खियों में रहा. कभी उनके साड़ियां बांटने की शिकायत चुनाव आयोग में हुई. इस मामले में उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हुई. लेकिन मिर्ची बाबा ने सपा सुप्रीमो की भी उस समय किरकिरी करवा दी. जब बुधनी में मिर्ची बाबा के समर्थन में सभा लेने पहुंचे अखिलेश यादव को खाली कुर्सियां देख उल्टे पांव लौटना पड़ा.

Madhya Pradesh High profile Seat Budhani
मिर्ची सपा प्रत्याशी

यहां पढ़ें...

82 साल के बुजुर्ग शिवराज के सामने: इस बार के चुनाव में सीएम शिवराज के बुधनी विधानसभा में सबसे बुजुर्ग प्रत्याशी मैदान में है. अब्दुल रशीद की उम्र 82 साल है. इनका मुकाबला तेज तर्रार प्रत्याशी शिवराज सिंह चौहान से है. जो की पिछले 18 साल से मुख्यमंत्री हैं. 2018 में भी अब्दुल रशीद मैदान में निर्दलीय उतरे थे.

MP High Profile Seat Budhani
अब्दुल रशीद निर्दलीय प्रत्याशी

बुधनी में जीत की हैट्रिक बना चुके हैं शिवराज: सीएम शिवराज बुधनी से छठवीं बार चुनाव मैदान में हैं. बड़ी बात ये है कि अब वे बुधनी चुनाव प्रचार के लिए भी नहीं जाते. बुधनी सीट से 1990 में सीएम शिवराज ने पहली बार चुनाव लड़ा फिर मुख्यमंत्री बनने के बाद दूसरा चुनाव 2006 में हुआ. फिर 2008 से 2018 तक तीन चुनावो में बुधनी से जीत कर सीएम शिवराज विधानसभा पहुंचे. और मुख्यमत्री भी बनें.

Last Updated :Nov 16, 2023, 11:01 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.