Bihar Crime : अधेड़ का हाथ पैर बांधकर की बेरहमी से पिटाई, टोना-टोटका में कर दी हत्या

author img

By

Published : Aug 13, 2023, 10:57 PM IST

Etv Bharat

गया में हत्या का मामला सामने आया है. ओझा गुनी के आरोप में एक व्यक्ति की हाथ पैर बांधकर जमकर पिटाई की गई. मौत के घाट उतारने के बाद आरोपियों ने उसे झाड़ी में फेंक दिया और फरार हो गए. परिजन के आरोप के अनुसार मृतक के गोतिया ने ही घटना को अंजाम दिया है. पढ़ें पूरी खबर..

गया में हत्या

गया : बिहार के गया में ओझा गुनी के आरोप में शख्स की हत्या कर दी गई. इस वारदात को क्रूरतापूर्ण तरीके से अंजाम दिया गया है. 47 वर्षीय कथित ओझा कारू मांझी को पकड़कर उसके गोतिया के लोगों ने ही निर्वस्त्र कर दिया. फिर हाथ पैर बांध उसकी पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी. इंसानियत को झकझोर देने वाली यह घटना जिले के टनकुप्पा थाना क्षेत्र की है. दुस्साहस का आलम यह था कि कारू को घर से घसीट कर परिवार वालों के सामने से आरोपी ले गए.

ये भी पढ़ें : Gaya Crime News : टांगी पर लगे खून के धब्बे ने खोला ओझा गुनी करनेवाले की हत्या का राज, बहनोई गिरफ्तार

परिवार के सामने से घसीट कर ले गए आरोपी : . बताया जाता है कि टनकुप्पा थाना क्षेत्र के बाकीचक गांव निवासी कारु मांझी को ओझा गुनी करने के आरोप में उसके गोतिया के ही सदस्य घर से खींचकर परिवार वालों के सामने से घसीट कर ले गए और फिर घर के पास में इचोय आहर के पास लाठी -डंडे, राॅड आदि से पीट-पीटकर हत्या कर दी. इसके बाद सभी आरोपी वहां से भाग निकले.

हाथ पैर बंधा निर्वस्त्र शव बरामद : घटना की जानकारी मिलने के बाद टनकुप्पा थाना की पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस हाथ-पैर बंधे नग्न हालत में रहे कारू मांझी के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया है. इस तरह की घटना की जानकारी के बाद वजीरगंज डीएसपी कुमार वैभव भी घटनास्थल पर पहुंचे थे. शव को देखने से साफ प्रतीत हो रहा था, कि मानवता की हद पार कर घटना को अंजाम दिया गया है.

ओझा गुनी का लगाया आरोप : घटना का कारण ओझा गुनी बताया गया है. जानकारी के अनुसार कुछ दिन पूर्व कारू मांझी के चचेरे भाई महेंद्र मांझी का एक भाई दूसरे प्रदेश में कमाने गया था. वहां उसकी ट्रेन हादसे में मौत हो गई थी. उसकी मौत होने के बाद महेंद्र मांझी अपने चचेरे भाई कारू मांझी पर आरोप लगा रहा था कि उसपर ओझा गुनी कर दिया गया. इससे उसकी मौत हो गई. इसे लेकर महेंद्र मांझी आए दिन कारू मांझी के साथ लड़ाई-झगड़ा करता था.

तीन लोग हिरासत में : रविवार को इस घटना के पूर्व शनिवार को भी महेंद्र माझी ने परिजनों के साथ मिलकर कारू मांझी के साथ मारपीट की थी. इस मामले को लेकर मृतका की पत्नी प्यारी देवी से पुलिस ने घटना की जानकारी ली. प्यारी देवी के फर्द बयान पर गोतिया के महेंद्र मांझी, उसकी पत्नी कारी देवी, पुत्र वीरेंद्र मांझी, दीप रंजन कुमार समेत अन्य को खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. इस मामले को लेकर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है.

"एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया है. शव बरामद कर पुलिस मामले में कार्रवाई कर रही है. मृतक की पत्नी के बयान के आधार पर केस दर्ज कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. कुछ को हिरासत में लिया गया है".- रंजन चौधरी, थानाध्यक्ष टनकुप्पा

कारू मांझी को ओझा जी कहते थे लोग: घटना की जानकारी लेने के बाद पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुट गई है. टनकुप्पा थानाध्यक्ष रंजन चौधरी के नेतृत्व में हुई छापेमारी में अब तक तीन को हिरासत में लिया गया है. ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार कारू मांझी ओझा जी के नाम से भी जाना जाता था. ओझा गुनी का वह काम करता था.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.