Chardham Yatra 2023: संपन्न हुई चारधाम यात्रा, टूटे सारे रिकॉर्ड, 56 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने किये दर्शन

author img

By ETV Bharat Hindi Desk

Published : Nov 18, 2023, 9:23 PM IST

Updated : Dec 6, 2023, 11:17 AM IST

Chardham Yatra 2023

उत्तराखंड चारधाम यात्रा 2023 संपन्न हो गई है. चारों धामों के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिये गये हैं. इस साल चारधाम यात्रा ने सारे रिकॉर्ड ब्रेक किये हैं. इस साल चारधाम यात्रा में 56 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने मत्था टेका. वहीं, वीवीआईपी दर्शनों से भी बीकेटीसी का खजाना भरा.

देहरादून(उत्तराखंड): चारधाम की यात्रा बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के साथ संपन्न हो गई है. आज(18 नवंबर) को पूरे विधि विधान के साथ दोपहर 3. 33 मिनट पर बदरीनाथ धाम के कपाट बंद किये गये. इस दौरान 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने बदरी विशाल के दर्शन किये. इस साल रिकॉर्डतोड़ 18 लाख 36 हजार 519 श्रद्धालु बदरीनाथ धाम पहुंचे. केदारनाथ में भी इस साल 19,61,277 श्रद्धालुओं ने दर्शन किये. कुल मिलाकर चारधाम यात्रा ने 2023 में यात्रा के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये हैं. इस साल 38 लाख के अधिक श्रद्धालु बदरी केदार पहुंचे.

Chardham Yatra 2023
चारधाम यात्रा के आंकड़े

चारधाम यात्रा ने रिकॉर्ड किये ब्रेक: उत्तराखंड चार धाम यात्रा ने इस बार आंकड़ो के मामले में सारे रिकॉर्ड ब्रेक किये हैं. पिछले सालों की तुलना में इस साल करीब 10 लाख अधिक श्रद्धालु चारधाम धाम में दर्शन करने पहुंचे. इस साल 56 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने चारधाम में मत्था टेका. जिसमें केदारनाथ धाम में 19 लाख 55 हज़ार 415, बदरीनाथ धाम में 18 लाख 36 हज़ार 519, गंगोत्री धाम में 9 लाख 04 हजार 869, यमुनोत्री धाम में 7 लाख 35 हज़ार 040 औऱ हेमकुंड साहिब में 1 लाख 77 हज़ार 463 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं.चारधाम यात्रा में इस साल 245 श्रद्धालुओं की मौत हुई.

पढे़ं- शीतकाल के लिए बंद हुए बाबा केदार के कपाट, 19 लाख से ज्यादा भक्तों ने किए दर्शन, अब ओंकारेश्वर में देंगे दर्शन

14 नवंबर से शुरू हुआ सिलसिला: चारधाम के कपाट बंद होने का सिलसिला 14 नवंबर से शुरू हुआ. सबसे पहले गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद हुए. इसके बाद 15 नवंबर को यमुनोत्री और केदारनाथ के कपाट मंत्रोच्चार के साथ बंद हुए. इसके बाद आज भगवान बदरी विशाल के कपाट बंद हुए. इस दौरान सेना के बैंड की मौजूदगी भी रही. जिसकी भक्तिमय धुनों से बदरीनाथ धाम गुंजायमान हुआ.

Chardham Yatra 2023
बंद हुए केदारनाथ के कपाट

पढे़ं-उत्तराखंडः गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद, श्रद्धालुओं ने सुरंग में फंसे मजदूरों के सफल रेस्क्यू के लिए की प्रार्थना

वीआईपी दर्शनों ने भरा बीकेटीसी का खजाना: उत्तराखंड चारधाम यात्रा में इस बार बड़ी संख्या में वीआईपी पहुंचे. 31 अक्टूबर तक 51,696 वीआईपी ने चारधाम के दर्शन किये. जिसमें केदारनाथ धाम में 15,612 वीआईपी पहुंचे. बदरीनाथ में इनकी संख्या 36,084 रही. वीआईपी दर्शन से बीकेटीसी को एक करोड़ 55 लाख 08 हजार 800 रुपए की कमाई हुई. जिसमें केदारनाथ धाम में 46,83,600रुपए और बदरीनाथ धाम ने वीआईपी दर्शन से 1,08,25,200 रुपए की कमाई हुई.

  • जय बदरी विशाल!

    चारधामों में से एक, करोड़ों भक्तों की आस्था के केंद्र, भू-बैकुंठ श्री बदरीनाथ धाम के कपाट वैदिक मंत्रोच्चार के साथ पूर्ण विधि-विधान से शीतकाल हेतु बंद कर दिए गए हैं। इस वर्ष देश-विदेश से बदरी नाथ धाम में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या ने नया कीर्तिमान स्थापित किया… pic.twitter.com/WTrMmrbQ9F

    — Pushkar Singh Dhami (@pushkardhami) November 18, 2023 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

पढे़ं-Chardham Yatra 2023: कई मायनों में खास रही चारधाम यात्रा, टूटे कई रिकॉर्ड, चर्चाओं में रहे ये विवाद

बता दें इस साल 22 अप्रैल को चारधाम यात्रा की शुरुआत हुई थी. गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट सबसे पहले खोले गये थे. इसके बाद 25 अप्रैल को केदारनाथ और 27 अप्रैल को बदरीनाथ धाम के कपाट खोले गये. धामों में पीएम मोदी के नाम से पहली पूजा की गई.

Last Updated :Dec 6, 2023, 11:17 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.