शिवपुरी में चुनावी मतदान के बाद खूनी संघर्ष मामले में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, आरोपियों के घर किए जमींदोज

author img

By ETV Bharat Hindi Team

Published : Nov 19, 2023, 1:54 PM IST

Updated : Nov 19, 2023, 2:23 PM IST

MP Election 2023

जिले में चकरामपुर गांव में 17 नवंबर शुक्रवार को मतदान के बाद दो गुटों में कुशवाह और भदौरिया परिवार में खूनी संघर्ष देखने को मिला. जहां रविवार को 3 लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए आरोपियों पर कार्रवाई की है.

प्रशासन की कार्रवाई

शिवपुरी। जिले के चकरामपुर गांव में 17 नवंबर शुक्रवार को मतदान के बाद दो गुटों में कुशवाह और भदौरिया परिवार में खूनी संघर्ष हो गया. इस खूनी संघर्ष में भदौरिया परिवार के 3 लोगों की इलाज के दौरान शनिवार को ग्वालियर में मौत हो गई. जबकि, कुशवाह पक्ष के एक युवक को गोली लगी है, जिसका ग्वालियर में इलाज कराया जा रहा है. पुलिस ने इस मामले में शुक्रवार की रात को ही दोनों ही पक्षों पर बलवा और हत्या के प्रयास का क्रास मामला दर्ज कर लिया है.

इलाज के दौरान एक पक्ष के तीन लोगों की मौत के बाद और नरवर पुलिस थाने के सामने सड़क पर क्षत्रिय समाज द्वारा किए गए प्रदर्शन के बाद हरकत में आए प्रशासन ने शनिवार की देर शाम आरोपियों के घर पर बुलडोजर चलाकर जमींदोज करने की कार्रवाई को अंजाम दिया.

प्रशासन ने आरोपियों के 4 मकानों को किया जमीदोज: शिवपुरी जिले के चकरामपुर में चुनाव के बाद हुई हिंसा में भदौरिया परिवार के 3 लोगों की मौत के बाद क्षत्रिय समाज आक्रोशित हो उठा. उन्होंने नरवर पुलिस थाने के सामने सड़क पर जाम लगाकर प्रदर्शन किया. उनकी मांग थी कि पुलिस आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करे और इस जघन्य हत्याकांड को अंजाम देने वाले आरोपियों के घर तोड़े जाएं.

तीन लोगों की मौत और क्षत्रिय समाज के प्रदर्शन के बाद प्रशासन हरकत में आया और इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले चार आरोपियों के घरों पर प्रशासन बुलडोजर चला कर जमींदोज कर दिया.

ये है मामला: दरअसल चकरामपुर गांव में करीब दो माह पहले गणेश विसर्जन के जुलूस में डीजे बजाने को लेकर कुशवाह और भदोरिया परिवार में विवाद हो गया था. इस विवाद में कुशवाह पक्ष के एक युवक को गोली लगी थी. तभी से दोनों पक्षों में विवाद चल रहा था. बताया जा रहा है कि 17 नवंबर शुक्रवार मतदान समाप्ति के बाद बीजेपी के पोलिंग एजेंट बने लक्ष्मण भदौरिया से फिर से कुशवाह पक्ष का विवाद हो गया. जिसके बाद भदोरिया परिवार की ओर से चलाई गई.

गोली से कुशवाह परिवार का एक युवक घायल हो गया. कुशवाह बहुल्य चकरामपुर गांव में इससे तनाव फैल गया. भदोरिया परिवार अपनी बोलेरो कार से गांव से भाग रहा था, तभी 35 से 40 कुशवाह समाज के लोगों ने उन्हें घेर लिया. आरोप है कि गाड़ी से बाहर नहीं निकलने पर आक्रोशित लोगों ने गाड़ी में पेट्रोल डीजल डालकर आग लगा दी. जैसे- तैसे करके भदोरिया परिवार गाड़ी से बाहर निकाला तो कुशवाह समाज के लोगों ने उन पर लाठी डंडों कुल्हाड़ी से हमला कर दिया.

ये भी पढ़ें...

इस हमले में आशादेवी भदोरिया उम्र 42 वर्ष निवासी चकरामपुर छतरपुर निवासी उनका भतीजा अमर सिंह उर्फ हिमांशु 20 वर्ष लक्ष्मण भदोरिया उम्र 45 वर्ष की मौत हो गई. वहीं आशादेवी के पति मुन्ना भदौरिया दो बेटे राजेंद्र और भोला उर्फ योगेंद्र सिंह और भतीजा सौरभ सेंगर घायल हैं. कुशवाह पक्ष से भी चकरामपुर निवासी दिनेश के हाथ में गोली लग गई.

4 मकान जमींदोज 12 आरोपी गिरफ्तार: करैरा एसडीओपी शिवनारायण मुकाती ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस ने अब तक इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपियों की तलाश में भी पुलिस टीमें लगातार दबिश दे रही हैं. पुलिस के साथ प्रशासन द्वारा भी आरोपियों के अवैध निर्माण पर कार्रवाई करते हुए 4 मकानों को जमींदोज करने की कार्रवाई की गई है.

Last Updated :Nov 19, 2023, 2:23 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.