बगहा: पीपी तटबंध पर पूरा हुआ सुरक्षात्मक कार्य, अभियंताओं की टीम कर रही है निगरानी

author img

By

Published : Aug 13, 2020, 3:29 PM IST

बगहा

एसडीएम विशाल राज ने बताया कि गंडक नदी का जलस्तर कम होते ही कटाव शुरू हो गया था. जिस पर सुरक्षात्मक कार्य पूरा कर लिया गया है. अब चिंता की कोई बात नहीं है.

बगहा: भितहा प्रखंड अंतर्गत पीपी तटबंध पर कटावरोधी सुरक्षात्मक कार्य पूरा कर लिया गया है. पिछले सप्ताह गंडक नदी का जलस्तर कम होने के बाद पीपी तटबंध के 33 किमी पॉइंट पर कटाव होना शुरू हुआ था. जिसको लेकर ग्रामीणों में भय का माहौल था. अब फ्लड फाइटिंग का कार्य पूरा होने से प्रशासन सहित ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है. एसडीएम विशाल राज ने बताया कि फिलहाल चिंता की कोई बात नही है.

दरअसल पिछले महीना गंडक नदी का जलस्तर जब 4 लाख से ऊपर पहुंचने के बाद कम होना शुरू हुआ था तो पीपी तटबंध के 33 किमी पॉइंट पर चंदरपुर के पास दबाव बनने लगा था और गंडक नदी ने कटाव शुरू कर दिया था. जिसके बाद प्रशासन की चिंता बढ़ गई थी.

पीपी तटबंध पर पूरा हुआ सुरक्षात्मक कार्य
पीपी तटबंध पर पूरा हुआ सुरक्षात्मक कार्य

युद्ध स्तर पर किया गया कटावरोधी कार्य
पीपी तटबंध पर कटाव शुरू होते ही बांध किनारे बसे लोगों में हड़कंप मच गया था. हालांकि प्रशासन ने युद्ध स्तर पर एंटीरोजन कार्य शुरू कर दिया और अब तकरीबन दो हफ्ते बाद सुरक्षात्मक कार्य पूरे कर लिया गया है. बगहा अनुमंडल अधिकारी विशाल राज ने बताया कि गंडक नदी का जलस्तर कम होते ही कटाव शुरू हो गया था. जिस पर सुरक्षात्मक कार्य पूरा कर लिया गया है. अब चिंता की कोई बात नहीं है. उन्होंने कहा कि अभियंताओं की टीम वहां लगातार कैंप कर रही है और वस्तुस्थिति पर रखा रखा जा रहा है.

अलग-अलग जगहों पर हो रहा कटाव
दरअसल वर्ष 2017 में पीपी तटबंध के इसी पॉइंट पर बांध टूट गया था और भारी तबाही मची थी. पिछले वर्ष इस पॉइंट पर दबाव नही था. इससे 20 किमी आगे ठकराहां प्रखंड बिहार-यूपी सीमा पर भारी कटाव देखने को मिला. इस वर्ष एक बार फिर पीपी तटबंध के 33 किमी पॉइंट पर बार-बार कटाव का खतरा मंडरा रहा है. जिसको लेकर प्रशासन काफी चौकन्ना है और लगातार निगरानी रखी जा रही है. पिछले हफ्ते सीएम नीतीश कुमार ने भी इस इलाके का हवाई सर्वेक्षण किया था.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.