69th BPSC Prelims Exam संपन्न, परीक्षार्थियों से जानिए कैसा रहा पेपर..

author img

By ETV Bharat Bihar Team

Published : Sep 30, 2023, 5:24 PM IST

परीक्षार्थियों का फीडबैक

बिहार के 488 परीक्षा केंद्रों पर शनिवार को बीपीएससी प्रीलिम्स परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गई. राजधानी पटना में 35 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे. इस बार बीपीएससी प्रीलिम्स के पेपर कैसे, इस बारे में जानने के लिए परीक्षा हाॅल से निकली परीक्षार्थियों से हमने फीडबैक लिया है. पढ़ें पूरी खबर..

बीपीएससी परीक्षार्थियों से फीडबैक

पटना : 69वीं बीपीएससी प्रीलिम्स परीक्षा का आयोजन शनिवार को प्रदेशभर के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर दिन के 12:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक हुआ. दो बजे के बाद परीक्षा देकर निकले परीक्षार्थियों ने बताया कि इस बार पिछली बार की तुलना में क्वेश्चन का लेवल टफ रहा है. ई ऑप्शन हटाने से कन्फ्यूजन थोड़ा काम हुआ है, लेकिन स्टैंडर्ड सिविल सेवा परीक्षा का क्वेश्चन में दिखा है.

ये भी पढ़ें : BPSC 69th PT Exam: 488 केंद्रों पर बीपीएससी 69वीं पीटी परीक्षा खत्म, परीक्षार्थी बोले- क्वेश्चन का लेवल रहा टफ

ई ऑप्शन हटाने से कंफ्यूजन कम हुआ :बांकीपुर बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय से परीक्षा देकर निकलती परीक्षार्थी सौम्या राय ने कहा कि ई ऑप्शन हटाने से कंफ्यूजन कम हुआ है लेकिन क्वेश्चन टफ रहा. करंट अफेयर्स में बिहार और इंडिया दोनों से ठीक-ठाक क्वेश्चन थे लेकिन उन्हें साइंस के क्वेश्चन और इकोनॉमिक्स के कुछ प्रश्नों ने परेशान किया. वहीं रिद्धि ने कहा कि इकोनॉमिक्स के सवालों ने उन्हें परेशान किया. गणित से जुड़े सवालों की संख्या काफी कम थी. हिस्ट्री के सवाल अधिक थे. उनकी परीक्षा ठीक-ठाक गई है.

"क्वेश्चन काफी अच्छे थे और करंट अफेयर्स से काफी प्रश्न पूछे गए थे. हिस्ट्री में बिहार से जुड़े हुए प्रश्नों की संख्या अधिक थी. क्वेश्चन का स्टैंडर्ड टफ था. इकोनॉमिक्स के प्रश्न मॉडरेट लेवल के थे और उनकी परीक्षा काफी अच्छी गई है".- अंजलिना, परीक्षार्थी

भूगोल के सवालों ने किया परेशान : अब्दुल कलीम ने कहा कि उनकी परीक्षा अच्छी गई है. क्वेश्चन का लेवल थोड़ा टफ था, लेकिन सॉल्व करने में मजा आया. जिनलोगों ने अच्छे से तैयारी की होगी, उसे पेपर को सॉल्व करने में कोई कठिनाई नहीं आई होगी. प्रशांत कुमार ने कहा कि उन्हें जियोग्राफी के प्रश्नों ने परेशान किया. हिस्ट्री के अधिक प्रश्न थे और उसमें भी मॉडर्न हिस्ट्री से अधिक पूछे गए थे. करंट अफेयर्स में बिहार से जुड़े हुए सवालों की संख्या कम थी और सेंट्रल यानी इंडिया से जुड़े हुए सवालों की संख्या अधिक थी.

"बिहार से जुड़े हुए सवालों की संख्या अधिक थी और करंट अफेयर्स के प्रश्न अधिक थे. हिस्ट्री में बिहार से जुड़े हुए सवाल थे और सवाल ऐसे थे जो गहनता से पढ़ा होगा वही बन सकता है. इकोनॉमिक्स से जुड़े हुए सवालों ने उन्हें थोड़ा परेशान किया. राजनीतिक शास्त्र से भी सवाल कम थे."-धनंजय कुमार, परीक्षार्थी

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.